पुरुषों की फर्टिलिटी बढ़ाने वाले योग, जानें इन्हें कैसे करें

आज के दौर में पुरुषों में प्रजनन क्षमता से जुड़ी कई समस्याएं होने लगी है। इस तरह की समस्याओं को योग की मदद से दूर किया जा सकता है। 

Vikas Arya
Written by: Vikas AryaUpdated at: Dec 07, 2022 18:23 IST
पुरुषों की फर्टिलिटी बढ़ाने वाले योग, जानें इन्हें कैसे करें

शहरी माहौल में बढ़ते प्रदूषण और अनियमित खानपान की वजह से पुरुषों में कई तरह की समस्याएं होने लगी है। खराब आदतों का सीधा असर पुरुषों को प्रजनन क्षमता पर पड़ा है। धीरे-धीरे इस समस्या से पीड़ित लोगों की संख्या में इजाफा होने लगा है। इसके साथ ही पुरुषों में हाई बीपी, डायबिटीज, मोटापा और अनिद्रा आदि कई तरह की अन्य बीमारियां भी होने लगी हैं। इन बीमारियों का असर भी पुरुषों की फर्टिलिटी पर पड़ता है। इससे बचने के लिए पुरुष कई तरह के ट्रीटमेंट का सहारा लेते हैं, लेकिन यदि पुरुष अपनी रोजाना दिनचर्या में योग को शामिल कर लें, प्रजनन क्षमता की समस्या को काफी हद तक दूर किया जा सकता है। 

पुरुष को फर्टिलिटी संबंधी क्या समस्याएं होती है?

पुरुषों में वैसे तो फर्टिलिटी संबंधी कुछ आम समस्याएं होती है, जिनके बारे में आगे जानें:

  • शुक्राणुओं के आकार बदलाव होना।
  • शुक्राणुओं का पूर्ण विकसित न होना।
  • गतिशीलता की परेशानी होना।
  • शुक्राणुओं की संख्या में कमी होना।
  • जीरो स्पर्म काउंट। 

पुरुषों की फर्टिलिटी को बेहतर करने वाले योगासन 

बेशक पुरुषों की खराब आदतों और अनियमित दिनचर्या का दुष्प्रभाव पुरुषों की फर्टिलिटी पर पड़ता है। लेकिन योग हमें रोगों से दूर रखने और कई बीमारियों को ठीक करने का काम करता है। आगे जानते हैं पुरुषों की फर्टिलिटी ठीक करने वाले योगासनों के बारे में। 

भुजंगासन 

इससे आपके पीठ और पेट संबंधी कई रोग दूर होते हैं। साथ ही ये आसन प्रजनन क्षमता को बेहतर बनाने का काम करता है। इससे शरीर के निचले हिस्से में रक्त संचार ठीक होता है। भुजंगासन से आप मोटापे को भी दूर कर सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें : सूर्य मुद्रा से कई बीमारियां होती हैं दूर, जानें करने का सही तरीका और इसके लाभ

male infertility yogasan

बालासन 

पुरुष अपनी फर्टिलिटी को बेहतर बनाने के लिए बालासन कर सकते हैं। इसे नियमित करने से पुरुषों के प्रजनन अंगों में ब्लड सर्कुलेशन सही रूप से होता है। इस आसन में पैर, घुटने, जांघों की मांसपेशियां और कूल्हे का ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है। इस योगा से टेंशन दूर होती है। 

पश्चिमोत्तानासन

इससे शरीर के ऊपरी और निचले हिस्से में खिंचाव होता है। इससे शरीर में लचीलापन आता है। देखा जाता है अकसर रक्त संचार ठीक से न होने के कारण पुरुषों में प्रजनन संबंधी समस्याएं होने लगती है। लेकिन पश्चिमोत्तानासन से शरीर के निचले हिस्से में रक्त संचार दुरुस्त होता है और प्रजनन अंगों संबंधी समस्याएं दूर होने लगती है। 

सेूतबंध आसन 

इसे करने से पुरुषों में प्रजनन क्षमता बढ़ती है। इसमें आपको पीठ के बल लेटना होता है। इसके बाद घुटनों को ऊपर करते हुए तलवों को जमीन पर रखना होता है। इसके बाद सांस को भरते हुए पीठ को धीरे धीरे ऊपर उठाना होता है और चीन को छाती पर लगाना होता है। इस आसन को आप पांच मिनट तक कर सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें : गैस, कब्ज और एसिडिटी से छुटकारा दिलाएंगे ये 3 यागासन

हल आसन 

हल आसन पुरुषों के स्पर्म काउंट को बढ़ाने और फर्टिलिटी को बेहतर करने का कम करता है। इस आसन में पीठ के बल लेटे और पैरों को धीरे धीरे ऊपर की ओर उठाते हुए पीछे ले जाए। लेकिन इस दौरान आपके हाथ जमीन से चिपके होने चाहिए। आप इस आसन दो  से तीन मिनट तक कर सकते हैं। 

इसके अलावा किन योग आसन से पुरुष फर्टिलिटी ठीक होती है। 

  • नाड़ी सोधन प्राणायाम 
  • सूर्यनमस्कार 
  • बटरफ्लाई आसन 
 
Disclaimer