जानें कैसे डायट सोड़ा बढ़ा रहा है आपका वजन

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Apr 09, 2015
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • डायट सोडा वजन को बढ़ानें का काम करता है।
  • डायट सोडा में आर्टिफिशियल शुगर होता है।
  • जो सामान्य से 200 गुना ज्यादा मीठा होता है।
  • इसके सेवन से दिल को भी खतरा हो सकता है।

‘डाइट सोडा’ नाम से तो लगता है कि पतला बने रहने के लिए बस डाइट सोडा का ही सेवन करें। कभी कभी तो पीना ठीक है पर छरहरा दिखने की चाहत में लगातार इसका सेवन नुकसान पहुंचाता है।जो लोग नियमित रूप से सोडा का सेवन करते है उनमें पॉट बेली, विकसित करने की संभावना हैं। विशेषज्ञों का मानना है कि जो लोग अधिक मात्रा में सोडा का सेवन करते हैं, वे दूध कम पी पाते हैं। इससे उनके शरीर में कैल्शियम की मात्रा कम होने लगती है। इससे आपका शरीर कमजोर भी हो जाता है।

Weightloss

बढ़ता है मोटापा

डाइट सोडा के लगातार सेवन से मोटापा बढ़ता है कमर की चौड़ाई बढ़ती है। इसके अतिरिक्त किडनी डैमेज होने का खतरा भी रहता है। ‘डाइट सोडा’ के नाम से आप दिन में इसका सेवन ज्यादा करते हैं जो कई तरीके से शरीर को नुकसान पहुंचाता है। इसमें आर्टिफिशियल शुगर होता है जो सामान्य शक्कर की तुलना में 200 से 13,000 गुना मिठास देता है। एक रिसर्च के अनुसार इसमें मिलाई जाने वाली मिठास का स्वाद जितना पियेंगे उतना और पीने की चाह पैदा होगी। इस प्रकार शरीर में नार्मल से अधिक मीठा जायेगा जो मोटापे को आमंत्रित करेगा।

इसके सेवन से लगती है अधिक भूख

इसमें शामिल आर्टिफिशियल शुगर में कैलोरी कंट्रोल करने की प्राकृतिक क्षमता को प्रभावित करती है। सोडे में मिली एसपार्टेम इस आर्टिफिशियल शुगर को जल्दी खून में पहुंचाता है जिससे भूख बढ़ती है। डाइट सोडा में सोडियम बेंजोएट या पोटेशियम बेंजोएट जैसे प्रिजर्वटिव्स होते हैं जो शरीर में हार्मोन्स को नुकसान पहुंचा सकते हैं। प्रिजर्वटिव्स होने के कारण अस्थमा, त्वचा, आंखों में एलर्जी हो सकती है।

weightloss
अन्य समस्या
एं

इसके अतिरिक्त डाइट होडा शरीर में पानी को रोक सकता है जो वजन बढ़ने की सबसे बड़ी वजह होती है। इसमें मौजूद एसिड दांतों के इनेमल को गलाता है। इसके अतिरिक्त हार्ट प्राब्लम्स को बढ़ा सकता है। एस्पार्टम से कैंसर होने का खतरा है, अल्जाइमर भी हो सकता है। इसमें पाया जाने वाला फास्फोरिक एसिड हड्डियों और दांतों को नुकसान पहुंचाता है। शरीर में फास्फोरिस एसिड की मात्रा से किडनी स्टोन बनने का खतरा रहता है। इसमें पाया जाने वाला कैफीन यूरिन की मात्रा को बढ़ाता है इससे शरीर में पानी की कमी हो जाती है।

डाइट सोडा में पोषकता जीरो होती है। बस भ्रममात्र है डाइट सोडा कि इसमें फैट्स और कैलरी की मात्रा कम होती है। इसमें सारी सामग्री सिंथेटिक केमिकल्स वाली होती है जो शरीर को बस नुकसान के अलावा कुछ नहीं देती।


ImageCourtesy@gettyimages

Read more Article on Weight Management In Hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES3 Votes 2249 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर