संतुलित आहार के पांच बेहतरीन टिप्स जो रखे आपको फिट

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Oct 16, 2013
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • कार्बोहाइड्रेट के स्रोत हमारे शरीर के लिए जरूरी ऊर्जा पैदा करते हैं।
  • फैट से शरीर को फैटी एसिड मिलते हैं जो प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है।
  • कैल्शियम हड्डियों में दर्द की समस्या से बचाए रखने में मदद करती है।
  • चीनी का सेवन संतुलित मात्रा में ही करना आपके लिए फायदेमंद।

दिनभर की गतिविधियों के लिए हमारे शरीर को ऊर्जा की जरूरत होती है और यह ऊर्जा शरीर को पोषक त्तवों से मिलती है। अगर आपको ऊर्जावान रहना है तो संतुलित आहार लेना चाहिए क्योंकि इसमें आपकी शारीरिक जरूरतों को पूरा करने का गुण होता है।

balanced dietसंतुलित आहार का अर्थ है संपूर्ण भोजन। एक ऐसा भोजन जिसमें सभी जरूरी पोषक तत्‍व मौजूद हों। आहार जिसमें ऊर्जा, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, वसा जरूरी मिनरल व विटामिन आदि सही मात्रा और अनुपात में हों।

हर किसी के लिए एक ही आहार संतुलित नहीं हो सकता। हर किसी की शारीरिक जरूरतें अलग-अलग होती हैं और ऐसे में हर किसी के लिए संतुलित आहार का अर्थ अलग होता है। आहार की जरूरत उम्र, लिंग, शरीर संरचना, काम के स्तर व शारीरिक व मानसिक गतिविधियों  के स्तर पर निर्भर करता है। जो लोग अपने काम और जीवन में संतुलन बनाए रखने की कोशिश करते हैं, उन्हें अपनी डाइट में कुछ तत्वों को शामिल करना चाहिए-

फल व सब्जियां है जरूरी

फल व सब्जियों में कई विटामिन व मिनरल पाए जाते हैं, जो हमारे शरीर के लिए जरूरी हैं। अपने आहार में फलों व सब्जियों का जरूर शामिल करें। मौसम के अनुसार फलों व सब्जियों का सेवन आपकी सेहत को दुरुस्‍त बनाए रखता है। मौसमी सब्जियां ना केवल खनिज तत्वों से भरपूर होती हैं, बल्कि इनमें मौसमी बीमारियों से लड़ने की क्षमता भी होती है। मौसम के मुताबिक सब्जियां शरीर को ठंडक और गरमाहट देती हैं।  

प्रोटीन
प्रोटीन शरीर का निर्माण करने वाले तत्वों में सबसे महत्वपूर्ण है। इससे मांसपेशियां मजबूत होती हैं, ऊतकों की मरम्मत होती है, प्रोटीन हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत बनाता है। इससे शरीर का संतुलन बेहतर होता है। हमारी आवश्यकता की कुल कैलोरी 20-35 प्रतिशत प्रोटीन से आनी चाहिए। हालांकि प्रतिदिन कितनी मात्रा में प्रोटीन का सेवन किया जाए, यह उम्र, भार और आपके वर्कआउट रुटीन पर निर्भर करता है।

डेयरी उत्पाद

डेयरी उत्पाद कैल्शियम के अच्छे स्रोत माने जाते हैं। और यह सबको पता है कि कैल्शियम हमारी हड्डियों के लिए कितना जरूरी होता है। कैल्शियम की उचित मात्रा लेने पर आप हड्डियों में दर्द की समस्या से बचे रहते हैं। अक्सर कैल्शियम की कमी का असर बढ़ती उम्र में दिखता है। इसलिए अपने आहार में पनीर, दूध, दही, चीज आदि को शामिल करना शुरु करें।   

कार्बोहाइड्रेट

कार्बोहाइड्रेट के स्रोत हमारे शरीर में ऊर्जा पैदा करते हैं। इसलिए अपने आहार में कार्बोहाइड्रेट को शामिल करना ना भूलें। ज्यादातर लोग मानते हैं कि इससे मोटापा बढ़ सकता है लेकिन यह मात्र एक मिथ है। कुछ निश्चित कार्बोहाइड्रेट के स्रोत जैसे ब्राउन राइस, पास्ता, नट्स,दालें व जड़ों वाली सब्जियों के सेवन से आप गंभीर बीमारियों से बच सकते हैं।

फैटी व मीठे पदार्थ

कई लोगों का मानना है कि चीनी की मात्रा कम लेने से वे स्वस्थ रहेंगे लेकिन यह गलत है। चीनी का सेवन बंद करने की जगह उसकी संतुलित मात्रा लेनी चाहिए। शरीर के लिए फैट की उचित मात्रा लेना जरूरी है इससे शरीर को फैटी एसिड मिलते रहते हैं। फैटी एसिड आपकी प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के साथ हृदय रोगों को भी दूर रखते हैं।

 

इस तरह संतुलित आहार अपनाकर आप स्‍वयं को बीमारियों से तो बचा ही सकते हैं साथ ही अपनी सेहत को भी रख सकते हैं दुरुस्‍त। सही मात्रा में पोषक तत्‍व युक्‍त खाद्य पदार्थों का सेवन करने से आप कई बीमारियों से बचे रह सकते हैं।

 

 

Read More Articles On Balanced Diet In Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES17 Votes 4628 Views 1 Comment