कफ से छुटकारा पाने के लिए इस्तेमाल करें ये 5 आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियां, जानें इस्तेमाल का तरीका

कफ की परेशानी होने पर आयुर्वेद में मौजूद जड़ी-बूटियों का इस्तेमाल करने से आपको काफी लाभ हो सकता है। आइए जानते हैं इन जड़ी-बूटियों के बारे में-

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraPublished at: Jan 27, 2022Updated at: Jan 27, 2022
कफ से छुटकारा पाने के लिए इस्तेमाल करें ये 5 आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियां, जानें इस्तेमाल का तरीका

सीने में कफ जमा होने से कई तरह की परेशानियां होने लगती हैं। कफ यानी बलगम एक चिकना और पतला पदार्थ होता है, जिसे हमारा शरीर, शरीर की रक्षा और मुख्य गुहाओं के आंतरिक अंग को चिकनाई प्रदान करने के लिए उत्पन्न करता है। जब यह कफ गाढ़ा और ज्यादा चिकना हो जाता है, जो शरीर में कई तरह की परेशानियां उत्पन्न करने लगता है। धूम्रपान, संक्रमण, एलर्जी जैसे कई कारणों से कफ की परेशानी बढ़ती है। कफ की परेशानियों से राहत पाने के लिए आप कई तरह के उपचार अपनाए जा सकते हैं। लेकिन आयुर्वेद में मौजूद प्राकृतिक जड़ी बूटियों का इस्तेमाल करना आपके लिए काफी लाभकारी हो सकता है। क्योंकि आयुर्वद में मौजूद जड़ी-बूटियों के इस्तेमाल से शरीर को नुकसान होने का खतरा कम रहता है। आइए जानते हैं  कफ दूर करने के लिए आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियों के बारे में विस्तार से- 

1. हरिद्रा यानी हल्दी

कफ या बलगम की परेशानी को दूर करने के लिए हल्दी का इस्तेमाल आपके लिए काफी लाभकारी हो सकता है। हल्दी का इस्तेमाल भारतीय किचन में काफी लंबे समय से मसालों के रूप में किया जा रहा है। इसके अलावा हल्दी का आयुर्वेद में भी काफी महत्व है। इसके इस्तेमाल से बलगम की परेशानी से छुटकारा पाया जा सकता है। साथ ही यह बैक्टीरियल संक्रमण को दूर करने में प्रभावी हो सकता है। अगर आप कफ से राहत पाना चाहते हैं, तो नियमित रूप से हल्दी का पानी या फिर हल्दी का काढ़ा बनाकर पिएं। इससे काफी लाभ मिलेगा।

इसे भी पढ़ें - कफ निकालने के लिए नेचुरोपैथी: सर्दी-जुकाम के कारण बलगम जमा होने पर आजमाएं ये 3 प्राकृतिक उपाय

2. मुलेठी है लाभकारी

मुलेठी स्वास्थ्य के लिए लाभकारी है। यह कफ की परेशानी को दूर करने में प्रभावी हो सकता है। आयुर्वेद में मुलेठी को शक्तिवर्धक और उर्जादायक माना जाता है। इसके सेवन से गले में खराश, सूजन जैसी समस्याओं को दूर किया जा सकता है। कफ की परेशानी होने पर मुलेठी के पाउडर में थोड़ा घी डालकर दूध के साथ उबालकर काढ़ा तैयार कर लें। अ इसे दिन में दो बार पिएं। इससे कफ की परेशानी से राहत पाया जा सकता है। 

3. पिप्पली

पिप्पली में दर्द निवारक गुण होता है, जो गले में खराश और दर्द से राहत दिला सकता है। कफ की परेशानी होने पर इसका सेवन आप अर्क या पाउडर के रूप में कर सकते हैं। इसके अलावा पिप्पली तेल का भी इस्तेमाल किया जा सकता है। हालांकि, डॉक्टर या आयुर्वेदाचार्य के निर्देशानुसार अगर आप इसका सेवन करते हैं, तो आपको अधिक लाभ प्राप्त हो सकता है। 

4. अदरक का सेवन

कफ की परेशानी में अदरक का सेवन आपके लिए प्रभावी हो सकता है। आयुर्वेद में अदरक का इस्तेमाल कई संक्रण से जुड़ी समस्याओं को दूर करने के लिए किया जाता है। कफ और बलगम की परेशानी को दूर करने के लिए भी आप अदरक का सेवन कर सकते हैं। इसका सेवन करने के लिए आप अदरक का पानी, अदरक की चाय या फिर अदरक का काढ़ा पी सकते हैं।  हालांकि, ध्यान रखें कि अधिक मात्रा में इसका सेवन न करें। इससे आपके शरीर को नुकसान भी हो सकता है।  

5. वच 

वच आयुर्वेद की तीखी जड़ी-बूटियों में से एक है। इसके इस्तेमाल से आपके शरीर को भरपूर रूप से उर्जा प्रपात होती है। साथ ही यह आपके शरीर से कफ दोष को दूर करने में प्रभावी हो सकता है। कफ की परेशानियों को दूर करने के लिए वच का सेवन आप कई तरह से कर सकते हैं। इसके लिए वच के पाउडर को दूध में मिलाकर पिएं। इसके अलावा वच का काढ़ा भी पी सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें - गले में बलगम बनने का क्या कारण होता है? जानें किन लोगों को बनता है ज्यादा कफ

कफ की परेशानियों को दुर करने के लिए आयुर्वेद की इन जड़ी-बूटियों का इस्तेमाल किया जा सकता है। हालांकि, ध्यान रखें कि इन जड़ी-बूटियों का अधिक मात्रा में इस्तेमाल न करें। वहीं, अगर आप पहली बार इन जड़ी-बूटी का सेवन कर रहे हैं, तो डॉक्टर से उचित परामर्श लें। ताकि इससे होने वाले साइड-इफेक्ट से बचा जा  सके।

Disclaimer