Blood Purifying Yoga: नैचुरली खून साफ करने में मदद करते हैं ये 3 योगासन, जानें अभ्यास का तरीका

Yoga For Purifying Blood In Hindi: खून को साफ करने के लिए लोग तरह-तरह टॉनिक पीते हैं, नैचुरली खून साफ करने के लिए करें ये 3 योगासन।

Vineet Kumar
Written by: Vineet KumarPublished at: Aug 04, 2022Updated at: Aug 04, 2022
Blood Purifying Yoga: नैचुरली खून साफ करने में मदद करते हैं ये 3 योगासन, जानें अभ्यास का तरीका

Yoga For Purifying Blood In Hindi: योग करने से शरीर की कई समस्याओं को दूर किया जा सकता है। योग करने से सिर्फ शारीरिक स्वास्थ्य ही नहीं, मानसिक स्वास्थ्य को भी लाभ मिलता है। लेकिन क्या आप जानते हैं, शरीर से टॉक्सिन्स को बाहर निकालने के लिए भी योग का अभ्यास बहुत फायदेमंद हो सकता है? योग करने से न सिर्फ शरीर में मौजूद गंदगी साफ होती है, बल्कि इससे खून साफ करने में भी मदद मिलती है। अगर आपके खून में गंदगी या टॉक्सिन्स की मात्रा बढ़ जाती है, तो यह कई गंभीर समस्याओं का कारण बन सकता है। साथ यह त्वचा संबंधी कई समस्याओं जैसे कील-मुंहासे, दाग-धब्बे, एलर्जी का भी एक बड़ा कारण है। इसलिए खून को साफ करना बहुत जरूरी है।

बहुत से लोग अक्सर पूछते हैं कि खून साफ करने के लिए कौन से योगासनों का अभ्यास करना चाहिए? वैसे तो ऐसे कई योगासन हैं जिनकी मदद से आप शरीर और खून को डिटॉक्स कर सकते हैं, लेकिन कुछ लोगों के लिए उनका अभ्यास करना कठिन हो सकता है। अब सवाल यह उठता है कि ऐसे में आपके पास क्या विकल्प है? खून साफ करने के लिए आप कौन से योगासन कर सकते हैं? चिंता न करें, इसमें आपकी मदद करने के लिए हम यहां हैं। इस लेख में हम आपको खून साफ करने के लिए  3 आसान योगासन (khoon saaf karne ke liye yoga) बता रहे हैं।

blood purification yoga in hindi

खून साफ करने के लिए योग- Yoga For Purifying Blood In Hindi

1. परिवृत उत्कटासन- Revolved Chair Pose

यह योगासन खून साफ करने में बहुत फायदेमंद है। यह आपके संपूर्ण शरीर को डिटॉक्स करने में प्रभावी है।

  • इसका अभ्यास करने से के लिए सबसे पहले सीधे खड़े हो जाएं।
  • अब धीरे-धीरे घुटनों को कुर्सी की पोजीशन में मोड़ें।
  • उसके बाद हाथों को नमस्ते की मुद्रा में लाएं।
  • फिर सांस लेते हुए अपनी रीढ़ को स्ट्रेच करें और दाईं ओर झुकुें।
  • इस दौरान अपने दाहिने घुटने और बाईं कोहनी को बाहर की तरफ रखें।
  • लंबे समय तक इस मुद्रा में बने रहने के लिए हथेलियों और घुटनों को साथ रखें और कूल्हों को स्ट्रेच करें।
  • फिर धीरे-धीरे सामान्य मुद्रा में आएं और दूसरी तरफ इस आसन को दोहराएं।

2. गरुड़ासन- Eagle Pose

शरीर में ब्लड सर्कुलेशन को बेहतर बनाने में इस योगासन का अभ्यास बहुत लाभकारी है। यह पैरों और लसीकी प्रणाली में मौजूद रक्त को शुद्ध करने में बहुत प्रभावी है।

  • इसका अभ्यास करने के लिए सबसे पहले खड़े हो जाएं।
  • ताड़ासन की मुद्रा में आएं, फिर गहरी और लंबी सांस लें।
  • उसके बाद अपनी बाईं टांग को दाईं टांग के ऊपर से पीछे को ओर लेकर जाएं और टिकाएं।
  • अब धीरे-धीरे कोशिश करें और बाएं पैर की उंगलियों को जमीन रखें।
  • इस दौरान अपने दोनों हाथों को ऊपर उठाएं, फिर दाएं हाथ की भुजाओं को बाएं हाथ के पीछे की ओर ले जाएं। दोनों हाथों को जोड़ने की कोशिश करें।
  • कुछ सैकेंड्स के लिए इस मुद्रा में रहें। उसके बाद सभी स्टेप्स को उलटते हुए सामान्य मुद्रा में आएं।

3. अधोमुख श्वानासन- Downward Facing Dog Pose

जब आप इस योगासन का अभ्यास करते हैं, तो शरीर से गर्मी निकलती है। जिससे पसीने के साथ शरीर से टॉक्सिन्स भी बाहर निकलते हैं। यह खून साफ करने में भी मददगार है।

  • योग मैट पर सीधे खड़े हो जाएं
  • दोनों हाथों को ऊपर की ओर ले जाएं और जमीन की ओर झुकें।
  • ध्यान रखें कि झुकते समय आपके घुटने और हाथ एकदम सीधे रहें। अपनी पोजीशन धनुष की तरह बना लें।
  • इस दौरान आपके हाथ और टांग एकदम सीधे होने चाहिए। अब गहरी लंबी सांस लेते हुए और कूल्हों पर जोर डालें।
  • अपने हाथों को पूरी तरह से जमीन पर टिकाएं और अपने कूल्हों को जितना हो सके उतना ऊपर उठाने की कोशिश करें।
  • अपने सिर को जमीन की तरफ रखें और नजरों को पैरों की ओर।
  • इस पोजीशन में तब तक रहें, जब तक आप संतुलन बनाकर रख सकते हैं।

इन योगासनों का अभ्यास खून को नैचुरली साफ करने में बहुत लाभकारी साबित हो सकता है। कोशिश करें कि दिन में 15-20 मिनट इनका अभ्यास जरूर करें, इससे आपको संपूर्ण स्वास्थ्य को लाभ मिलेगा।

All Image Source: Freepik.com

Disclaimer