गर्मी में सेहतमंद रहने और बेहतर पाचन के लिए दूध की चाय के बजाय पिएं ये 5 फ्लेवर्ड चाय, जानें फायदे और रेसिपी

अगर आप एक ही तरह की चाय पीकर ऊब गए हैं तो आज हम आपको बताने जा रहे हैं स्‍पेशल फ्लेवर्ड चाय बनाने का तरीका ज‍िसका जायका आप गर्म‍ियों में भी ले सकते हैं

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurUpdated at: Mar 26, 2021 14:12 IST
गर्मी में सेहतमंद रहने और बेहतर पाचन के लिए दूध की चाय के बजाय पिएं ये 5 फ्लेवर्ड चाय, जानें फायदे और रेसिपी

गर्मियों में फ्लेवर्ड चाय पीनी है? रोजाना एक जैसी चाय पीते-पीते बोर हो गए हैं तो हम आपको गर्मियों में स्‍पेशल फ्लेवर्ड टी बनाने का तरीका बताने जा रहे हैं। ये चाय टेस्‍टी तो हैं ही साथ ही आपकी सेहत के ल‍िए फायदेमंद भी हैं। गर्मियों में अक्‍सर तापमान के बढ़ने से कुछ तरल पीने का मन करता है और लालच में हम कोल्‍ड ड्र‍िंक या अनहेल्‍दी शेक पी लेते हैं ज‍िसमें बहुत सारी कैलोरीज होती हैं। आप गर्मी के द‍िनों में रोजमेरी चाय, केले की चाय, आम की आइस टी, ऑरेंज आइस टी, दालचीनी की चाय का स्‍वाद चखना न भूलें। आपको इन्‍हें पीकर शरीर में ताजगी का अहसास होगा साथ ही ये गर्मी के द‍िनों में आपको अपच, ज्‍यादा तापमान, स्‍क‍िन प्रॉब्‍लम आद‍ि से बचाएंगी। फ्लेवर्ड चाय को बनाने का तरीका बेहद आसान है। फ्लेवर्ड चाय के फायदे और इन्‍हें बनाने का तरीका जानने के ल‍िए हमने लखनऊ के वेलनेस डाइट क्‍लीन‍िक की डाइटीश‍ियन डॉ स्‍म‍िता सिंह से बात की। 

rosemary tea

1. गर्मियों में रोजमेरी टी पीने से नहीं होगी कब्‍ज की समस्‍या (Rosemary tea in  summers)

रोजमेरी टी से पाचन तंत्र अच्‍छा रहता है। गर्मियों के द‍िनों में कुछ भी खा लेने से अपच और गैस की समस्‍या होने लगती है, इससे बचने का आसान तरीका है आप रोजमेरी की चाय प‍िएं। इससे कब्‍ज, दस्‍त जैसी श‍िकायत दूर होती है। एंटी-स्‍पास्‍मोड‍िक और कार्मि‍नेट‍िव गुण होते हैं इसल‍िए ये डाइजेशन के ल‍िए अच्‍छी है। रोजमेरी में द‍िन में आप 2 बार ये चाय प‍िएं तो आराम म‍िलेगा। रोजमेरी की चास फ्री रेड‍िकल्‍स को खत्‍म करती है ज‍िससे लीवर साफ होता है। अगर आपको गर्मी के द‍िनों में डैंड्रफ की श‍िकायत है तो भी आप रोजमेरी टी का सेवन कर सकते हैं क्‍योंक‍ि रोजमेरी में एंटी-फंगल और एंटी-बैक्‍टीर‍ियल गुण पाए जाते हैं। रोजमेरी टी में सैल‍िसेल‍िक एस‍िड भी होता है ये स्‍क‍िन को गर्मियों में इंफेक्‍शन से बचाता है। 

रोजमेरी टी बनाने का तरीका 

  • 1. रोजमेरी की चाय बनाने के ल‍िए रोजमेरी की पत्‍त‍ियों को धोकर रख लें। 
  • 2. पत्‍त‍ियों को गरम पानी में डालें और उबाल आने दें। 
  • 3. कप में पानी न‍िकाल लें और उसमें शहद म‍िलाकर प‍िएं। 
  • 4. आप चाहें तो इसमें इलाइची या लौंग भी डालकर पी सकते हैं। 

2. केले के छ‍िलके को फेकें नहीं, बनेगी स्‍वाद‍िष्‍ट चाय (Banana ice tea in summers)

banana tea

केले में एंटीऑक्‍सीडेंट्स, डोपामाइन मौजूद होते हैं ज‍िससे हॉर्ट ड‍िसीज का खतरा कम हो जाता है। केले के छ‍िलके में एंटी-ऑक्‍सीडेंट की मात्रा ज्‍यादा होती है इसल‍िए इस छ‍िलके को फेंकने की बजाय इससे आप टेस्‍टी और हेल्‍दी चाय बना सकते हैं। इस छ‍िलके की चाय बनाने से आपकी बॉडी में एंटी-ऑक्‍सीडेंट्स की मात्रा बढ़ जाएगी और आपको आलस या थका हुआ महसूस नहीं होगा। केले की चाय में पोटैश‍ियम और इलेक्‍ट्रोलाइट की अच्‍छी मात्रा होती है इसल‍िए आपको गर्मियों में इसका सेवन करना चाह‍िए। इससे ब्‍लोट‍िंग या हाई ब्‍लड प्रेशर जैसी समस्‍या नहीं होगी। केले की चाय पीने से नींद भी अच्‍छी आती है, अगर आपको गर्मी के द‍िनों में अन‍िंद्रा की समस्‍या है तो केले की चाय प‍िएं। इसके अलावा केले की चाय में कैलोरी की मात्रा न के बराबर होती है इसल‍िए डायबिटीज के मरीज भी इसे पी सकते हैं। 

केले की चाय बनाने का तरीका 

  • 1. केले की चाय बनाने के ल‍िए एक बर्तन में पानी उबलने के ल‍िए रख दें। 
  • 2. उसमें केले का छ‍िलका डाल दें। 
  • 3. 2 म‍िनट बाद गैस बंद कर दें। 
  • 4. पानी को कप में न‍िकालकर उसमें शहद म‍िलाएं। 
  • 5. बनाना टी तैयार है, इसमें सीड्स डालकर भी पी सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें- वजन घटाने, डायिबिटीज और स्ट्रेस को दूर करने में मददगार है ओलोंग टी, जानें सेहत के लिए 5 फायदे

3. ऑरेंज आइस टी से बेहतर होगा डाइजेशन (Orange ice tea in summers)

गर्म‍ियों के द‍िनों में फ्रेश ऑरेंज आइस टी का ख्‍याल कैसा रहेगा। आप गर्मी में कोई अच्‍छी ड्र‍िंक बनाने का सोच रहे हैं तो इस बार ऑरेंज आइस टी ट्राय करें। इससे आपकी इम्‍यून‍िटी भी अच्‍छी रहेगी और द‍िमाग और बॉडी में भी पूरे द‍िन ताजगी रहेगी। आप हॉट ऑरेंज टी भी बना सकते हैं पर कुछ लोग गर्म‍ियों में आइस टी ज्‍यादा पसंद करते हैं। ऑरेंज में व‍िटाम‍िन सी होता है, ये आपकी स्‍क‍िन को हेल्‍दी तो रखता ही साथ ही आपकी रोग प्रत‍िरोधक क्षमता भी बढ़ाता है। ऑरेंज टी में संतरे का छ‍िलका भी इस्‍तेमाल क‍िया जाता है इसल‍िए ये चाय पॉलीफ‍िनॉल से र‍िच होती है ज‍िससे डायबिटीज, मोटापा, अल्‍जाइमर जैसी क्रान‍िक बीमार‍ियां नहीं होतीं। अगर आप इस चाय को प‍िएंगे तो डाइजेशन अच्‍छा रहेगा। संतरे के छ‍िलके में फाइबर, व‍िटाम‍िन सी, प्रोव‍िटाम‍िन ए, फोलेट, व‍िटाम‍िन बी6, कैल्‍श‍ियम भी पाया जाता है तो सोच‍िए ये आपकी सेहत के ल‍िए क‍ितनी लाभदायक होगी। 

ऑरेंज आइस टी बनाने का तरीका

  • 1. ऑरेंज आइस टी बनाने के ल‍िए पैन में पानी को गरम करें। 
  • 2. गरम पानी में ऑरेंज पील डालें और उबाल आने दें। 
  • 3. जब पानी ठंडा हो जाए तो उसे गिलास में न‍िकालें। 
  • 4. इसमें ऑरेंज जूस म‍िलाएं, म‍िंट लीफ एड करें और लेमन जूस म‍िलाएं। 
  • 5. ठंडा करने के लिए फ्र‍िज में रखकर आध‍े घंटे बाद पी लें। 

4. गर्मियों में शरीर का तापमान कम रखे दालचीनी की चाय (Cinnamon tea in summers)

cinnamon tea

दालचीनी मसाले का इस्‍तेमाल हम क‍िचन में करते हैं पर इससे हम लाजवाब चाय बना सकते हैं जो गर्मी के द‍िनों में अलग फ्लेवर देने के साथ सेहत के ल‍िए हेल्‍दी होगी। एक स्‍टडी के मुताब‍िक दालचीनी के सेवन से बॉडी का तापमान 2 ड‍िग्री तक कम हो सकता है क्‍योंक‍ि दालचीनी की चाय पीने से शरीर में कॉर्बन की मात्रा कम होती है। दालचीनी के सेवन से गैस्‍ट्र‍िक समस्‍या भी दूर होती है। दालचीनी की चाय हॉर्ट हेल्‍थ के ल‍िए भी अच्‍छी मानी जाती है। इससे कोलेस्‍ट्रॉल लेवल भी कंट्रोल में रहता है। ज‍िन लोगों को डायब‍िटीज है वो भी दालचीनी की चाय पी सकते हैं क्‍योंक‍ि दालचीनी के सेवन से शुगर लेवल कंट्रोल रहता है। दालचीनी की चाय पीने से वजन भी कम होता है। गर्मी के द‍िनों के ल‍िए ये एक अच्‍छी ड‍िटॉक्‍स ड्र‍िंक है। दालचीनी एंटी-बैक्‍टीर‍ियल और एंटी-फंगल मानी जाती है। अगर आपके मुंह से बदबू आती है तो भी आप दालचीनी की चाय प‍िएं तो फायेदा होगा। 

दालचीनी की चाय बनाने का तरीका 

  • 1. दालचीनी की चाय बनाने के ल‍िए दालचीनी को बर्तन में डालें। 
  • 2. 2 कप पानी डालें और पानी आधा होने तक उबालें। 
  • 3. पानी उबलने के बाद गैस बंद कर दें उसमें नींबू और म‍िठास के ल‍िए स्‍ट्राबेरी डाल सकते हैं। 
  • 4. आपकी ताजा दालचीनी की चाय तैयार है। 

इसे भी पढ़ें- पुदीने की चाय के सेवन से सेहत को मिलते हैं ये 12 फायदे, एक्सपर्ट से जानें इसके नुकसान भी

5. गर्मियों में प‍िएं ठंडी-ठंडी मैंगो आइस टी (Mango ice tea in summers)

mango ice tea

गर्मी के द‍िन आ गए हैं, इस मौसम में आप सब आम का बेसब्री से इंतजार कर रहे होंगे। इस बार आप आने पर आप उनका मैंगो शेक बनाने की बजाय मैंगो टी बनाकर देख‍िए। मैंगो आइस टी में एंटी-ऑक्‍सीडेंट्स की भरपूर मात्रा होती है इसल‍िए आप इसे गर्म‍ियों में कई बार पी सकते हैं। मैंगो शेक पीने से वजन बढ़ता है पर इस ड्र‍िंक में आम का फ्लेवर होता है और इसमें कैलोरीज भी ज्‍यादा नहीं होतीं इसल‍िए आप इसे बि‍ना टेंशन के पी सकते हैं। मैंगो आइस टी डायब‍िटीज के मरीज भी पी सकते हैं। अगर आपको ब्‍लड प्रेशर की श‍िकायत है तो भी आपको मैंगो टी पीनी चाह‍िए। मैंगो टी पीनी से ब्‍लड प्रेशर का खतरा नहीं रहता क्‍योंक‍ि ये ब्‍लड वेसेल्‍स को बेहतर बनाता है। आप चाहें तो मैंगो हॉट टी भी तैयार कर सकते हैं।

मैंगो आइस टी बनाने का तरीका 

  • 1. मैंगो आइस टी बनाने के ल‍िए आम के गूदे को न‍िकालकर अलग कर लें। 
  • 2. अब पानी को गरम करें और उसमें आम का गूदा म‍िलाकर उबालें। 
  • 3. पानी उबल जाने पर उसे छानकर ग‍िलास में न‍िकाल लें। 
  • 4. पानी में म‍िंट लीफ, बर्फ, लेमन जूस एड करके पिएं। 

इन फ्लेवर्ड चाय को आप गर्मी के द‍िनों में कभी भी बनाकर पी सकते हैं, इनमें कैलोरीज की मात्रा न के बराबर है। वैसे तो ड्रिंक्‍स में ज्‍यादातर चीनी म‍िलाई जाती है पर अच्‍छी सेहत के ल‍िए आप इन ड्र‍िंक्‍स में चीनी को पूरी तरह से अवॉइड करें। फलों की नैचुरल स्‍वीटनेस इस्‍तेमाल कर सकते हैं पर ऊपर से चीनी न डालें नहीं तो चाय हेल्‍दी नहीं रहेगी। 

Read more on Healthy Diet in Hindi 

Disclaimer