तिल के तेल से करें स्तनों की मालिश, नहीं होंगी ये 4 समस्याएं

Sesame Oil Breast Massage Benefits: तिल के तेल स्तनों की मालिश करने से कई फायदे मिलते हैं, जानें स्तनों की मालिश करने का सही तरीका क्या है।

 

Vineet Kumar
Written by: Vineet KumarUpdated at: Oct 30, 2022 22:00 IST
तिल के तेल से करें स्तनों की मालिश, नहीं होंगी ये 4 समस्याएं

Sesame Oil Breast Massage Benefits: तिल के तेल का प्रयोग खाना पकाने से लेकर, त्वचा और बालों को हेल्थी रखने तक काफी पोपुलर है। यहां तक कि शरीर की मालिश करने के लिए भी लोग तिल के प्रयोग करते हैं। आप किसी भी तरह से तिल के तेल का प्रयोग करें, इसके स्वास्थ्य संबंधी अनेक लाभ होते हैं। तिल का तेल पोषक तत्वों का भंडार है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट, हेल्दी फैट्स, विटामिन ई, ओमेगा-3, 6, 9 फैटी एसिड, साथ ही फाइटोस्टेरॉल, लिग्नांस, सेसामोल और सेसमिनॉल नामक सक्रिय यौगिक होते हैं, जिन्हें फ्री-रेडिकल्स से लड़ने में बहुत प्रभावी माना जाता है। फ्री-रेडिकल्स कई गंभीर रोगों को जन्म देते हैं। इसलिए तिल और तिल के तेल का सेवन स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है। लेकिन क्या आप जानते हैं, तिल के तेल का सिर्फ सेवन ही नहीं बल्कि इससे शरीर की मालिश करना भी बहुत फायदेमंद होता है। इससे शरीर की मालिश करने से कई लाभ मिलते हैं।

सिर्फ इतनी ही नहीं, अगर महिलाएं अपने स्तनों पर सरसों का तेल लगाकर इससे कुछ मिनट मालिश करती हैं, तो इससे उनकी कई समस्याएं दूर होती हैं। महिलाएं अपने शरीर के सभी अंगों की मालिश करती हैं, लेकिन स्तनों की मालिश पर बहुत कम ही ध्यान देती हैं, जबकि स्तनों की मालिश करना भी महत्वपूर्ण है। इससे कई फायदे मिलते हैं। इस लेख में हम आपको तिल के तेल से स्तनों की मालिश करने के 4 फायदे (til ke tel se breast massage ke fayde) बता रहे हैं।

benefits of sesame oil massage on breast

तिल के तेल से ब्रेस्ट मसाज के फायदे- benefits of sesame oil massage on breast

1. ब्रेस्ट लटकते नहीं हैं

स्तनों का लटकना ढीला होने की समस्या बढ़ती उम्र और बच्चों को दूध पिलाने के कारण हो जाती है। लेकिन अगर आप नियमित तिल के तेल से स्तनों की मालिश करते हैं, तो इससे स्तनों में कसाव बना रहता है और उनमें ढीलापन जल्दी नहीं आता है।

इसे भी पढें: कैस्टर ऑयल से करें स्तनों की मालिश, मिलेंगे ये 4 फायदे

2. छोटे स्तनों की समस्या दूर होती है

स्तनों की तिल के तेल से मालिश करने से ब्लड सर्कुलेशन में सुधार होता है, जिससे स्तनों तक पोषण बेहतर तरीके से पहुंच पाता है। इससे स्तनों के विकास में मदद मिलती है। जिन महिलाओं के स्तन छोटे हैं या उनका विकास ठीक से नहीं होता है, उन्हें तिल के तेल से मालिश करने से बहुत फायदा मिलेगा। 

3. ब्रेस्ट कैंसर का जोखिम होता है

स्तनों की मालिश करने से स्तनों में गांठ नहीं बनती है। साथ ही स्तनों की कोशिकाएं और टिश्यु भी स्वस्थ रहते हैं, इससे कैंसर कोशिाओं के निर्माण और कैंसर के विकास के जोखम को कम करने में मदद मिलती है।

4. मूड में सुधार होता है

स्तनों की मालिश करने से हार्मोन्स रिलीज होते हैं। यह तनाव, चिंता को कम करने और मस्तिष्क को शांत करने में मदद करता है। यह आपको खुश और शांत महसूस कराता है। साथ ही स्तनों की मालिश करने से स्तनों की त्वचा भी ब्राइट होती है, जिससे स्तन सुडौल और आकर्षक दिखते हैं।

इसे भी पढें: जैतून के तेल से करें स्तनों की मालिश, दूर होंगी ये 5 समस्याएं

तिल के तेल से ब्रेस्ट मसाज कैसे करें- How To Do Breast Massage With Sesame Oil

एक पैन में जरूरत के अनुसार तिल का तेल डालें और गर्म करें। गैस बंद कर दें, फिर तेल को थोड़ा ठंडा होनेे दें। तेल जब गुनगुना  हो जाए, तो इसे स्तनों पर लगाएं, फिर हथेलियों की मदद से 10-12 मिनट सर्कुलर मोशन में मालिश करें। ऐसा नियमित रोत को सोने से पहले करें।

All Image Source: Freepik

Disclaimer