रोज करें ये 3 ब्रीदिंग एक्सरसाइज, फेफड़े बनेंगे मजबूत और ब्लड सर्कुलेशन होगा तेज

स्वस्थ रहने के लिए फेफड़ों का हेल्दी रहना बहुत जरूरी होता है। साथ ही ब्लड सर्कुलेशन भी सही रहना चाहिए। 

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: Aug 06, 2022Updated at: Aug 06, 2022
रोज करें ये 3 ब्रीदिंग एक्सरसाइज, फेफड़े बनेंगे मजबूत और ब्लड सर्कुलेशन होगा तेज

Breathing Exercises for Lungs:  फेफड़े हमारे शरीर के सबसे जरूरी अंगों में से एक होते हैं। जीने के लिए सांस लेना बहुत जरूरी होता है और सांस लेने के लिए फेफड़ों का स्वस्थ होना जरूरी होता है। लेकिन कई बार प्रदूषण, धूल-मिट्टी की वजह से फेफड़ों से संबंधित रोग होने लगता है। जिस तरह से स्वस्थ रहने के लिए फेफड़ों का हेल्दी रहना जरूरी होता है, ठीक उसी तरह शरीर में ब्लड सर्कुलेशन का बेहतर रहना भी जरूरी होता है। अगर आप अपने फेफड़ों को मजबूत और ब्लड सर्कुलेशन को ठीक रखना चाहते हैं, तो कुछ ब्रीदिंग एक्सरसाइज कर सकते हैं। ब्रीदिंग एक्सरसाइज की मदद से आप हमेशा स्वस्थ रह सकते हैं। 

1. अनुलोम-विलोम 

फेफड़ों को स्वस्थ बनाए रखने के लिए अनुलोम-विलोम करना काफी फायदेमंद होता है। इसके साथ ही इस एक्सरसाइज को करने से ब्लड सर्कुलेशन भी तेज होता है। अगर आप हमेशा हेल्दी रहना चाहते हैं, तो रोजाना अनुलोम-विलोम कर सकते हैं। 

  • अनुलोम-विलोम करने के लिए सबसे पहले आप किसी शांत जगह पर आरामदायक अवस्था में बैठ जाएं।
  • इसके बाद दाहिने अंगूठे से अपने दाहिने नथुने को बंद करें और बांए नथुने से सांस लें।
  • इसके बाद दाएं नथुने को छोड़ दें।
  • इसी के सात अपनी मध्यमा और अनामिका उंगुली से बाएं नथुने को दाएं नथुने से सांस छोड़ते हुए बंद कर दें। अब दाएं नथुने से सांस लें।
  • इसके बाद पहले जैसा ही करें और अंगूठे को दाएं नथुने पर रख दें। 
  • आप ऐसा लगातार 10 मिनट तक कर सकते हैं। 

2. भ्रामरी प्राणायाम

भ्रामरी के अभ्यास से भी आप अपने फेफड़ों को मजबूत बना सकते हैं। नियमित रूप से भ्रामरी रने से शरीर में रक्त का प्रवाह भी बेहतर होता है। भ्रामरी प्राणायाम को इस तरह से किया जा सकता है- 

  • इस ब्रीदिंग एक्सरसाइज को करने के लिए आप आरामदायक अवस्था में बैठ जाएं।
  • अपने दोनों अंगूठों से दोनों कानों को बंद कर लें।
  • इसके बाद अपने मध्यमा और अनामिक उंगुली को आंखों के कोने पर हल्के से रखें।
  • तर्जनी उंगुली को भौहों के ऊपर रखें।
  • छोटी उंगुली को अपने गालों पर रखें और फिर लंबी सांस लें।
  • सांस छोड़ते हुए हम्म्म्म्म की ध्वनि निकालें।
  • आप इसका अभ्यास 5-8 मिनट तक लगातार कर सकते हैं।

3. कपालभाति 

कपालभाति न सिर्फ पेट के रोग भगाता है, बल्कि संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है। कपालभाति करने से फेफड़े मजबूत बनते हैं और शरीर में ब्लड फ्लो भी तेज होता है। 

  • कपालभाति करने के लिए आप ध्यान मुद्रा में बैठ जाएं।
  • अपनी आंखों को बंद करें और शरीर को ढीला छोड़ दें।
  • इसके बाद अपने दोनों नोस्ट्रिल से सांस लें और पेट को फूलाएं। 
  • पेट को अंदर ले जाते हुए सांस छोड़ दें। 
  • अब इस प्रक्रिया को बार-बार दोहराएं।
  • आप रोजाना कपालभाति का अभ्यास 10 मिनट तक कर सकते हैं। 

इनके अलावा भस्त्रिका प्राणायाम से भी फेफड़ों को मजबूत बनाया जा सकता है। इन ब्रीदिंग एक्सरसाइज के साथ ही आपको अपनी डाइट का भी खास ख्याल रखना चाहिए।

Disclaimer