मानसिक बीमारी से जूझ रहा है आपका पार्टनर, तो किस तरह रखें उसका ख्याल? जानें 5 जरूरी टिप्स

मानसिक रोगों से जूझ रहे व्यक्ति को अतिरिक्त देखभाल की जरूरत होती है। अगर आपके पार्टनर को ऐसी समस्या है, तो उनकी देखभाल में इन 5 बातों का ख्याल रखें।

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Dec 02, 2019Updated at: Dec 02, 2019
मानसिक बीमारी से जूझ रहा है आपका पार्टनर, तो किस तरह रखें उसका ख्याल? जानें 5 जरूरी टिप्स

पढ़ाई, नौकरी, रिश्ते, घर-परिवार, प्यार, बच्चे..न जाने कितना कुछ है, जिसकी जिम्मेदारियां उम्र के साथ-साथ धीरे-धीरे आपके कंधों पर आती रहती है। इसके अलावा यह भी सच्चाई है कि आज के लोग पहले की अपेक्षा मानसिक बीमारियों से ज्यादा परेशान रहते हैं। स्ट्रेस, तनाव, डिप्रेशन, डिमेंशिया, अल्जाइमर आदि ऐसी बीमारियां हैं, जिनसे न जाने कितने लोग परेशान हैं। युवाओं में इन दिनों डिप्रेशन की समस्या तेजी से बढ़ी है। ऐसे में अगर आपके पार्टनर को किसी तरह की मानसिक समस्या है, तो आप उसका ख्याल कैसे रख सकते हैं? आज हम आपको बताएंगे ऐसे कुछ आसान तरीके, जिनसे आप मानसिक बीमारियों से जूझ रहे पार्टनर का ख्याल रख सकते हैं।

 Mental Stressed Couple

गलतियों पर गुस्सा न करें

मानसिक बीमारी होने पर व्यक्ति के स्वभाव में परिवर्तन आने की काफी संभावना होती है। बहुत सारी ऐसी छोटी-छोटी मानसिक बीमारियां हैं, जिनमें व्यक्ति को मूड स्विंग्स की समस्या होती है। इसलिए अगर आपके पार्टनर को कोई मानसिक बीमारी है और वो कोई गलती करते हैं, तो आपको उन पर गुस्सा नहीं करना चाहिए। दरअसल मानसिक समस्या होने पर व्यक्ति की क्रियाओं और हरकतों पर उसका जोर नहीं रहता है।

इसे भी पढ़ें: प्रेग्नेंसी के दौरान भी अपने रिलेशनशिप को कैसे रखें बेहतर? जानें 5 टिप्स

अकेला न छोड़ें

अगर आपके पार्टनर को कोई मानसिक समस्या है, भले ही वो बहुत छोटी हो, तो उन्हें ज्यादा देर तक अकेला न छोड़ें। दरअसल मानसिक बीमारियों के होने पर (खासकर डिप्रेशन, स्ट्रेस) व्यक्ति को अपने भले-बुरे का भी होश नहीं रहता है और कई बार वो अपना या किसी अन्य का नुकसान कर सकता है। इसलिए आपको ऐसे पार्टनर का साथ नहीं छोड़ना चाहिए।

खुद को उनकी जरूरतों के अनुसार ढालें

आमतौर पर मानसिक रोग से प्रभावित व्यक्ति को किसी बात के लिए समझाना या मनाना आसान होता है। इसलिए अगर आपके पार्टनर को ऐसी समस्या हो गई है, तो आपको उनके हिसाब से खुद को ढालने का प्रयास करते रहना चाहिए। इसके साथ-साथ ही उन्हें उचित मेडिकल जांच, दवाएं और थेरेपीज दिलाते रहें, ताकि वो जल्दी ठीक हो सकें।

रोग के बारे में जानें

अगर आपके पार्टनर को कोई मानसिक बीमारी हो गई है, तो आपको उस बीमारी के बारे में ज्यादा से ज्यादा जानकारी कर लेनी चाहिए। एंग्जायटी, पैनिक अटैक, डिप्रेशन आदि ऐसी बीमारियां हैं, जिनमें दवाओं से ज्यादा परिवार खासकर पार्टनर का सपोर्ट काम आता है। इसलिए आपको बीमारी के हर पहलू, हर खतरे से वाकिफ रहना चाहिए, ताकि आप अपने पार्टनर की हर परिस्थिति में मदद कर सकें।

इसे भी पढ़ें: प्‍यार के साथ पर्सनल स्‍पेस देने से पार्टनर के बीच बनती है अच्‍छी बॉन्डिंग, पज़ेसिवनेस से रहें दूर

चिकित्सक की बताई हर सलाह मानें

मानसिक बीमारियो को ठीक करने के लिए कई बार आपको डॉक्टरों के अलावा साइकोलॉजिस्ट और थेरेपिस्ट की मदद भी लेनी पड़ सकती है। इसलिए अगर आपके पार्टनर को ऐसी समस्या है, तो आपको डॉक्टरों या थेरेपिस्ट्स के बताई गई हर बात पर अमल करना चाहिए, सभी जांच समय-समय पर करवाते रहना चाहिए और दवाएं खिलाते रहना चाहिए।

Read more articles on Relationship Tips in Hindi

Disclaimer