पौष्टिक गुणों से भरपूर होते हैं ये 10 मेवे, जानें इन्हें कब खाएं और कैसे खाएं तो मिलेगा ज्यादा फायदा

लंबे समय तक काम करने वालों को जंक फूड का सेवन करने की बजाय सूखे मेवों को खाना चाहिए। 

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Dec 04, 2020
पौष्टिक गुणों से भरपूर होते हैं ये 10 मेवे, जानें इन्हें कब खाएं और कैसे खाएं तो मिलेगा ज्यादा फायदा

ड्राई फ्रूट्स (dry fruits for good health) फाइबस और प्रोटीन का एक बेहतरीन सोर्स हैं। जिन लोगों को डायबिटीज, दिल से जुड़ी बीमारी और कब्ज जैसे परेशानी है, उनके लिए भी ड्राई फ्रूट्स खाना फायदेमंद है। साथ ही जो लोग वजन घटाना चाहते हैं, उनके लिए भी ये भूख को दबाने का  खास तरीका है। पर सवाल ये है कि किस के लिए, कौन सा ड्राई फ्रूट खाना ज्यादा फायदेमंद है? इसलिए हमने आहार विशेषज्ञ, डाइटिशियन डेलनाज टी. चंदूवाडिया (Delnaaz T.Chanduwadia),से बात की, जो कि जसलोक अस्पताल और अनुसंधान केंद्र में पोषण और आहार विज्ञान की एचओडी (HOD nutrition and dietetics) हैं।

insidedryfruitsforhealth

डाइटिशियन डेलनाज टी. चंदूवाडिया कहती हैं कि ड्राई फ्रूट्स महत्वपूर्ण पोषक तत्वों से भरपूर हैं, जो कि शरीर को ऊर्जा प्रदान करते हैं। एक स्वस्थ और सक्रिय व्यक्ति को प्रतिदिन मुट्ठी भर ड्राई फ्रूट्स का सेवन कर सकता है। ये स्वस्थ वसा, ओमेगा 3 और प्रोटीन को शामिल करने का एक अच्छा तरीका है। यहां तक कि ड्राई फ्रूट्स एक अच्छा स्नैक भी हैं और इसे प्री वर्कआउट खाने में इसे शामिल किया जा सकता है। बादाम और अखरोट विटामिन ई और सेलेनियम से भरे होते हैं और त्वचा के लिए अच्छे होते हैं। इसी तरह इसके कई और फायदे भी हैं, आइए जानते हैं विस्तार से।

ड्राई फ्रूट्स खाने के फायदे  (Health Benefits Of Dry Fruits)

ड्राई फ्रूट भले ही  मिनरल्स, पोटैशियम और मैग्निशियम आदि से भरपूर हो पर इसमें शुगर की भी मात्रा भी अधिक होती है। दरअसल,  ड्राई फ्रूट को सुखाने की प्रक्रिया में, तमाम फल अपने पानी की मात्रा का एक बड़ा हिस्सा खो देते हैं। ऐसे में कुछ ड्राई फ्रूट्स में कैलोरी और नेचुरल शुगर की मात्रा ज्यादा होने से ग्लूकोज और फ्रुक्टोज बढ़ जाती है। इसलिए डायबिटीज के पेशेंट को ऐसे ड्राई फ्रूट्स खाने से बचना चाहिए। तो आइए सबसे पहले जानते हैं, ड्राई फ्रूट्स के 10 प्रकार।

1.बादाम

बादाम वेट लॉस के लिए सबसे अच्छा ड्राई फ्रूट  (which dry fruits to eat daily for weight loss) है। ये चयापचय दर को बढ़ावा देने, खराब एलडीएल कोलेस्ट्रॉल से लड़ने और यहां तक कि खराब लिपिड में भी कटौती कर सकता है, जो घटाने वाले लोगों के लिए फायदेमंद है। बादाम में कैलोरी की मात्रा बहुत कम होती है। 100 ग्राम बादाम में केवल 576 किलो कैलोरी होता है। रोजाना थोड़ी मात्रा में बादाम का सेवन आपके शरीर को उच्च स्तर के पोषक तत्व प्रदान करता है जो, समग्र स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होते हैं। साथ ही ये प्रोटीन, मोनो-संतृप्त वसा और एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर है, जो आपके भूख को कंट्रोल करता है और वेट लॉस के प्रोसेस में मदद करता है।

2. किशमिश

अगर आप डायबिटीज से पीड़ित हैं, तो आपको किशमिश खाने से बचना चाहिए। पर अगर वजन घटाना चाह रहे हैं, तो किशमिश खाना फायदेमंद है। किशमिश में आयोडीन की उच्च मात्रा होती है। 100 ग्राम किशमिश में, आपको केवल 0.5 ग्राम फैट और 299 किलो कैलोरी मिलेगा, जो उन लोगों के लिए एक बढ़िया, जो वजन कम करने की कोशिश कर रहे हैं।

3. अखरोट

अखरोट कई पोषक तत्वों की भरमार है।  प्रति 100 ग्राम अखरोट में 38.08 ग्राम आमेगा 6 पाया जाता है। इसके साथ ही इसमें विटामिन बी, बिटामिन सी, बिटामिन के, विटामिन बी2 आदि पाया जाता है। अरोट की तासीर गर्म होती है, जिससे शरीर को प्राकृतिक रूप से गर्मी मिलती है। साथ इसका ओमेगा-6 फैटी एसिड शरीर के वसा को कम करने में मदद करते हैं और हृदय स्वास्थ्य को अच्छा रखता है। ये इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाते हैं और सर्दी-जुकाम जैसी मौसमी बीमारियों से बचाने में मदद करते हैं।

4.पिस्ता

पिस्ता में प्रचुर मात्रा में विटामिन और खनिज पाए जाते हैं जो, ब्लड शुगर के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करते हैं। इसके एंटीऑक्सिडेंट शरीर के अतिरिक्त वसा से लड़ने और आपके चयापचय को बढ़ावा देने में भी कारगार है। इसके अलावा जो लोग अक्सर स्नैक खाना पसंद करते हैं ,उन्हें पिस्ता खाने से सबसे ज्यादा फायदा हो सकता है। ये हाई फाइबर से भरपूर है, जो आपके शरीर को लंबे समय तक भरा हुआ महसूस करने में मदद करता है। इसके अतिरिक्त, फाइबर पाचन के लिए अच्छा है क्योंकि यह आंत्र मूवमेंट को सही करने में सहायता करता है।

insidedryfruitsfordiabetesinhindi

इसे भी पढ़ें : सर्दियों में पिस्ता खाना है फायदेमंद, न्यूट्रिनिस्ट से जानें इसमें छुपे गुण

5.खजूर

खजूर स्वाद में समृद्ध है और वजन घटाने के लिए बहुत अच्छा है। ऐसा इसलिए कि खजूर में उच्च फाइबर सामग्री है, जो आपको पूर्ण महसूस करवा के भूख को दबाने में मदद करेगी। नतीजतन, आप अपने भोजन के बीच स्नैकिंग के लिए कम चाह रखेंगे। खजूर आपके शरीर को विटामिन बी 5 प्रदान करते हैं। यह विटामिन आपकी सहनशक्ति को बढ़ाने के लिए जाना जाता है, जिसका अर्थ है कि आप लंबी अवधि तक व्यायाम कर सकते हैं और हेल्दी रह सकते हैं।

6.काजू

काजू भारत में काफी लोकप्रिय हैं। ये आपके शरीर को मैग्नीशियम की अनुशंसित दैनिक खुराक के 73% के साथ प्रदान करते हैं। यह वास्तव में वजन घटाने के लिए (dry fruits for weight loss) बहुत फायदेमंद है क्योंकि मैग्नीशियम आपके शरीर में फैट और कार्बोहाइड्रेट चयापचय को विनियमित करने में मदद करता है। ये दोनों मिलकर आपके वेट लॉस प्रोसेस को तेज करता है।

7.खुबानी

खुबानी खाने के कम से कम 5 घंटे बाद तक आपको भूख लगने से रोक सकती है। इसके अतिरिक्त, वे आपके शरीर को मैग्नीशियम प्रदान करते हैं, जो फैट के चयापचय को नियंत्रित करता है। खुबानी में थोड़ा मीठा स्वाद होता है और आप इन्हें पकाते समय कुछ खास मिठाइयों में मिला सकते हैं। पर डायिटीज के पेशेंट को इसे खाने से बचना चाहिए।

8.अंजीर

अंजीर का सेवन करने से पाचन तंत्र अच्छी तरह काम कर सकता है और कब्ज की समस्या से बचा जा सकता है। पाचन तंत्र को बेहतर करने के लिए दो-तीन अंजीर को रातभर के लिए पानी में भिगोकर रख दें और अगली सुबह ऐसे ही या फिर शहद के साथ खाएं।

9.चिरौंजी

चिरौंजी में प्रचुर मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है। कुछ मात्रा में इसके सेवन से शरीर की प्रोटीन की आवश्यकता पूरी हो जाती है। साथ ही ये शारीर की कमजोरी को दूर करता है और इम्यूनिटी बूस्ट करता है। सर्दी-जुकाम में भी इसका सेवन फायदेमंद होता है। इसे दूध के साथ लें।

insidedryfruitsforweightloss

इसे भी पढ़ें : कब्ज रहती है तो इन 2 तरीकों से रोज खाएं चिरौंजी, दूर होगी आपकी समस्या

10.प्रूनस

प्रूनस (Prunes) को आमतौर पर सूखे प्लम भी कहा जाता है। ये हाई फाइबर से भरपूर होते हैं, जो आंतों के स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। इसे खाने से शरीर के अपशिष्ट और विषाक्त पदार्थों को डिटॉक्स करने में मदद मिलती है। इससे आपको वजन कम करने में आसानी होती है। 100 ग्राम प्रूनस में केवल 240 किलो कैलोरी होता है, जिससे यह उन लोगों के लिए एक अच्छा स्नैक बन जाता है जिन्हें वेट लॉस के लिए अपने दैनिक कैलोरी सेवन को नियंत्रित करने की आवश्यकता होती है।

मेवों को कब खाएं और कैसे खाएं तो मिलेगा ज्यादा फायदा:

अगर आप रोज एक मुट्ठी मेवे नहीं खाना चाहते हैं, तो आप इनका अन्य तरीकों से सेवन कर सकते हैं जो आपके लिए समान रूप से फायदेमंद हैं। उदाहरण के लिए:

  • -बादाम का दूध पीना, बादाम के पोषक तत्व और दूध की अच्छाई प्रदान कर सकता है। बादाम के दूध में फैट और कैलोरी की मात्रा कम होती है, इसलिए आप इसे रोज रात में या सुबह नाश्ते में पी सकते हैं।
  • -बादाम और किशमिश को रात में भीगो कर रख दें और सुबह खाली पेट खाएं।
  • -बादाम, किशमिश, नट्स या काजू के साथ सुबह में एक स्मूदी बना कर भी ले सकते हैं।
  • -आप पोस्ट वर्कआउट डाइट में भी ड्राई फ्रूट्स को शामिल कर सकते हैं।
  • -क्रेविंग होने पर स्नैक्स के रूप में इसे खाएं।
  • -रोज लगभग 20 ग्राम से अधिक ड्राई फूट्स का सेवन न करें।

तो अपनी डाइट में इन 10 ड्राई फूट्स को शामिल करें और इनके स्वास्थ्य लाभों का फायदा उठाएं। पर ध्यान रहे कि डायबिटीज के पेशेंट और हार्ट डिजीज से पीड़ित लोग अपने डॉक्टर और डायटिशियन से पूछ कर ही ड्राई फूट्स खाने की कोशिश करें।

Read more articles on Healthy-Diet in Hindi

Disclaimer