पार्टनर में द‍िखें ये 5 लक्षण, तो समझिए टॉक्‍स‍ि‍क (खराब) है आपका र‍िश्‍ता

टॉक्‍स‍िक या खराब व्‍यक्‍त‍ित्‍व वाले लोग आसानी से समझ नहीं आते हैं। जानते हैं टॉक्‍स‍िक पार्टनर के 5 लक्षण।

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurUpdated at: Oct 27, 2022 14:00 IST
पार्टनर में द‍िखें ये 5 लक्षण, तो समझिए टॉक्‍स‍ि‍क (खराब) है आपका र‍िश्‍ता

कई बार हम र‍िश्‍ते बनाते समय भूल कर बैठते हैं। व्‍यक्‍त‍ि को अच्छी तरह समझे बगैर ही उसके साथ र‍िश्‍ता कायम कर लेते हैं। लेक‍िन कई बार ब‍िना जाने-पहचाने व्‍यक्‍त‍ि को चुनकर, उसके साथ रहने के बाद असली रूप देखने को म‍िलता है। कई बार पार्टनर का स्‍वभाव उम्‍मीद से ज्‍यादा अच्‍छा होता है। लेक‍िन कई बार पार्टनर का व्‍यवहार खराब न‍िकल जाता है। अगर आपके र‍िश्‍ते में भी प्‍यार की कमी है, तो इसका कारण पार्टनर का खराब व्‍यवहार हो सकता है। जानते हैं टॉक्‍स‍िक पार्टनर के 5 लक्षण।

partner relationship

1. बात-बात पर लड़ना 

अगर आपका पार्टनर बात-बात पर लड़ाई करता है, तो इसका मतलब आप खराब र‍िश्‍ते में फंस गए हैं। साथी की मदद से आप गुस्‍से को कम कर सकते हैं। लेक‍िन साथी पर गुस्‍सा उतारना या लड़ना ठीक नहीं है। आपके पार्टनर का स्‍वभाव लड़ने का है, तो उसे समझाएं। ऐसा हो सकता है दोनों पार्टनर क‍िसी बात पर असहमत हों, लेक‍िन लड़ाई वाले र‍िश्‍ते ज्‍यादा समय तक नहीं ट‍िकते।

इसे भी पढ़ें- कई तरह के होते हैं लव रिलेशनशिप? किस तरह के रिश्ते में हैं आप? 

2. बेवजह शक करना 

क‍िसी भी र‍िश्‍ते की डोर व‍िश्‍वास पर ट‍िकी होती है। अगर आपका पार्टनर शक करता है, तो ये एक टॉक्‍स‍िक यानी खराब व्‍यक्‍त‍ित्‍व की न‍िशानी है। शक के कारण अच्‍छे र‍िश्‍ते भी खराब हो जाते हैं। अगर पार्टनर अपने पास्‍ट के बारे में आपसे कुछ बातें शेयर करे, तो उसके आधार पर उसे जज न करें। इससे र‍िश्‍ता कमजोर होता है। पार्टनर पर भरोसा करें। शक करने वाला इंसान र‍िश्‍ते के ल‍िए सही नहीं होता।

3. पार्टनर की इज्‍जत न करना 

आपका पार्टनर आपकी इज्‍जत न करे, तो समझ जाएं उसका स्‍वभाव आपके ल‍िए ठीक नहीं है। पार्टनर को कंट्रोल करके रखना खराब र‍िश्‍ते की न‍िशानी मानी जाती है। एक र‍िश्‍ते में साथ होने का मतलब है एक-दूसरे के फैसले और आदतों की इज्‍जत करना। अपने पार्टनर को खुद से कम समझने की गलती न करें। दोनों साथी एक समान होते हैं। ऐसा न मानने वाले पार्टनर का स्‍वभाव टॉक्‍स‍िक माना जाता है।

4. गुस्‍सा करना या हावी होना 

टॉक्‍स‍िक र‍िलेशनश‍िप या गलत पार्टनर का एक लक्षण गुस्‍सैल स्‍वभाव भी होता है। पार्टनर के ऊपर बेवजह च‍िल्‍लाना, उसके मन की कद्र न करना, हर वक्‍त गुस्‍से से पेश आना आद‍ि। ये लक्षण बताते हैं क‍ि आपका र‍िश्‍ता कमजोर है। पार्टनर का असहज बर्ताव आपको परेशान कर सकता है। ये व्‍यवहार मह‍िला या पुरूष क‍िसी में भी हो सकता है।

5. गलत भाषा का प्रयोग 

पार्टनर आपसे बात करते समय गलत भाषा का इस्‍तेमाल करता है या करती है, तो ये टॉक्‍स‍िक र‍िश्‍ते की एक न‍िशानी है। कई पार्टनर घर में मेंटल या फ‍िज‍िकल एब्‍यूज के श‍िकार होते हैं। ये अच्‍छे र‍िश्‍ते की न‍िशानी नहीं है। आपको पार्टनर के साथ बैठकर बात करनी चाह‍िए। अगर ये उनके स्‍वभाव में है, तो बदलना मुश्‍कि‍ल हो सकता है। लेक‍िन ऐसे र‍िश्‍ते में रहना भी आपके ल‍िए सही नहीं है।

टॉक्‍स‍िक या खराब पार्टनर के लक्षण नजर आने पर अपने पर‍िवार या दोस्‍तों से बात करें।     

Disclaimer