सर्द‍ियों में होठों पर हो जाते हैं रैशेज? जानें इसका इलाज और बचाव के उपाय

Winter Rash on Lips in Hindi: ठंड के द‍िनों में होठों पर नजर आने वाले दाने और लाल‍िमा, रैशेज के लक्षण हो सकते हैं। जानें इससे बचने के तरीके और इलाज।  

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurUpdated at: Nov 18, 2022 13:02 IST
सर्द‍ियों में होठों पर हो जाते हैं रैशेज? जानें इसका इलाज और बचाव के उपाय

Winter Rash on Lips in Hindi: सर्द‍ि‍यों के द‍िनों में वातावरण में नमी के बदलाव का असर त्‍वचा और शरीर पर पड़ता है। आपने ध्‍यान द‍िया होगा क‍ि ठंड के द‍िनों में त्‍वचा पर रैशेज या रूखी त्‍वचा नजर आती है। इसी तरह कुछ लोगों के होंठ भी सर्द‍ियों में रूखे होने लगते हैं। होठों में रैशेज नजर आने लगते हैं। रैशेज के कारण होंठ फटे हुए और ड्राई नजर आते हैं। इसे व‍िंटर ल‍िप रैशेज के नाम से भी जाना जाता है। रैशेज होने के कारण होठों में दर्द और सूजन नजर आ सकती है। सर्द‍ियों में होठों पर रैशेज की समस्‍या से बचने के ल‍िए कुछ आसान उपायों को आजमां सकते हैं ज‍िनके बारे में हम आगे जानेंगे।  

winter lip rash in hindi

व‍िंटर ल‍िप रैशेज के लक्षण 

व‍िंटर ल‍िप रैशेज होने पर न‍िम्‍न लक्षण नजर आते हैं- 

  • होठों में दर्द होना 
  • होठों में सूजन होना 
  • होठों का लाल होना 
  • होठों पर पपड़ी जमना 
  • होठों में खुजली होना 
  • रैशेज के कारण दाने होना 

इसे भी पढ़ें- होंठों को फटने से बचाने के लिए नुस्खे

सर्द‍ि‍यों में होठों पर रैशेज ठीक करने के घरेलू उपाय 

सर्द‍ियों में ल‍िप रैशेज की समस्‍या दूर करने के ल‍िए कुछ घरेलू उपायों की मदद ले सकते हैं। जैसे-

1. शहद 

शहद में हुमेक्टैंट गुण पाए जाते हैं। मतलब त्‍वचा में नमी बरकरार रखने के ल‍िए शहद को फायदेमंद माना जाता है। शहद में एंटीबैक्‍टीर‍ियल गुण पाए जाते हैं ज‍िससे संक्रमण दूर होता है। होठों पर रैशेज होने पर शहद को होठों पर लगाकर छोड़ दें। आधे घंटे बाद होठों को साफ करके मक्‍खन या घी लगा लें।

2. एलोवेरा 

ठंड के द‍िनों में होठों की त्‍वचा शुष्‍क हो जाती है। होठों की त्‍वचा में नमी बरकरार रखने के ल‍िए एलोवेरा का इस्‍तेमाल करें। एलोवेरा के हील‍िंग प्रभाव से होठों पर होने वाले रैशेज, खुजली या घाव में राहत म‍िलती है।  

3. बादाम का तेल 

व‍िंटर ल‍िप रैशेज की समस्‍या को दूर करने के ल‍िए बादाम के तेल का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। बादाम के तेल से होठों को कोमल बनाने में मदद म‍िलती है। बादाम के तेल में एमोल‍िएंट गुण होते हैं। इससे होठों की रंगत में भी सुधार होगा।

4. श‍िया बटर 

श‍िया बटर की मदद से ल‍िप रैशेज की समस्‍या से छुटकारा तो म‍िलता ही है साथ ही फटे होठों की समस्‍या भी दूर होती है। होठों पर रैशेज हो गए हैं, तो सुबह और शाम श‍िया बटर अप्‍लाई करें। रात को श‍िया बटर लगाकर छोड़ भी सकते हैं।

5. नार‍ियल का तेल 

फटे होठों की समस्‍या दूर करने के ल‍िए नार‍ियल तेल का इस्‍तेमाल करें। नार‍ियल तेल, फटे और रैशेज वाले होठों का सरल उपाय है। होठों पर रैशेज के कारण कई बार घाव हो जाता है ज‍िसे भरने के ल‍िए नार‍ियल तेल का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। नार‍ियल तेल को रात को सोने से पहले होठों पर लगाएं, 2 से 3 द‍िनों में रैशेज ठीक हो जाएंगे।      

सर्द‍ि‍यों में होठों पर रैशेज से कैसे बचें?

lip rashes

सर्द‍ियों में होठों पर रैशेज से बचने के ल‍िए न‍िम्‍न उपाय आजमां सकते हैं- 

  • ठंड के द‍िनों में होठों को रैशेज से बचाने के ल‍िए हफ्ते में एक बार ल‍िप स्‍क्रब का इस्‍तेमाल करें। कॉफी पाउडर, चीनी को म‍िलाकर स्‍क्रब तैयार कर सकते हैं।
  • सर्द‍ियों में ल‍िप रैशेज से बचने के ल‍िए पानी का सेवन करें। ड‍िहाइड्रेशन के कारण होठों पर रैशेज या रूखापन नजर आ सकता है।
  • ठंड में होठों को साफ रखें। संक्रमण के कारण होठों में रैशेज की समस्‍या हो सकती है।
  • बाहर न‍िकलने से पहले मास्‍क लगा सकते हैं। इससे होंठ प्रदूषण और ठंडी हवा के सीधे संपर्क में नहीं आएंगे और ल‍िप रैशेज की समस्‍या नहीं होगी।
  • ठंड के द‍िनों में होठों को त्‍वचा की तरह मॉइश्चराइज करें। इसके ल‍िए नैचुरल या कम केम‍िकल्‍स वाले ल‍िप बॉम का इस्‍तेमाल करें।
  • सर्द‍ियों में ल‍िप रैशेज हो रहे हैं, तो ल‍िपस्‍ट‍िक या अन्‍य कॉस्‍मेट‍िक उत्‍पादों का इस्‍तेमाल होठों पर न करें।    

Winter Rash on Lips in Hindi: ठंड के द‍िनों मे पर्याप्‍त मात्रा में पानी का सेवन करें। होठों को ठंडी हवा और प्रदूषण से बचाएं। साथ ही होठों की नमी बचाने के ल‍िए समय-समय पर होठों को मॉइश्चराइज करते रहें।      

Disclaimer