साबुन या फेस वॉश, क्या हैं चेहरे के लिए सही?

कुछ लोग साबुन से चेहरा धोते हैं तो कुछ फेस वॉश से। जानें इन दोनों में से चेहरे की स्किन के लिए कौन ज्यादा सही है और क्यों।

सम्‍पादकीय विभाग
त्‍वचा की देखभालWritten by: सम्‍पादकीय विभागPublished at: Jul 24, 2022Updated at: Jul 24, 2022
 साबुन या फेस वॉश, क्या हैं चेहरे के लिए सही?

कई बार हम चेहरे पर महंगे प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल तो करते हैं, लेकिन मन मुताबिक रिजल्ट नहीं मिलने के कारण परेशान रहते हैं। चेहरे को चमकदार और हेल्दी बनाए रखने के लिए सही स्किन केयर रूटीन  के साथ-साथ सही प्रोडक्ट का इस्तेमाल करना भी बहुत जरूरी है। जैसे कुछ लोग चेहरा धोने के लिए साबुन का इस्तेमाल करते हैं, तो कुछ लोग फेस वॉश यूज करते हैं। अब सवाल ये उठता है कि स्किन के लिए साबुन का इस्तेमाल ज्यादा सही है या फेस वॉश का। इस लेख में हम इसी बारे में जानेंगे।  

चेहरे के लिए साबुन का इस्तेमाल

त्वचा का पीएच लेवल 4 से 6.5 के बीच होता है। साबुन त्वचा के पीएच लेवल के बैलेंस को खराब करता है। इसे त्वचा पर बुरा असर पड़ता है।  इसके अलावा साबुन के इस्तेमाल से त्वचा की प्राकृतिक नमी छिन जाती है, जिसके कारण त्वचा रूखी हो जाती है। साबुन में मौजूद कठोर रसायन त्वचा को डैमेज करते हैं। स्किन पर लगातार साबुन के इस्तेमाल से झुर्रियां और पिंपल्स की समस्या काफी बढ़ सकती है। वहीं इसका इस्तेमाल करना साफ-सफाई के लिहाज से भी सही नहीं रहता क्योंकि साबुन खुला रहता है। बाथरूम में साबुन खुला रखना रहने के कारण इस पर लाखों बैक्टीरिया मौजूद हो सकते हैं। 

वहीं कुछ साबुन स्किन के लिए अच्छे भी सकते हैं। ऐसे साबुन केवल फेस के लिए ही बने होते हैं। फेस पर जब भी साबुन का इस्तेमाल करना जरूरी हो जाए, तो ऐसे समय में हर्बल साबुन,  मेडिकेटेड और ग्लिसरीन युक्त साबुन का आप इस्तेमाल आप कर सकते हैं। ध्यान रखें कोई भी साबुन इस्तेमाल करने से पहले स्किन पर पैच टेस्ट जरूर कर लें। साबुत इस्तेमाल करते समय उसे पहले वॉश जरूर करें।

चेहरे के लिए फेसवॉश का इस्तेमाल

चेहरे की त्वचा शरीर के अन्य अंगों के त्वचा की अपेक्षा ज्यादा सेंसिटिव होती है। इसलिए फेस वॉश को विशेष तौर पर चेहरे की सफाई के लिए बनाया जाता है और इसमें हार्ड केमिकल्स का इस्तेमाल कम किया जाता है।    फेसवॉश स्किन को ग्लोइंग बनाता है और साबुन की अपेक्षा इसके इस्तेमाल से स्किन को कई समस्याओं से बचाया जा सकता है। । फेसवॉश आप अपनी स्किन टाइप के अनुसार भी चुन सकते हैं। फेसवॉश चेहरे  की त्वचा को मुलायम बनाता है। साबुन के मुकाबले फेसवॉश ज्यादा हाइजीनिक होते हैं क्योंकि इनको इस्तेमाल करने के बाद इसके ट्यूब या कंटेनर को बंद करके रखा जा सकता है।  फेसवॉश का इस्तेमाल आप दिनभर में 2 से 3 बार कर सकते हैं। 

मौसम के अनुरूप भी आप फेसवॉश का इस्तेमाल कर सकते हैं। मॉनसून में ऐसे फेसवॉश का इस्तेमाल करें, जिसमें हल्दी और एंटी-ऑक्सीडेंट्स गुण मौजूद हों, क्योंकि जहां हल्दी त्वचा के रोगों से बचाएंगी,  वहीं एंटी-ऑक्सीडेंट्स त्वचा को निखारने में मदद करेंगे। गर्मियों में ऑयल कंट्रोल फेसवॉश का इस्तेमाल करें, जिससे स्किन फ्रेश दिखेगी। स्किन पर ज्यादा पिंपल्स से परेशान हैं, तो नैचुरल फेसवॉश भी यूज कर सकते हैं। सर्दियों के लिए ऐसे फेसवॉश का चुनाव करें, जो स्किन को पोषण दें। 

इसे भी पढ़ें- मॉनसून में ट्राई करें टमाटर फेशियल, दमक उठेगी त्वचा

facewash for skin

साबुन या फेसवॉश चेहरे के लिए किसका इस्तेमाल ज्यादा सही है?

साबुन जहां चेहरे को रूखा बनाता है, वहीं फेसवॉश चेहरे की नाजुक त्वचा का ख्याल रखता है। इसके अलावा साबुन की अपेक्षा फेसवॉश ज्यादा हाईजीनिक होता है, इसलिए चेहरा साफ करने के लिए फेसवॉश का इस्तेमाल साबुन से ज्यादा बेहतर है।

All Image Credit- Freepik

Disclaimer