पैराबेन फ्री शैम्पू कैसे है बालों के लिए फायदेमंद, जानें इससे होने वाले नुकसान और फायदे

पैराबेन और सल्फेट बहुत सारे शैंपू और ब्यूटी प्रोडक्टस को बनाने के लिए इस्तेमाल किए जाते हैं। इसके कई नुकसान और फायदे हैं, जानें।

सम्‍पादकीय विभाग
बालों की देखभालWritten by: सम्‍पादकीय विभागPublished at: Mar 10, 2020Updated at: Mar 10, 2020
पैराबेन फ्री शैम्पू  कैसे है बालों के लिए फायदेमंद, जानें इससे होने वाले नुकसान और फायदे

पैराबेन और सल्फेट बहुत सारे शैंपू और ब्यूटी प्रोडक्टस को बनाने के लिए इस्तेमाल किए जाते हैं. लेकिन इनके हानिकारक प्रभावों के चलते आजकल पैराबेन फ्री शैंपू का इस्तेमाल किया जाता है.पैराबेन और सल्फेट बहुत सारे शैंपू और ब्यूटी प्रोडक्टस को बनाने के लिए इस्तेमाल किए जाते हैं. साधारण तौर पर क्रीम, लोशन और क्लींज़र आदि बनाने के लिए पैराबेन का इस्तेमाल किया ही जाता है. लेकिन आजकल लोग उस तेल और शैंपू का इस्तेमाल करने से बचते हैं जिनमें पैराबेन होता है. लेकिन ऐसा क्यों ? क्या पैराबेन शैंपू बालों के लिए नुकसान दायक होते हैं? शरीर के लिए क्यों नुकसानदायक होता है पैराबेन? आइए जानते हैं इस आर्टिकल में।

hair

हार्मोन साइकल पर डालता है असर- 

पैराबेन का इस्तेमाल आमतौर पर कई ब्यूटी प्रोडक्टस बनाने के लिए किया जाता है. पैराबेन हार्मोन साइकल को प्रभावित करता है. यह एस्ट्रोजन को कम करता है और महिलाओं में इस महत्वपूर्ण हार्मोन के उत्पादन को प्रभावित कर देता है. यह स्तन कैंसर के रिस्क को बढ़ा देता है

त्वचा के लिए होता है हानिकारक-

पैराबेन त्वचा के माध्यम से आसानी से अवशोषित हो जाता है. इस वजह से ये त्वचा के साथ ही स्कैल्प पर भी बुरा असर डालते हैं. एक रिसर्च के अनुसार पैराबेन से बने पदार्थों का इस्तेमाल करने वाले लोगों के मूत्र और खून में यह पाया गया. इससे बने प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करने से स्पर्म काउंट कम हो सकता है साथ ही इससे टेस्टिकल कैंसर भी हो सकता है.

इसे भी पढ़ेंः आयुर्वेद के साथ बालों की करें अंदरुनी और बाहरी देखभाल, नहीं होंगे कभी गंजेपन का शिकार

पैराबेन एक ऐसा तत्व होता है जिसका इस्तेमाल अगर शैंपू को बनाने में किया जाए तो शैंपू 2-3 सालों तक और चल सकता है. लेकिन पैराबेन और सल्फेट मिक्स शैंपू बालों को कमजोर बना देता है,इसलिए पैराबेन शैंपू नहीं बल्कि पैराबेन फ्री शैंपू का इस्तेमाल करना चाहिए.

haircare

पैराबेन-सल्फेट फ्री शैंपू के फायदे

1. जिन शैंपू में सल्फेट और पैराबेन नहीं पाया जाता है वे बालों का पोषण बरकरार रखते हैं और इससे दोमुंहे बालों की समस्या कम होती है साथ ही बालों का टूटना भी कम होता है.

2. सल्फेट बालों में से धूल और तेल तो निकाल सकता है लेकिन कई रिसर्च बताते हैं कि इसमें टॉक्सिन भी पाए जाते हैं. बालों के गिरने और पतले होने का यह मुख्य कारण है जो कि हेयर फॉलिकल्स खत्म हो जाते हैं और नए बाल भी नहीं उगते हैं. इसलिए सल्फेट-पैराबेन फ्री शैंपू का इस्तेमाल सेहत के लिए लाभदायक होता है.

3. एस्ट्रोजन हार्मोल का लेवल बढ़ने से ब्रेस्ट कैंसरी की समस्या हो सकती है. यह पाया गया है कि  पैराबेन वास्तव में खुद को एस्ट्रोजन रिसेप्टर्स से जोड़ते हैं, इसका परिणाम यह है कि पैराबेन शरीर पर कमजोर एस्ट्रोजन प्रभाव का कारण बनता है. ऐसे में इसका इस्तेमाल करना एक तरह से खतरनाक हो सकता है. ऐसे में पैराबेन फ्री शैंपू का इस्तेमाल ज्यादा फायदेमंद होता है।

इसे भी पढ़ेंः तनाव ही नहीं बल्कि इन कारणों से भी झड़ सकते हैं पुरुषों के बाल, जानें इससे बचने के तरीके

4. पैराबेन के कारण त्वचा पर जलन और एलर्जी जैसी समस्या हो जाती है साथ ही सल्फेट तो आंखो पर काफी हानिकारक असर डालता है. इसलिए आपको बच्चों के लिए पैराबेन और सल्फेट फ्री शैंपू का इस्तेमाल करना चाहिए।

5. पैराबेन- सल्फेट फ्री शैंपू बालों की चमक को बरकरार रखते हैं. इनका इस्तेमाल करने से बालों की चमक जल्दी खोती नहीं और बाल खूबसूरत बने रहते हैं.

6. अगर आप बालों को कलर करवाते हैं तो उसके बाद भी पैराबेन- सल्फेट फ्री शैंपू का इस्तेमाल करना ज्यादा सही रहता है. ऐसा करने से आपके बालों का रंग जल्दी ढ़लता नहीं है और आपके बालों के रंग की रंगत लंबे समय तक बनी रहती है.

7. पैराबेन- सल्फेट फ्री शैंपू का इस्तेमाल करने से बालों में खुजली की समस्या भी नहीं होती और साथ ही इससे बाल रुखे और बेज़ान होकर उलझते भी नहीं है.

Read more Articles on Hair Care in Hindi

Disclaimer