कभी न खाएं केला और पपीता एक साथ, एक्सपर्ट से जानें क्यों नुकसानदायक है ये कॉम्बिनेशन

पपीता स्वास्थ्य के लिए कई तरह से फायदेमंद होता है। वहीं, केला भी स्वास्थ्य के लिए लाभकारी होता है। लेकिन क्या इन दोनों को एक साथ खा सकते हैं?

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraPublished at: Mar 08, 2022Updated at: Mar 08, 2022
कभी न खाएं केला और पपीता एक साथ, एक्सपर्ट से जानें क्यों नुकसानदायक है ये कॉम्बिनेशन

पपीता एक ऐसा फल है, जो कई महत्वपूर्ण पोषक तत्वों से भरपूर होता है। इतना ही नहीं, यह कहीं भी बहुत ही आसानी से मिलने वाला फल भी है। नियमित रूप से पपीते के सेवन से पेट की सभी समस्याओं को दूर करने में मदद मिलती है। इसके साथ ही यह कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में भी काफी मददगार माना जाता है। इसका सेवन कच्चा और पका दोनों ही रूपों में फायदेमंद होता है। वहीं, केले की बात की जाए, तो केला भी कई महत्वपूर्ण पोषक तत्वों से भरपूर होता है। इसके सेवन से आपके शरीर को भरपूर रूप से पोटैशियम प्राप्त होता है, जो मसल्स को मजबूत बनाए रखने में आपकी मदद कर सकते हैं। लेकिन क्या केला और पपीता का एक साथ सेवन किया जा सकता है? केला और पपीता का एक साथ सेवन करने से क्या होता है? इस बारे में आज हम न्यूट्रीडाइट क्लीनिक की डायटीशियन प्रीति श्रीवास्तव से बात करेंगे कि केला और पपीता के एक साथ सेवन करने से शरीर पर कैसा असर पड़ता है?

क्या केला और पपीता का एक साथ सेवन किया जा सकता है?

डायटीशियन का कहना है कि केला और पपीता का सेवन एक साथ करना फायदेमंद है या नहीं, यह आपकी पाचन क्रिया पर निर्भर करता है। कुछ लोगों की पाचन शक्ति कमजोर होती है। ऐसे में अगर वे केला और पपीता का सेवन एक साथ करते हैं, तो उनकी परेशानी बढ़ सकती है। वहीं, कुछ लोगों को इससे परेशानी का अनुभव नहीं होता है।

 

हालांकि, ध्यान रखें कि आयुर्वेद के मुताबिक, केला और पपीता एक-दूसरे के विरोधी फल माने जाते हैं। ऐसे में आयुर्वेद में इन्हें एक साथ न खाने की सलाह दी जाती है। इनका एक साथ सेवन करने से पाचन तंत्र से जुड़ी परेशानी हो सकती है। अगर आप केला और पपीता का एक साथ सेवन अधिक मात्रा में करते हैं, तो इससे अपच, उल्टी, जी मिचलाना, गैस और बार-बार सिरदर्द होना जैसी समस्या हो सकती है। 

इसे भी पढ़ें - पपीता खाने से महिलाओं को मिलते हैं ये 5 फायदे, कई समस्याएं होती हैं दूर

इन लोगों को नहीं खाना चाहिए पपीता और केला

  • एक्सपर्ट का मनाना है कि इस कॉम्बिनेशन के अलावा अस्थमा या फिर सांस से जुड़ी परेशानी होने पर पपीता का सेवन डॉक्टर की सलाह पर ही करनी चाहिए। दरअसल, पपीते में पपैन नामक तत्व होता है, जिससे कुछ लोगों को एलर्जी की शिकायत होती है। ऐसेे में पपीता का सेवन करने से सांस लेने की परेशानी बढ़ सकती है। साथ ही केला और पपीता एक साथ तो बिल्कुल भी सेवन न करें। इससे आपकी परेशानी और अधिक बढ़ सकती है।
  • गर्भवती महिलाओं को पपीता का सेवन न करने की सलाह दी जाती है। ऐसे में पपीता और केले का कॉम्बिनेशन भी आपके लिए सही नहीं हो सकता है। 
  • पीलिया रोगियों को भी पपीता न खाने की सलाह दी जाती है। दरअसल, इसमें मौजूद पपैन और बीटा कैरोटीन पीलिया की समस्याओं को बढ़ा सकता है। जिससे घाव जल्दी नहीं भरते हैं। 
  • पपीता और केला का सेवन एक साथ करने से पेट की गड़बड़ी बढ़ सकती है। इससे आपको पेट में दर्द, ऐंठन और डायरिया जैसी परेशानी हो सकती है। 
  • सर्दी-जुकाम जैसी परेशानी होने पर शाम के समय केला खाने से बचेंं। इससे आपकी परेशानी बढ़ सकती है। 
  • शरीर में पोटैशियम की अधिकता होने पर केले का सेवन न करें। इससे शरीर में कई गंभीर समस्याएं होने की आशंका होती है।
 
पपीता और केला का सेवन सेहत के लिए नुकसानदेय हो सकता है। इसलिए ध्यान रखें कि इन फलों के कॉम्बिनेशन का सेवन न करें। आयुर्वेद में इस तरह के फलों का सेवन शरीर के लिए घातक बताए गए हैं। खासतौर पर अगर आप किसी समस्या से पहले से ग्रसित है, तो इस तरह के कॉम्बिनेशन का सेवन करने से बचें।
Disclaimer