Health Risk Of Raw Meat: कच्‍चा मीट बना सकता है आपको बीमार, इन 4 बीमारियों का रहता है खतरा

Health Risk Of Eating Raw Meat: क्‍या आप जानते हैं कि कच्‍ची मीट खाना आपकी सेहत के लिए कितनी खतरनाक हो सकती है? आइए यहां जानिए... 

Sheetal Bisht
Written by: Sheetal BishtPublished at: Jul 27, 2020Updated at: Jul 27, 2020
Health Risk Of Raw Meat: कच्‍चा मीट बना सकता है आपको बीमार, इन 4 बीमारियों का रहता है खतरा

क्‍या आप मीट खाना पसंद करते हैं? अगर हां, तो सावधान रहें और कच्‍चा मीट खाने से बचें। जी हां, कच्‍ची मीट खाना आपके सेहत के लिए नुकसानदेहक हो सकता है। हेल्‍थ एक्‍सपर्ट मानते हैं कि कच्‍चा ही नहीं, बल्कि अधिक मीट खाने से भी स्‍वास्‍थ्‍य पर कई दुष्‍प्रभाव पड़ सकते हैं। लेकिन यदि आप यहां ऐसा सोच रहे हैं, कि आप कच्‍चा मीट नहीं खाते, तो आप गलत हैं। क्‍योंकि आप जो भी मीट रोस्‍ट करके या भुनकर खा रहे हैं, वह कच्‍चा हो सकता है। जब तक आप मीट को अच्‍छे से पका नहीं देते, तब तक वह कच्‍चा है। कच्‍चे मीट को खाने से आपको सबसे बड़ा जोखिम खाद्य जनित बीमारी से जुड़ा होता है, जिसे आमतौर पर फूड पॉइजनिंग कहा जाता है। आइए यहां हम आपको कच्‍चा मीट खाने के कुछ दुष्‍प्रभाव बताते हैं। 

कच्‍चे मांस को खाने से होने वाले दुष्‍प्रभाव 

साल्मोनेला या साल्मोनेलोसिस

साल्मोनेला या साल्मोनेलोसिस एक जीवाणु संक्रमण है, जो साल्मोनेला के कारण होता है और यह कच्‍चे मीट या अनकुक बीफ खाने के परिणामस्वरूप होता है। इस तरह के बैक्टीरिया जानवरों के पाचन तंत्र में उन्हें बीमार किए बिना जीवित रह सकते हैं। साल्‍मोनेला से पेट में ऐंठन, बुखार, और पानी से भरे दस्त होते हैं। यह बैक्टीरिया फिर आपकी आंतों से आपके शरीर के अन्य हिस्सों जैसे हड्डियों, जोड़ों और रक्तप्रवाह में फैलता है।

इसे भी पढ़ें: सेहत के लिए बहुत खतरानाक है लाल व प्रोसेस्‍ड मीट, बढ़ता है इन 5 रोगों का खतरा

Health Risk Of Eating Raw Meat

लिस्टेरिया या लिस्टरियोसिस

लिस्टेरिया मोनोसाइटोजेन्स एक प्रकार का बैक्टीरिया है, जो मुर्गी और मवेशियों में पाया जाता है। इस बैक्‍टीरिया का खतरा कच्‍चा या सही से न पके मीट को खाने से होतो है। यह बैक्‍टीरिया 24 घंटों के भीतर आप पर असर डाल सकता है, जिसमें आपके शरीर में दर्द, मितली, बुखार और दस्त की समस्‍या हो सकती है। इसके अलावा, यह गर्भवती महिलाओं में  गर्भपात, स्टिलबर्थ या प्रीटरम डिलीवरी का कारण बन सकता है, जो कि उनके नवजात शिशु की स्थिति को भी प्रभावित कर सकता है।

कैंपाइलोबेक्टर या कैंपिलोबैक्टीरिया

अधपके या कच्‍चे मीट खाने के स्‍वास्‍थ्‍य जोखिमों में यह एक और स्वास्थ्य जोखिम है। यह कैंपिलोबैक्टीरिया बैक्टीरिया के कारण होता है, जो आमतौर पर पोल्ट्री और मवेशियों के पाचन तंत्र में पाया जाता है। यह अधपके मांस या कच्‍चे मांस के कारण गंभीर फूड पॉइजनिंग को जन्म दे सकता है। इस संक्रमण के लक्षण आमतौर पर बैक्टीरिया के प्रवेश के 2 दिनों के बाद दिखना शुरू होते हैं। यह आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को भी कमजोर बनाता है। 

इसे भी पढ़ें: चिकन खाना सेहत के लिए क्यों है फायदेमंद? क्या सचमुच चिकन खाने से घटता है वजन?

Can Uncooked Meat Make You Sick

पैरासिटिक इंफेक्‍शन या परजीवी संक्रमण

कच्चे या अधपके मांस में बैक्टीरिया के कई रूप पाए जाते हैं, जो फूड पॉइज़निंग का कारण बन सकते हैं। खाद्य जनित बीमारी के लक्षणों में मतली, उल्टी, दस्त, पेट में ऐंठन, बुखार और सिरदर्द शामिल हैं। ये लक्षण आमतौर पर 24 घंटों के भीतर मौजूद होते हैं और 7 दिनों तक रह सकते हैं। 

कभी भी मीट खाएं, तो कच्‍चा मीट खाने से बचें। यह कई स्वास्थ्य जोखिमों को जन्म देता है। इसके अलावा, कच्‍चा मीट खाने से गर्भवती महिलाओं, बच्चों, और जिन लोगों की प्रतिरक्षा प्रणाली कमजोर है या पुरानी बीमारियों से पीड़ित हैं, वे गंभीर स्वास्थ्य जटिलताओं का अनुभव कर सकते हैं। इसलिए हमेशा मीट को साफ धोकर अच्‍छे से पकाएं, ताकि आप स्‍वस्‍थ रहें और मीट खाने के फायदे प्राप्‍त कर सकें। 

Read More Article On Other Diseases In Hindi   

Disclaimer