Expert

आंखों की रोशनी कम या नजर कमजोर किस विटामिन की कमी से होती है?

What Deficiency Causes Weak Or Poor Eyesight: कमजोर नजर या आंखों की रोशनी कम होने के लिए शरीर में कई पोषक तत्वों की कमी जिम्मेदार हो सकती है।

 

Vineet Kumar
Written by: Vineet KumarPublished at: Sep 11, 2022Updated at: Sep 11, 2022
आंखों की रोशनी कम या नजर कमजोर किस विटामिन की कमी से होती है?

What Deficiency Causes Weak Or Poor Eyesight: आंखें हमारे शरीर का एक महत्वपूर्ण अंग हैं। शरीर के अन्य अंगों की तरह आंखों के स्वास्थ्य का भी ध्यान रखना बहुत जरूरी है। लेकिन इन दिनों में लोगों में आंखों की रोशनी कमजोर या नजर कमजोर होने की समस्या काफी तेजी से बढ़ रही है। यहां तक आजकल छोटे-छोटे बच्चों को साफ देखने के लिए चश्मे की जरूरत पड़ रही है। नजर कमजोर होने के वैसे तो कई कारण हैं, लेकिन इसका एक बड़ा कारण शरीर में पोषण की कमी होना भी है। क्लीनिकल न्यूट्रिशनिस्ट और डायटीशियन गरिमा गोयल की मानें तो हमारी आंखों को स्वस्थ रखने में कुछ विटामिन और मिनरल्स बहुत अहम भूमिका निभाते हैं। जब आप संतुलित और पोषक तत्वों से भरपूर आहार नहीं लेते हैं, या आपके आहार में इन विटामिन्स और मिनरल्स की कमी होती है तो यह आपकी आंखों की रोशनी को प्रभावित करते हैं। साथ ही इससे आंखों से जुड़ी कई अन्य समस्याओं का जोखिम भी बढ़ जाता है।

अब सवाल यह उठता है कि आंखों की रोशनी कम या नजर कमजोर किस विटामिन या मिनरल्स की कमी से होती है? इस लेख में हम आपको ऐसे 9 पोषक तत्वों के बारे में बता रहे हैं, जो आपकी आंखों को सेहतमंद रखने में अहम भूमिका निभाते हैं और जिनकी कमी नजर कमजोर होने का कारण बनती है।

किस विटामिन की कमी से आंखों की रोशनी या नजर कमजोर होती है?- Which Vitamin Deficiency Causing Weak Or Poor Eyesight

1. विटामिन ए (Vitamin A)

यह विटामिन आंखों के बाहरी हिस्से पर एक सुरक्षात्मक आवरण बनाने में मदद करता है, जो आंखों को नुकसान से बचाता है। शकरकंद, गाजर, हरी पत्तेदार सब्जियां, कद्दू और काली मिर्च आदि में विटामिन ए की अच्छी मात्रा होती है।

Which Vitamin Deficiency Causing Weak Or Poor Eyesight

इसे भी पढें: आधे शरीर में दर्द क्यों होता है? डॉक्टर से जानें इसके 5 कारण

2. विटामिन बी (Vitamin B)

विटामिन बी 6, बी9 और बी12 आंखों को स्वस्थ रखने में बहुत अहम भूमिका निभाते हैं। दूध और दूध से बने उत्पाद, हरी पत्तेदार सब्जियां, नट्स, ड्राई फ्रूट्स और बीज, मीट, दाल, बीन्स आदि में यह विटामिन भरपूर मात्रा में होता है। 

3. विटामिन सी (Vitamin C)

यह आपकी आंखों को नुकसान से बचाने के साथ ही आंखों के लिए जरूरी कोलेजन प्रोटीन के संश्लेषण में मदद करता है। आंवला, नींबू, संतरी, मौसमी, अमरूद, काली मिर्च, ब्रोकोली और केल आदि विटामिन सी का बेहतरीन स्रोत हैं।

2. विटामिन ई (Vitamin E)

यह विटामिन एक एंटीऑक्सिडेंट्स के रूप में काम करता है, जिससे यह आपकी आंखों के सेल्स फ्री-रेडिकल्स और अन्य हानिकारक कणों से होने वाले नुकसान से बचाने में मदद करता है। सैल्मन, एवोकैडो, नट्स और हरी पत्तेदार सब्जियों में विटामिन ई प्रचुर मात्रा में मौजूद होता है।

5. राइबोफ्लेविन (Riboflavin)

यह भी एक एंटीऑक्सीडेंट है जो ऑक्सीडेटिव तनाव को कम करने और आंखों को नुकसान से बचाने में मदद करता है। ओट्स, दूध, दही, मीट और साबित अनाज आदि में इसकी प्रचुर मात्रा होती है।

6. नियासिन (Niacin)

यह शरीर में भोजन को ऊर्जा में बदलने और एंटीऑक्सीडेंट का काम करता है। जिससे यह आपको आंखों को नुकसान से बचाने और सेहतमंद रखने में मदद करता है। मीट, मछली, मशरूम, दाल, मूंगफली और बीन्स में नियासिन अच्छी मात्रा में होता है।

7. ल्यूटिन और जेक्सैन्थिन (Lutein And Zeaxanthin)

ल्यूटिन और ज़ेक्सैंथिन कैरोटीनॉयड हैं, जो न सिर्फ आंखों को ब्लू लाइट से होने वाले नुकसान से बचाते हैं बल्कि दृष्टि में भी सुधार करते हैं। हरी पत्तेदार सब्जियां, पालक, केल और कोलार्ड आदि में उनकी अच्छी मात्रा होती है।

8. ओमेगा-3 फैटी एसिड (Omega-3 Fatty Acid)

यह रेटिना की कोशिकाओं को बनाने और उन्हें स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। देसी घी, सरसों, कैनोला और जैतून का तेल,  मछली, नट्स और बीज आदि हेल्दी फैट्स से भरपूर होते हैं।

इसे भी पढें: सिर की नसों में दर्द से परेशान हैं? डॉक्टर से जानें इलाज

9. थायमिन (Thiamine)

यह मोतियाबिंद के जोखिम को कम करने में मदद करता है और आंखों को इस गंभीर बीमारी से बचाने में मदद करता है। साबुत अनाज, मांस और मछली आदि में इसकी अच्छी मात्रा होती है।

(With Inputs: Dietitian Garima Goyal, MS, RD, CDE, Founder- Dt. Garima Diet Clinic , Ludhiana, Punjab)

All Image Source: Freepik

Disclaimer