Doctor Verified

रूट कैनाल के बाद क‍ौन सी सावधान‍ियां बरतनी हैं जरूरी? जानें डॉक्‍टर से

Root Canal Treatment: दांतों में सड़न का उपचार करने के ल‍िए रूट कैनाल प्रक्र‍िया की मदद लेते हैं। जानते हैं रूट कैनाल से जुड़ी जरूरी सावधान‍ियां।  

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurUpdated at: Nov 15, 2022 14:50 IST
रूट कैनाल के बाद क‍ौन सी सावधान‍ियां बरतनी हैं जरूरी? जानें डॉक्‍टर से

Root Canal Treatment in Hindi: दांतों में सड़न का इलाज करने के ल‍िए रूट कैनाल ट्रीटमेंट की मदद ली जाती है। दांत की ऊपरी सतह में सड़न हो, तो उसे फि‍ल‍िंग की मदद से ठीक कर द‍िया जाता है। लेक‍िन सड़न जब पल्‍प तक पहुंच जाती है, तो स्‍थि‍त‍ि ब‍िगड़ सकती है। दांत में सड़न के कारण दर्द होता है और कुछ भी खाने में तकलीफ होती है। समय के साथ समस्‍या बढ़ सकती है। दांत को रूट कैनाल की मदद से ठीक‍ क‍िया जा सकता है। आगे हम जानेंगे रूट कैनाल से जुड़ी जानकारी जैसे प्रक्र‍िया, खर्चा, सावधान‍ियां आद‍ि। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के केयर इंस्‍टिट्यूट ऑफ लाइफ साइंसेज की एमडी फ‍िजिश‍ियन डॉ सीमा यादव से बात की।   

root canal treatment

रूट कैनाल क्या होता है?- What is Root Canal

रूट कैनाल एक डेंटल प्रक्र‍िया है ज‍िसका इस्‍तेमाल दांतों के बीच होने वाले संक्रमण को ठीक करने के ल‍िए क‍िया जाता है। क‍िसी चोट के कारण दांत को नुकसान होने पर या दांत र‍िसने या सड़न होने की स्‍थ‍ित‍ि में रूट कैनाल क‍िया जाता है। रूट कैनाल में कम से कम एक या दो स‍िट‍िंग लग सकती है। ज्‍यादा दांतों का उपचार होना है, तो समय ज्‍यादा लगेगा। पहली स‍िट‍िंग में 30 से 40 म‍िनट लग सकते हैं।

रूट कैनाल उपचार- Root Canal Treatment 

  • दांत और आसपास के ह‍िस्‍से को सुन्न कर देते हैं।
  • सड़न वाले दांत के ऊपरी ह‍िस्‍से को ड्र‍िल करके कैनाल खोल द‍िया जाता है। 
  • दांत में मौजूद पल्‍प या कैव‍िटी को हटाया जाता है। फ‍िर डॉक्‍टर कैनल्‍स को साफ करते हैं।
  • पूरे कैनाल की सफाई की जाती है। फ‍िर दांत को फ‍िल‍िंग की मदद से सील कर द‍िया जाता है। 
  • डॉक्‍टर एंटीबायोट‍िक से उस खाली जगह को भर देते हैं ताक‍ि संक्रमण न हो।  
  • रूट कैनाल ट्रीटमेंट के बाद कैप या क्राउन लगवाना जरूरी होता है। क्राउन न लगने से दांत टूट सकता है।

रूट कैनाल के बाद जरूरी सावधानियां- Precautions After Root Canal

1. रूट कैनाल के बाद ड्राई फ्रूट्स, कड़क चीजें, खट्टे फल, ब‍िस्‍क‍िट और पान-सुपारी आद‍ि चीजों का सेवन न करें।  

2. रूट कैनाल के बाद दांतों की सफाई और ओरल हेल्‍थ पर ध्‍यान दें। मुंह को बैक्‍टीर‍िया मुक्‍त रखने के ल‍िए कुछ भी खाने के बाद कुल्‍ला करें।

3. दांत में दर्द, फोड़ा या अन्‍य कोई असामान्‍य लक्षण नजर आने पर ब‍िना देरी क‍िए डॉक्‍टर से संपर्क करें।

4. रूट कैनाल के बाद दांतों में खाना फंसने से सूजन या दर्द हो सकता है इसल‍िए डेंटल फ्लॉस का इस्‍तेमाल कर सकते हैं।

5. रूट कैनाल के बाद दांत को बार-बार छूने से बचें। इससे कैप‍िंग न‍िकल सकती है या दर्द महसूस हो सकता है।    

इसे भी पढ़ें- रूट कैनाल के बाद सूजन के पीछे हो सकते हैं ये 3 कारण, जानें इसे दूर करने के उपाय

रूट कैनाल के बाद कैपिंग- Capping After Root Canal 

जैसा क‍ि आपको ऊपर बताया गया है क‍ि रूट कैनाल के बाद कैप‍िंग जरूरी होता है। कैप‍िंग न लगवाने से दांत में दोबारा सड़न हो सकती है और ट्रीटमेंट का असर ज्‍यादा द‍िनों तक नहीं ट‍िक पाएगा। इसे लगवाए ब‍िना रूट कैनाल का ट्रीटमेंट अधूरा माना जाता है। दांत में कैप या क्राउन लगाने के ल‍िए उसे ठीक आकार द‍िया जाता है ताक‍ि कैप, दांत पर फ‍िट हो जाए। कैप‍िंग कई सालों तक सुरक्ष‍ित रह सकती है। सही और सुरक्ष‍ित कैप‍िंग की जानकारी अपने डेंट‍िस्‍ट से लें।

रूट कैनाल का खर्च- Root Canal Cost 

रूट कैनाल का खर्च सरकारी अस्‍पताल में ज्‍यादा सस्‍ता होता है। सरकारी अस्‍पताल में एक से दो हजार रूपए लग सकते हैं। प्राइवेट अस्‍पतालों में रूट कैनाल का खर्च तीन से पांच हजार रूपए होता है। प्राइवेट क्‍लीन‍िक में एक दांत का रूट कैनाल का खर्च छह से सात हजार हो सकता है।

क्या रूट कैनाल पेनफुल होता है?- Root Canal is Painful or Not

रूट कैनाल के दौरान व्‍यक्‍त‍ि को एंटीडोट और एनेस्‍थ‍िस‍िया द‍िया जाता है। रूट कैनाल के दौरान दर्द न के बराबर होता है। हालांक‍ि आपको बता दें क‍ि रूट कैनाल के बाद दर्द हो सकता है ज‍िसे कंट्रोल करने के ल‍िए डॉक्‍टर दवा देते हैं। रूट कैनाल के दौरान गलत खा लेने से या गलत प्रभाव से दर्द महसूस हो सकता है। 

रूट कैनाल के नुकसान- Root Canal Side Effects 

रूट कैनाल करवाने से नुकसान नहीं होते लेक‍िन कुछ दुष्‍प्रभाव नजर आ सकते हैं। जैसे-   

  • रूट कैनाल के दौरान संक्रमि‍त मशीन या सामग्री के कारण संक्रमण होता है और दर्द उठ सकता है। 
  • रूट कैनाल के दौरान कुछ लोगों के दांत में संक्रमण के कारण फोड़ा बन जाता है।
  • ठीक से रूट कैनाल न करने के कारण दांत की जड़ में दरार आ सकती है।

रूट कैनाल के बाद दर्द और सूजन से बचाव 

रूट कैनाल के बाद दर्द होने पर न‍िम्‍न तरीके आजमाएं- 

  • सबसे पहले डॉक्‍टर से सलाह लें, वो आपको सही दवा दे सकते हैं। 
  • रूट कैनाल के बाद कुछ द‍िन केवल नरम चीजों का सेवन करें। 
  • ध्‍यान से ब्रश करें। रूट कैनाल वाले दांत को छूने से बचें।     
  • रूट कैनाल के बाद बर्फ या कोल्‍ड कंप्रेस का इस्‍तेमाल करें। 

उम्‍मीद करते हैं क‍ि आपको कैनाल से जुड़ी जानकारी पसंद आई होगी। लेख को शेयर करना न भूलें। दांतों में कोई भी समस्‍या होने पर डेंट‍िस्‍ट से संपर्क करें। दांतों की सफाई पर भी गौर करें।

Disclaimer