जमीन पर खड़े होते ही आने लगता है चक्कर? हो सकती है ग्रेविटी एलर्जी, जानें इसके बारे में

Gravity Allergy in Hindi: गुरुत्वाकर्षण बल से एलर्जी का एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसकी वजह से महिला को खड़े होने में परेशानी हो रही है।

 
Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: Sep 12, 2022Updated at: Sep 12, 2022
जमीन पर खड़े होते ही आने लगता है चक्कर? हो सकती है ग्रेविटी एलर्जी, जानें इसके बारे में

Gravity Allergy in Hindi: अजीबोगरीब रहस्यों से भरी दुनिया में कई बार ऐसे वाकये सामने आते हैं, जिसको सुनकर लोग अचंभित हो जाते हैं। कई बार कुछ ऐसी स्थितियां भी सामने आती हैं, जिनके बारे में मेडिकल साइंस भी पुख्ता तौर पर जानकारी नहीं दे पाता है। इंटरनेट पर आप अक्सर अजीबोगरीब बीमारियों के बारे में सुनते होंगे। इस बार भी एक ऐसी ही अजीबोगरीब बीमारी के बारे में पता चला है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक लिंडसी जॉनसन नाम की एक महिला ने बताया है कि उसे एक ऐसी बीमारी है, जिसकी वजह से जमीन पर खड़े होते ही उसे चक्कर आने लगते हैं और वह गिर जाती है। इस बीमारी की वजह से महिला वह महिला लगभग 23 घंटे तक बिस्तर पर ही रहती है। महिला के मुताबिक वह बिना पासआउट हुए तीन मिनट से ज्यादा जमीन पर खड़ी नहीं हो पाती है। आइए विस्तार से जानते हैं यह समस्या आखिर क्या है? मेडिकल साइंस इस बीमारी या समस्या को लेकर क्या कहता है?

ग्रेविटी एलर्जी के कारण होता है ऐसा- Gravity Allergy Explained in Hindi

Gravity Allergy in Hindi

नेशनल पोस्ट वेबसाइट पर मिली जानकारी के मुताबिक महिला ने बताया है कि वह 3 मिनट तक खड़ी होती हैं, तो उन्हें उल्टी आने लगती है और बेहोश होकर गिर जाती हैं। 28 वर्षीय इस महिला को दरअसल गुरुत्वाकर्षण से एलर्जी है। गुरुत्वाकर्षण से एलर्जी को ग्रेविटी एलर्जी (Gravity Allergy) कहते हैं। आसान भाषा में कहें तो गुरुत्वाकर्षण बल वह बल है, जो सूर्य और पृथ्वी के बीच में काम करता है। इसकी वजह से चीजें पृथ्वी की तरह खिंचती हैं। बताया जा रहा है कि गुरुत्वाकर्षण बल से एलर्जी होने की वजह से इस महिला को परेशानियां हो रही हैं। इसकी वजह से उन्हें खड़े होते ही दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।

ग्रेविटी एलर्जी से क्या होता है?

महिला के मुताबिक ग्रेविटी एलर्जी की वजह से उसे खड़े होने पर चक्कर आना, बेहोशी और मतली की समस्या का सामना करना पड़ता है। मीडिया रिपोर्ट्स में यह कहा गया है कि लेती रहने पर उन्हें अच्छा लगता है। 28 वर्षीय यह महिला पहले नौसेना में काम करती थी, जिसके बाद कुछ समस्याएं होने पर उसे अस्पताल में भर्ती किया गया। अस्पताल में भर्ती होने के बाद डॉक्टर ने लंबे समय तक उसका इलाज किया लेकिन स्थिति का पता लगाने में असफल रहे। बकौल लिंडसी वह इसकी वजह से होने वाली समस्याओं से बचने के लिए बीटा-ब्लॉकर्स का इस्तेमाल करती हैं, जिससे उनकी परेशानियां कम होती हैं।

इसे भी पढ़ें: 19 साल की लड़की ने दिया जुड़वां बच्चों को जन्म, दोनों के पिता अलग, जानें क्या कहता है मेडिकल साइंस

फिलहाल अभी तक इस स्थिति के बारे में बहुत जानकारी नहीं मिल पायी है। वैज्ञानिकों के पास भी इस स्थिति के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है। कुछ वैज्ञानिकों और डॉक्टर्स ने इस स्थिति को ग्रेविटी एलर्जी नाम दिया है, लेकिन इसके बारे में विशेष जानकारी नहीं है।

(Image Courtesy: Freepik.com)

Disclaimer