आपका बच्‍चा कहीं ट्रांसजेंडर तो नहीं है? उसके हावभाव बदल तो नहीं रहे हैं? इस तरह के सवाल क्‍या आपके भी मन में आते हैं, अगर आपका जवाब हां है तो ये लेख आपके लिए है। अगर आपकी बेटी या बेटा विपरीत लिंग वाली गतिविधयों में शामिल रहने का मन करता है, तो आपको इस बारे में सोचना चाहिए। हालांकि इस तरह की चीजें जरूरी नहीं कि ट्रांसजेंडर होने के संकेत ही हों। यहां हम आपको कुछ ऐसे लक्षण बता रहे हैं।

"/>

ये 5 लक्षण बच्‍चों के ट्रांसजेंडर होने के हैं संकेत, अपने बच्‍चे की ऐसे करें पहचान

आपका बच्‍चा कहीं ट्रांसजेंडर तो नहीं है? उसके हावभाव बदल तो नहीं रहे हैं? इस तरह के सवाल क्‍या आपके भी मन में आते हैं, अगर आपका जवाब हां है तो ये लेख आपके लिए है। अगर आपकी बेटी या बेटा विपरीत लिंग वाली गत

Atul Modi
Written by: Atul ModiUpdated at: Jan 17, 2019 17:55 IST
ये 5 लक्षण बच्‍चों के ट्रांसजेंडर होने के हैं संकेत, अपने बच्‍चे की ऐसे करें पहचान

आपका बच्‍चा कहीं ट्रांसजेंडर तो नहीं है? उसके हावभाव बदल तो नहीं रहे हैं? इस तरह के सवाल क्‍या आपके भी मन में आते हैं, अगर आपका जवाब हां है तो ये लेख आपके लिए है। अगर आपकी बेटी या बेटा विपरीत लिंग वाली गतिविधयों में शामिल रहने का मन करता है, तो आपको इस बारे में सोचना चाहिए। हालांकि इस तरह की चीजें जरूरी नहीं कि ट्रांसजेंडर होने के संकेत ही हों। यहां हम आपको कुछ ऐसे लक्षण बता रहे हैं।  

 

पेशाब करने का तरीका 

पैरेंट्स को ये समझना थोड़ा मुश्किल होता है कि उनका बच्‍चा अपने जेंडर की जगह दूसरे जेंडर का टॉयलेट (जब एक लड़का, पुरुषों की बजाय महिलाओं का टॉयलेट इस्‍तेमाल करना पसंद करता है) क्‍यों इस्‍तेमाल करना चाहता है? ये एक संकेत है जो आपको समझाने में मदद कर सकता है कि आपका बच्‍चा असल में ट्रांसजेंडर है। अगर आपका बच्‍चा आपसे कहें कि वो उस टॉयलेट को इस्‍तेमाल करने में सहज नहीं है। जहां उसके पैरेंट्स चाहते थे कि वो इस्‍तेमाल करें और इस वजह से उसके कपड़े गंदे हो गए, तो आपको समझने में देर नहीं लगानी चाहिए। 

कपड़ों की प्राथमिकता 

बचपन में बच्‍चों को उनकी मनमर्जी के हिसाब से ड्रेसअप करवाना माता-पिता के लिए एक सामान्‍य सी बात होती है। लेकिन जैसे-जैसे वो बड़े होते है तो वो खुद अपनी ड्रेस कोड की प्रिफरेंस निश्चित करते हैं। उनके ड्रेस कोड को देखकर आपको ध्‍यान देने की जरुरत है। खासकर जब अगर एक लड़की कहे कि उसे लड़कियों की तरह ड्रेसअप करने में कोई दिलचस्‍पी नहीं है और लड़को को चटकीले और पिंक कलर आकर्षित करने लगें। 

उनका बातचीत का तरीका  

इसके अलावा आप बच्‍चों के बात करने के तरीके से भी मालूम कर सकते हैं, आपको बस इस बात का ध्‍यान रखना होगा कि बोलते वक्‍त आपके बच्‍चे किन क्रियाओं का इस्‍तेमाल कर रहे हैं। उदाहरण के लिए, एक ट्रांसजेंडर बच्‍चा हमेशा ये कहना पसंद करता है कि "मैं एक लड़की हूं" कहने के बजाय "काश मैं एक लड़की होती।"

इसे भी पढ़ें:  माता-पिता कैसे चुनें बच्चों के लिए सही स्कूल और सही सबजेक्ट्स? जानें जरूरी बातें

समान जेंडर में दिलचस्‍पी न होना 

बचपन में लड़कियों का ट्रक्‍स और बस और लड़कों का गुडि़यों के साथ खेलना एक आम बात है। लेकिन खेलते समय आपके बच्‍चें कि गतिविधियां बहुत महत्‍वपूर्ण होती है आपको इस ओर ध्‍यान देने की जरुरत है कि क्‍या वो अपने जेंडर एक्टिविटीज को लेकर दिल चस्‍पी दिखाते है या नहीं। उदाहरण के ल‍िए अगर कोई लड़का गुडि़यों के साथ खेलते हुए लड़कियों की तरह हरकते करता है जैसे उसका मेकअप करना और उसे अपने पास लेकर सोना। 

इसे भी पढ़ें: शरारती और असभ्य व्यवहार वाले बच्चों को इस तरह सिखाएं मैनर्स

अपने जननांगों से खुश न हों  

विशेषज्ञों की मानें, जो बच्‍चें अपने जननांगों को लेकर चिढ़चिढ़े रहते है और नाखुश नजर आते है। इस साफ मतलब है कि वो अपने जेंडर से खुश नहीं हैं।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Parenting In Hindi

Disclaimer