कच्चा पपीता खाने के हो सकते हैं कई नुकसान, एक्सपर्ट से जानें इनके बारे में

कच्चा पपीता स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद हो सकता है। लेकिन अधिक मात्रा में इसका सेवन नुकसानदेय हो सकता है। आइए जानते हैं इसके बारे में-

 

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraPublished at: Feb 17, 2022Updated at: Feb 17, 2022
कच्चा पपीता खाने के हो सकते हैं कई नुकसान, एक्सपर्ट से जानें इनके बारे में

पपीता स्वास्थ्य (Papaya Benefits) के लिए काफी फायदेमंद होता है। इससे कई तरह की परेशानियां जैसे- पेट संबंधी समस्याएं, मोटापा इत्यादि को कम किया जा सकता है। हम में से कई लोग पका हुआ पपीता खाते हैं। लेकिन कुछ लोग कच्चे पपीते का भी सेवन करते हैं। डायट मंत्रा क्लीनिक की डायटीशियन कामिनी कुमारी का कहना है कि कच्चा पपीता भी स्वास्थ्य के लिहाज से कई तरह से फायदेमंद होता है। इसमें (Raw Papaya Nutrition) विटामिन ए, विटामिन बी, विटामिन सी, विटामिन ई, पोटैशियम, मैग्नीशियम जैसे कई आवश्यक पोषक तत्व पाए जाते हैं। यह सभी पोषक तत्व स्वास्थ्य के लिए कई तरह से फायदेमंद हो सकते हैं। लेकिन अगर आप काफी मात्रा में कच्चे पपीते का सेवन करते हैं, तो यह आपके स्वास्थ्य को नुकसान भी भी पहुंचा सकता है। जी हां, कुछ लोगों को डॉक्टर कच्चा पपीता न खाने (Raw Papaya Side Effects) की सलाह देते है। आइए जानते हैं कच्चा पपीता खाने के नुकसान ( Kacha Papita Khane Ke Nuksan In Hindi ) के बारे में- 

कच्चा पपीता खाने के नुकसान ( Raw Papaya Side Effects ) 

कच्चा पपीता स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद होता है, लेकिन अधिक मात्रा में कच्चा पपीता खाने से स्वास्थ्य को नुकसान भी हो सकता है। आइए जानते हैं इसके बारे में-

गर्भवती महिलाएं

डायटीशियन का कहना है कि कच्चा पपीता गर्भवती महिलाओं को न खाने की सलाह दी जाती है। दरअसल, कच्चे पपीते में पपैन नाम पदार्थ होता है, जो एक प्रोटीयोलाइटिक एंजाइम है। यह गर्भाशय के संकुचन का कारण बनता है। ऐसे में गर्भवती महिलाएं अगर कच्चे पपीते का सेवन करती हैं, तो गर्भपात का खतरा बढ़ता है। ऐसे में कई डॉक्टर और डायटीशियन गर्भावस्था में कच्चा पपीता न खाने की सलाह देते हैं। हालांकि, इस दौरान आप पका हुआ पपीता खा सकते हैं। लेकिन जरूरत से ज्यादा न खाएं।

इसे भी पढ़ें - डायबिटीज में पपीता खा सकते हैं या नहीं? एक्सपर्ट से जानें शुगर में पपीता खाने के फायदे और नुकसान

पाचन संबंधी परेशानी

कच्चा पपीता पाचन के लिए फायदेमंद होता है। लेकिन अगर आप काफी ज्यादा मात्रा में पपैन का सेवन करते हैं, तो यह पाचन संबंधी परेशानी उत्पन्न कर सकता है। इसलिए सीमित मात्रा में कच्चे पपीते का सेवन करें। ताकि पाचन को दुरुस्त रखा जा सके। 

मतली- उल्टी

डायटीशियन कामिनी कुमारी बताती हैं कि कच्चा पपीता खाने से पतली और उल्टी की परेशानी हो सकती है। दरअसल, कच्चे पपीते में लेटेक्स होता है, जिसमें पपैन नामक एंजाइम होता है। बड़ी मात्रा में पपैन का सेवन करने से अन्नप्रणाली (esophagus) को नुकसान हो सकता है। जिससे आपको मतली और उल्टी की शिकायत हो सकती है। 

अस्थमा की समस्याएं

अस्थमा से जूझ रहे रोगियों को कच्चा पपीता का अधिक सेवन न करने की सलाह दी जाती है। दरअसल, कच्चा पपीता ज्यादा मात्रा में खाने से घरघराहट (wheezing) जैसी समस्याएं  हो सकती हैं। इसलिए अधिक मात्रा में कच्चे पपीता का अस्थमा रोगियों के लिए नुकसानदेय हो सकता है।

एलर्जी की समस्याएं

कच्चे पपीते में पपेन होता है, जिससे कुछ लोगों को एलर्जी (Allergy) होने की संभावना बनी रहती है। अगर आप ज्यादा मात्रा में कच्चा पपीता खाते हैं, तो आपको (papaya allergy symptoms) सूजन, सिरदर्द, रैशेज, चक्कर आना जैसी परेशानी हो सकती है। 

इसे भी पढ़ें - पपीता किसे नहीं खाना चाहिए: इन 5 तरह के लोगों के लिए नुकसानदायक हो सकता है पपीते का सेवन

कच्चा पपीता स्वास्थ्य के लिए कई तरह से फायदेमंद हो सकता है। लेकिन ध्यान रखें कि अधिक मात्रा में कच्चे पपीते का सेवन न करें। इससे आपके स्वास्थ्य पर विपरीत असर पड़ सकता है। वहीं, अगर आप गर्भवती हैं, तो पपीते के सेवन डॉक्टर की सलाह पर ही करें। साथ ही कच्चे पपीते के सेवन से परहेज करें। ताकि आप और आपका बच्चा सुरक्षित रह सके।

Disclaimer