डायबिटीज में इंसुलिन उत्पादन रोकने वाले एंजाइम का पता लगा

एक शोध में उन एंजाइम का पता लगाया गया है जो इंसुलिन के उत्पादन को रोकते हैं जिससे डायबिटीज रोगियों में  शुगर नियंत्रित करने में समस्या होती है।

Anubha Tripathi
लेटेस्टWritten by: Anubha TripathiPublished at: May 27, 2014
डायबिटीज में इंसुलिन उत्पादन रोकने वाले एंजाइम का पता लगा

insullin in diabetesहाल ही में हुए शोध में सामने आया है कि डायबिटीज रोगियों में इंसुलिन बनाने से रोकने वाले एंजाइम का पता लगा लिया गया है। कनाडा स्थित मॉनट्रियाल यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने शरीर में मौजूद उस एंजाइम की पहचान कर ली है, जो अग्नाशय को इनसुलिन का उत्पादन बढ़ाने से रोकता है। इससे खून में शुगर का स्तर नियंत्रित रखने में दिक्कत होती है।

शोधकर्ता मार्क प्रेंटकी के मुताबिक खून में इंसुलिन का स्राव बीटा कोशिकाओं की ओर से फैट और ग्लूकोज को ऊर्जा में तब्दील करने की गति पर निर्भर करता है। अल्फा और बीटा हाइड्रोलेज डोमे-6 नाम का एंजाइम बीटा कोशिकाओं की क्रिया को बाधित करता है। इससे ये कोशिकाएं फैट और ग्लूकोज को ऊर्जा में तब्दील नहीं कर पातीं।

नतीजतन खून में इनसुलिन का स्राव घट जाता है और ग्लूकोज का स्तर बढ़ने से व्यक्ति डायबिटीज की चपेट में आ जाता है। प्रेंटकी की मानें तो नई खोज डायबिटीज के खात्मे में कारगर दवाओं और टीके के उत्पादन की उम्मीद जगाती है। फिलहाल डायबिटीज पीड़ितों को खून में इनसुलिन का स्तर काबू में रखने के इनसुलिन के इंजेक्शन का सहारा लेना पड़ता है।

 

Source मेडिकल नेट

 

Read More Health News In Hindi

Disclaimer