Expert

प्रेगनेंसी में देसी घी खाने से सेहत को मिलेंगे ये 5 फायदे

Desi Ghee in Pregnancy: प्रेगनेंसी में देसी घी खाना काफी फायदेमंद हो सकता है। अगर आप प्रेगनेंट हैं, तो अपनी डाइट में देसी घी शामिल कर सकती हैं। 

 
Written by: Updated at: Jan 22, 2023 11:00 IST
प्रेगनेंसी में देसी घी खाने से सेहत को मिलेंगे ये 5 फायदे

Desi Ghee Benefits in pregnancy: प्रेगनेंसी में महिलाओं को न सिर्फ अपनी हेल्थ, बल्कि आने वाले बच्चे की हेल्थ का भी ख्याल रखना होता है। इसलिए प्रेगनेंसी के दिनों में महिलाएं हेल्दी खाने को ही अपनी डाइट में शामिल करती हैं। प्रेगनेंसी में महिलाएं अकसर फलों, सब्जियों, नारियल पानी, दूध और अंडों का सेवन करती हैं। इसके अलावा प्रेगनेंसी में घी खाना भी बेहद फायदेमंद हो सकता है। आपको बता दें कि देसी घी विटामिन्स और मिनरल्स का काफी अच्छा सोर्स होता है। देसी घी में विटामिन ए, विटामिन डी, विटामिन ई और विटामिन के अधिक मात्रा में पाए जाते हैं। इसके अलावा देसी घी में ओमेगा 3 फैटी एसिड भी होता है। घी में चोट व दर्द को तेजी से ठीक करने वाले गुण होते हैं। कई बार प्रेगनेंसी में लिवर से जुड़ी दिक्कते होने लगती हैं, देसी घी इन समस्याओं को दूर करने में मदद कर सकता है। अगर आप प्रेगनेंट हैं, तो सही मात्रा में देसी घी का सेवन कर सकती हैं। लेकिन बहुत अधिक मात्रा में घी खाने से बचना चाहिए। इस लेख में आप न्यूट्रिशनिस्ट डॉक्टर सविता यादव से प्रेगनेंसी में देसी घी खाने से मिलने वाले फायदों के बारे में विस्तार से जानेंगे- 

प्रेगनेंसी में देसी घी खाने के फायदे- Desi Ghee Benefits During Pregnancy in Hindi 

प्रेगनेंसी में देघी घी खाने से महिलाओं और उसके बच्चे को कई फायदे मिलते हैं। आगे जानते हैं इन फायदों के बारे में।  

पाचन क्रिया को बेहतर बनाए 

प्रेगनेंसी में अधिकतर महिलाओं को पाचन से जुड़ी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। कब्ज और गैस इसमें सबसे आम हैं। ऐसे में देसी घी का सेवन करना फायदेमंद हो सकता है। देसी घी खाने से आंतों, कोलन और पाचन हेल्थ में सुधार होता है। अगर आप नियमित रूप से देसी घी का सेवन करेंगी, तो इससे आपका डाइजेशन बेहतर होगा। आपको गैस, कब्ज, अपच और एसिडिटी से आराम मिलेगा।

इसे भी पढ़ें :  प्रेगनेंसी में खाली पेट क्या खाना चाहिए और क्या नहीं? डायटीशियन से जानें सुबह के पहले आहार की पूरी जानकारी

Desi Ghee benefits in hindi

भूख बढ़ाने में मददगार  

प्रेगनेंसी में कई महिलाएं भूख कम लगने की शिकायत करती हैं। अगर आपको भी प्रेगनेंसी में भूख कम लग रही है, तो आप देसी घी को अपनी डाइट में शामिल कर सकती हैं। देसी घी पाचन तंत्र को बेहतर बनाने में मदद करता है। इससे मेटाबॉलिज्म भी बूस्ट होता है, जिससे आपकी भूख बढ़ सकती है।  

सूजन कम करे 

प्रेगनेंट महिलाओं के पैरों में सूजन भी देखने को मिलती है। देसी घी प्रेगनेंसी में होने वाली सूजन को भी कम करने में मदद करता है। दरअसल, देसी घी में ओमेगा 3 फैटी एसिड होता है, जो सूजन को कम करने में सहायक होता है। इसके लिए आप देसी घी को अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं या फिर देसी घी से सूजन वाली जगह की मालिश कर सकते हैं। इससे आपको काफी लाभ मिलेगा। 

कैलोरी की पूर्ति करने में सहायक 

प्रेगनेंसी में महिलाओं को अधिक कैलोरी की जरूरत होती है। लेकिन कई महिलाएं प्रेगनेंसी में भोजन से पर्याप्त कैलोरी नहीं ले पाती हैं। ऐसे में अगर डाइट में 3-4 चम्मच देसी घी को एड कर लिया जाता है, तो इससे कैलोरी की पूर्ति करने में मदद मिल सकती है। देसी घी से आपको अधिक मात्रा में प्रोटीन, विटामिन्स और मिनरल्स मिल सकते हैं। 

हड्डियां मजबूत बनाए 

प्रेगनेंसी में महिलाओं को जोड़ों और हड्डियों के दर्द से परेशान होना पड़ता है। जोड़ों और हड्डियों के दर्द से राहत पाने के लिए आप देसी घी को अपनी डाइट में एड कर सकती हैं। देसी घी में विटामिन डी और विटामिन के होते हैं। ये विटामिन्स हड्डियों को मजबूत बनाते हैं और दर्द को कम करने में मदद कर सकते हैं।  

इसे भी पढ़ें : प्रेगनेंसी में महिलाओं को नहीं खानी चाहिए ये 5 सब्जियां, झेलने पड़ सकते हैं कई तरह के नुकसान

प्रेगनेंसी में देसी घी खाने के तरीके 

  • देसी घी को आप कूकिंग ऑयल या खाने में ऊपर से डालकर भी खा सकते हैं।
  • देसी घी को रोटी पर लगाकर खाया जा सकता है।
  • आप देसी घी को दूध में मिलाकर भी पी सकती हैं।
  • अगर आप भी प्रेगनेंट हैं, तो अपनी डाइट में देसी घी को शामिल कर सकती हैं। देसी घी खाने से आपको पर्याप्त मात्रा में विटामिन्स, मिनरल्स मिलेंगे। इससे आपको ताकत मिलेगी और आप स्वस्थ महसूस करेंगे।

 

 

Disclaimer