Expert

क्या आपको भी आता है ज्यादा पसीना? जानें आयुर्वेद के अनुसार क्या है इसका इलाज

Excessive Sweating Causes: पसीना आना बहुत सामान्य है, लेकिन कुछ लोगों को बहुत अधिक पसीना आता है। ऐसा शरीर में किसी बीमारी के कारण भी हो सकता है।

Vineet Kumar
Written by: Vineet KumarPublished at: Mar 16, 2022Updated at: Mar 16, 2022
क्या आपको भी आता है ज्यादा पसीना? जानें आयुर्वेद के अनुसार क्या है इसका इलाज

गर्मियों के मौसम में हम सभी के शरीर से पसीना निकलता है। हालांकि, कुछ मामलों में सर्दी के मौसम में भी आपको पसीना आ सकता है जैसे हम जब भी कोई शारीरिक गतिविधि करते हैं, एक्सरसाइज करते हैं या कोई बहुत मेहनत वाला काम करते हैं। शरीर से पसीना निकलना बहुत सामान्य है और यह शरीर के तापमान कम करने के लिए बेहद जरूरी भी है। साथ ही पसीना आपके शरीर से टॉक्सिन्स को बाहर निकालने में भी मदद करता है। लेकिन अक्सर यह देखा जाता है कि कुछ लोगों को दूसरों की तुलना में ज्यादा पसीना  (Excessive Sweating) आता है। वैसे तो इसके कई कारण हो सकते हैं (Excessive Sweating in Hindi) लेकिन कुछ मामलों में यह किसी गंभीर बीमारी का संकेत भी हो सकता है। इस लेख में हम आयुर्वेदिक चिकित्सक डॉ. ऐश्वर्या संतोष (बीएएमएस आयुर्वेद) से जानेंगे कि ज्यादा पसीना आने के क्या कारण हैं और इससे राहत पाने के लिए आयुर्वेदिक उपाय (Ayurvedic Remedies For Excessive Sweating In Hindi)।

excessive sweating

ज्यादा पसीना आने के कारण (Excessive Sweating Causes In Hindi)

डॉ. ऐश्वर्या संतोष के अनुसार ज्यादा पसीना अक्सर तब आता है जब आप किसी रोग से ग्रसित हों जैसे पीनियल या थायराइड ग्लैंड डिसऑर्डर, डायबिटीज मेलिटस, मेनोपॉज, बुखार, एंग्जायटी और हृदय रोग आदि। लेकिन कई बार आपको बिना किसी रोग के भी अत्याधिक पसीना आ सकता है, ऐसा मुख्य रूप से तब होता है जब पसीने की ग्रंथियों को ट्रिगर करने वाली नसें अत्याधिक सक्रिय हो जाती हैं। कई दवाओं के सेवन से भी शरीर में गर्मी हो जाती है जिससे शरीर से ज्यादा पसीना निकलता है। इसके अलावा अत्यधिक पसीना आने का एक मुख्य कारण शरीर में पित्त का बढ़ना भी है।

इसे भी पढें: ग्लूकोमा (काला मोतिया) होने पर अपनाएं ये 4 आयुर्वेदिक उपाय, समस्या से मिल सकता है आराम

क्या है ज्यादा पसीना आने का आयुर्वेदिक उपचार (Ayurvedic Remedies For Excessive Sweating In Hindi)

अगर ज्यादा पसीना आने की समस्या किसी स्वास्थ्य स्थिति से जुड़ी हुई है तो इसको लेकर आप बहुत कुछ नहीं कर सकते हैं। इस स्थिति में आपको पहले अपने अपनी बीमारी के लिए उपचार लेने की आवश्यकता है। लेकिन जैसा कि हमने बताया ज्यादा पसीना आने का एक मुख्य कारण शरीर में पित्त का बढ़ना भी है। डॉ. ऐश्वर्या संतोष बताती हैं कि शरीर में पित्त दोष को संतुलित करने से अत्यधिक पसीना, शरीर की गर्मी, शरीर की गंध के साथ ही शरीर की जलन आदि को कम करने में बहुत मदद मिल सकती है। इसके लिए आप कुछ टिप्स को फॉलो कर सकते हैं जैसे:

1. धनिये का पानी (Coriander Water)

  • धनिये के बीज लें और उन्हें पीस लें।
  • फिर एक बर्तन में थोड़ा पानी लें और उसमें धनिये के बीज का पाउडर डालें।
  • इसे रात भर के लिए छोड़ दें।
  • इस पानी को सुबह खाली पेट पिएं।

2. खसखस का पानी

  • 2 लीटर पानी में एक चम्मच खसखस की जड़ों को 20 मिनट तक उबालें।
  • इसे छान लें और एक बोतल या किसी बर्तन में स्टोर कर लें।
  • पूरे दिन सादे पानी के बजाय इस पानी को पियें। इससे आपको लाभ होगा

3. बॉडी पेस्ट

  • गुलाब जल में अनंतमूल की जड़ (sariva), चंदन, आंवला और खसखस का पाउडर मिलाएं।
  • इसे अच्छी तरह मिक्स करें और इसका एक पेस्ट बना लें। इसे अपने शरीर पर लगाएं और 15-20 मिनट के बाद धो लें।
  • इसी तरह सफेद चंदन का पेस्ट बनाएं और इसे अपने शरीर के उन हिस्सों पर लगाएं जहां से ज्यादा पसीना निकलता है।

4. नहाने के लिए पानी

  • 20 ग्राम नाल्पामरादि चूर्ण को पानी में 15-20 मिनट तक उबालें। इसे छान लें और शरीर को धोने के लिए सादे पानी की जगह इस्तेमाल करें।
  • 5. आहार में बदलाव करें बदलाव
  • ज्यादा मसालेदार, खट्टे फूड्स के सेवन से बचें
  • गर्म तासीर वाले फू्ड्स कम खाएं
  • 8-10 किशमिश रात को पानी में भिगो दें, और गली सुबह खाली इसका सेवन करें।
  • कड़वे और कसैले फूड्स को डाइट में शामिल करें।

All Image Source: Freepik.com

Disclaimer