30 साल की उम्र में इस महिला को 7 दिन में 3 बार आया हार्ट अटैक, जानें कम उम्र में हृदय रोग की वजह

इस महिला की कहानी हर युवा को जाननी चाहिए। 30 साल की उम्र में एक सप्ताह में 3 बार हार्ट अटैक आना बिल्कुल कॉमन नहीं है, मगर ऐसा हुआ है।

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Jan 14, 2020
30 साल की उम्र में इस महिला को 7 दिन में 3 बार आया हार्ट अटैक, जानें कम उम्र में हृदय रोग की वजह

आमतौर पर हार्ट अटैक के मामले बूढ़े, या कम से कम अधेड़ उम्र के लोगों में ही देखने को मिलते हैं। इसका कारण यह है कि हृदय रोग (Heart Diseases) का खतरा 45 की उम्र के बाद बढ़ा हुआ माना जाता है। कम उम्र में भी हार्ट अटैक के मामले सामने आते हैं, लेकिन हाल में एक महिला ने हार्ट अटैक की ऐसी कहानी शेयर की है, जिसने डॉक्टरों को भी हैरान कर दिया। इस महिला को 30 साल की उम्र में ही सप्ताह भर के अंदर 3 बार हार्ट अटैक आया। डॉक्टरों ने बताया कि महिला के बचने के उम्मीद सिर्फ 10% बताई थी।

heart-attack-women

फॉक्सन्यूज में छपी इस खबर के अनुसार मामला इंग्लैण्ड के केन्ट का है। हाल में रोज़ मर्फी नाम की महिला ने डेढ़ साल पहले हुए अपने हार्ट अटैक की ऐसी कहानी शेयर की है, जो हर युवा को जाननी और समझनी बेहद जरूरी है। रोज़ को नवंबर 2018 में, जब रोज़ की उम्र सिर्फ 30 साल थी, उन्हें जिम करने के दौरान पहला हार्ट अटैक आया था, जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। रिपोर्ट के अनुसार जांच करने पर पाया गया कि रोज़ spontaneous coronary artery dissection (SCAD) की शिकायत हुई थी, जिसके कारण उन्हें हार्ट अटैक आया था।

इसे भी पढ़ें: त्वचा पर दिखने वाले ये 6 निशान हो सकते हैं 'हार्ट अटैक' का पूर्व संकेत, 35+ उम्र वाले रहें सावधान

कम उम्र में हार्ट अटैक का कारण

American Heart Association (AHA) के अनुसार स्कैड (SCAD) की समस्या तब होती है जब आर्टरी (धमनी) के तीन पर्तों में से कोई एक पर्त फट जाए, जिसके कारण खून के दबाव से अंदरूनी हिस्से में उभार आ जाए। आमतौर पर स्कैड की समस्या बिल्कुल स्वस्थ लोगों को होती है, जैसा कि इंग्लैण्ड की मिसेज मर्फी के मामले में भी देखा गया है।

SCAD के लक्षण

खतरनाक बात ये है कि स्कैड का पता तब तक नहीं चलता है, जब तक कि व्यक्ति को हार्ट अटैक न जाए। इस तरह के हार्ट अटैक के कारण-

  • सीने में तेज दर्द
  • सीने में तेद दबाव महसूस होना
  • सांस लेने में परेशानी होना
  • पसीना आना
  • चक्कर आना आदि लक्षण दिखाई देते हैं।

हैरान कर देगी ये कहानी

रिपोर्ट के अनुसार मिसेज मर्फी ने बताया था कि उन्हें शुरुआत में ऐसा महसूस हुआ था, जैसे उनके सीने पर कोई भारी चीज रख दी गई हो, जिसके कारण उन्हें लगा कि शायद उन्हें अस्थमा का अटैक हुआ है या उन्होंने ज्यादा एक्सरसाइज कर ली है। मर्फी कहती हैं, "मैं बिल्कुल हेल्दी हूं और अपनी फिटनेस का ध्यान रखती हूं। इसलिए मेरे लिए ये हैरानी की बात थी कि मुझे 30 की उम्र में हार्ट अटैक आया है।" हार्ट अटैक के बाद मर्फी को तुरंत लंदन के एक अस्पताल पहुंचाया गया, जहां जांच में पता चला कि उन्हें स्कैड है। अस्पताल से डिस्चार्ज होने के 2 बाद ही उन्हें 2nd हार्ट अटैक आया, जिसके बाद उन्हें और बड़े अस्पताल में ले जाया गया। डॉक्टर्स उनकी आर्टरीज में स्टेंट लगाने के बारे में सोच रहे थे, लेकिन तभी जांच में पता चला कि उनके हृदय की बांए तरफ की आर्टरी (धमनी) फट चुकी है, जिसके कारण उन्हें 3rd हार्ट अटैक आ गया।

मर्फी ने बताया, "मुझे समझ नहीं आ रहा था कि मेरे साथ क्या हो रहा है। मैंने कभी इतना दर्द नहीं महसूस किया था- ये मुझे पागल कर था।" खास बात ये है कि मर्फी ने कूछ महीने पहले ही एक बच्चे को जन्म दिया है, इसलिए इन सब बातों से वो काफी डर गई हैं।

Read more articles on Health News in Hindi

Disclaimer