Hair care With Ayurveda: आयुर्वेद के साथ बालों की करें अंदरुनी और बाहरी देखभाल, नहीं होंगे कभी गंजेपन का शिकार

बालों का झड़ना हर दूसरे व्यक्ति की आम समस्या बन गया है, लेकिन सही देखभाल आपको गंजा होने से बचा सकती है। 

Jitendra Gupta
Written by: Jitendra GuptaPublished at: Mar 05, 2020Updated at: Mar 05, 2020
Hair care With Ayurveda: आयुर्वेद के साथ बालों की करें अंदरुनी और बाहरी देखभाल, नहीं होंगे कभी गंजेपन का शिकार

तेजी से भागती इस दौड़ भरी जिंदगी, गतिहीन जीवनशैली और खान-पान की खराब आदतों ने लोगों की जिंदगियों को इस कदर प्रभावित किया है कि लोग बीमारियों से लेकर गंजेपन का शिकार हो रहे हैं। बालों का झड़ना, टूटना और गंजापन मौजूदा वक्त में हर दूसरे व्यक्ति की परेशानी बनता जा रहा है। लोग कम उम्र में ही गंजेपन जैसी समस्या का शिकार हो रहे हैं, जिसके कारण उनमें आत्म-विश्वास की कमी भी साफ झलकती है। बालों को झड़ने से बचाने के लिए अक्सर लोग महंगे-मंहगे शैम्पू और कंडीशनर का प्रयोग करते हैं लेकिन बालों का झड़ना कम नहीं होती है क्योंकि बालों की देखभाल बाहरी रूप से करने के साथ-साथ अंदर से भी करना जरूरी है। इस बात को ज्यादातर लोग समझ नहीं पाते और गंजेपन का शिकार हो जाते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि आयुर्वेद आपके झड़ते बालों को रोकने में मदद कर सकता है। अगर आप सोच रहे है कि ऐसा कैसे हो सकता है तो ऑयुर्वेद डॉ. प्रीति मंगेश देशमुख आपको कुछ ऐसे टिप्स बता रही हैं, जिनके जरिए आप आसानी से बालों की अंदरुनी व बाहरी देखभाल कर सकते हैं या कर सकती हैं।

haircare

डॉ. प्रीति मंगेश का कहना है कि हमारे बाल किसी पौधे से कम नहीं है, जिस तरह हमें बढ़ते हुए पौधे की देखभाल करनी होती है ताकि वह सूख कर मर न जाए ठीक वैसे ही बालों की देखभाल की भी जरूरत होती है। बालों की देखभाल के लिए हमें हमेशा एक रूटीन फॉलो करना चाहिए। हमेशा रूटीन फॉलो नहीं करने वाले लोग ही गंजेपन का शिकार और बालों के झड़ने की समस्या से परेशान होते हैं।

आयुर्वेद से जानें बालों की देखभाल का सही तरीका

बालों की बाहरी उपचार

बालों पर तेल लगानाः जब आपको लगे कि आपके बाल हल्के हैं या ज्यादा टूट रहे हैं तो सप्ताह में तीन बार अपने बालों पर तेल लगाएं। जब बालों का टूटना कम हो जाए तो सप्ताह में दो बार तेल लगाना शुरू कर दें। बालों पर तेल लगाने के लिए हमेशा एक अच्छी क्वालिटी वाला ही नारियल तेल का इस्तेमाल करें। इसके अलावा आप आयुर्वेद डॉक्टर के पास से मेडिकेटेड नारियल तेल का भी प्रयोग कर सकते हैं। 

बालों पर तेल लगाने से पहले तेल को हल्का गर्म कर लें और रुई से तेल को बालों की जड़ों पर लगाएं। ध्यान रखें की बालों पर तेल न लगे। धीरे-धीरे अपनी उंगलियों से जड़ों की मसाज करें।

सप्ताह में दो बार ही हेयर शैम्पू से बालों को धोएं। पूर्ण रूप से साफ-स्वच्छता बालों को हेल्दी बनाने में एक अहम भूमिका निभाती है।

इसे भी पढ़ेंः प्याज के रस में मिलाकर लगाए नारियल-ऑलिव ऑयल का तेल, बदबू होगी दूर बाल होंगे रेशमी और मजबूत

baldness

बालों का अंदरूनी उपचार

बालों को हेल्दी बनाने में आपकी डाइट भी एक बहुत बड़ी भूमिका निभाती है। लंबे, घने और चमकदार बालों के लिए सभी प्रकार के पोषण की जरूरत होती है। साथ ही आपको अधिक कैल्शियम वाले फूड के सेवन की जरूरत होती है।

  • दिन में दो बार दूध पीएं।
  • 2-4 बादाम रोजाना खाएं।
  • दिन में 1 अखरोट जरूर खाएं। 
  • हरी पत्तेदार सब्जी जैसे पालक और भिन्डी का सेवन बढ़ाएं।
  • छाछ, मशरूम का सेवन करें।
  • नॉनवेज जैसे चिकन और मछली का सेवन भी बालों को बढ़ाने में मदद करता है।
  • एंटी-कैल्शियम युक्त भोजन से बचें (ऐसे खाद्य पदार्थ जो शरीर में कैल्शियम को कम करते हैं)
  • अत्यधिक चाय, कॉफी, दही, अचार, पापड़, तैलीय भोजन, मसालेदार भोजन, नमकीन और अत्यधिक खट्टे खाद्य पदार्थ न खाएं।

इसे भी पढ़ेंः 30 की उम्र में बालों को साफ और हेल्दी रखेंगे ये 19 टिप्स, बालों का झड़ना- टूटना होगा बंद

जरूरी टिप्स, जिन्हें अपनाना आपके लिए है बेहद फायदेमंद

  • पर्याप्त मात्रा यानी की 7 से 8 घंटे की नींद जरूर लें। 
  • मानसिक आराम के लिए ध्यान लगाएं और योग करें। 
  • निरंतर अंतराल पर भोजन करें। 
  • सही पाचन को बनाएं रखने के लिए सुबह खाली पेट एक्सरसाइज करें।

Read More Articles On Hair Care in Hindi

Disclaimer