सलमान खान और इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू की सलाह, कोरोना वायरस से बचा सकता है 'भारतीय नमस्ते'

सलमान खान ने अपनी शर्टलेस फोटो पोस्ट करते हुए लिखा कि कोरोना वायरस से बचना है, तो नमस्ते और सलाम करो, गले बाद में मिलना।

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Mar 06, 2020
सलमान खान और इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू की सलाह, कोरोना वायरस से बचा सकता है 'भारतीय नमस्ते'

कोरोना वायरस से दिल्ली एनसीआर ही नहीं, बल्कि अब बॉलीवुड भी सचेत हो गया है। बॉलीवुड अभिनेता सलमान खान ने गुरूवार को इंस्टाग्राम पर अपनी शर्टलेस फोटो पोस्ट करते हुए लोगों को कोरोना वायरस से बचने की विशेष सलाह दी। रिपोर्ट्स के अनुसार मुंबई में भी कोरोना वायरस के 9 संदिग्ध मरीज पाए गए हैं। कोरोना वायरस के लगातार बढ़ते मामलों ने भारत, खासकर दिल्ली एनसीआर में रहने वाले लोगों को चिंता में डाल रखा है। भारत में अब तक कोरोना वायरस के 30 मामले सामने आ चुके हैं, जिनमें 15 विदेशी (इटली के) नागरिक हैं। अच्छी बात ये है कि 3 मरीजों को कोरोना वायरस की चपेट से निकाल लिया गया है और अब वे पूरी तरह ठीक हैं। इंटरनेट पर कोरोना वायरस से बचाव के लिए तमाम टिप्स और तरीके बताए जा रहे हैं। मगर बॉलीवुड के भाईजान और दबंग एक्टर सलमान खान ने अपने अंदाज में इससे बचने के बेहद आसान तरीका बताया।

सलमान खान की एडवाइस, ऐसे बचें कोरोना वायरस से

सलमान खान ने लिखा, "नमस्कार... हमारी सभ्यता में नमस्ते और सलाम है! जब #Coronavirus खत्म हो जाए तब हाथ मिलाओ और गले लगो...।" सलमान खान की इस सलाह से दुनियाभर के तमाम एक्सपर्ट्स भी इत्तेफाक रखते हैं। दरअसल कोरोना वायरस 'ह्यूमन टू ह्यूमन कॉन्टैक्ट' यानी एक व्यक्ति के दूसरे से संपर्क में आने के कारण फैलता है। इसलिए एक्सपर्ट्स का कहना है कि जब तक ये वायरस पूरी तरह खत्म नहीं हो जाता है, तब तक लोगों को हाथ मिलाने और गले मिलने से बचना चाहिए।

इजराइल के प्रधानमंत्री ने भी बताया भारतीय नमस्ते को ग्रेट

सलमान ही नहीं, इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने भी हाल में ही इस बात पर जोर दिया था कि अभिवादन करने के लिए हाथ मिलाने के जगह भारतीय परंपरा में प्रचलित नमस्ते का इस्तेमाल करें। उन्होंने कहा, "जैसे मैं हाथ मिलाने से बच रहा हूं, आप भी वैसा ही करें। आप नमस्ते करने के भारतीय तरीके को लागू करने की कोशिश कर सकते हैं या ‘शालोम’ की तरह कोई अन्य शब्द कह सकते हैं। या कोई अन्य तरीका खोजे, लेकिन किसी भी तरह हाथ न मिलाएं।’’

कोरोना वायरस से बचाने में 'नमस्ते' कितना कारगर है?

कोरोना वायरस दुनियाभर के लिए दहशत का कारण बना हुआ है, मगर इस खतरनाक वायरस से बचने का तरीका बेहद आसान है। कोरोना वायरस के संक्रमण से प्रभावित व्यक्ति के छींकने या खांसने के दौरान नाक और मुंह से जो छोटी-छोटी बूंदें निकलती हैं, वही कोरोना वायरस के फैलने का कारण बनती हैं। ऐसे में एक्सपर्ट्स सलाह देते हैं कि कोरोना वायरस के संदिग्ध मरीजों से कम से कम 1 मीटर की दूरी बनाएं और खांसते या छींकते समय मुंह पर टिश्यू पेपर या रूमाल का इस्तेमाल करें।

इसे भी पढ़ें: कोरोना वायरस से जुड़ी ये 6 बातें हैं अफवाह, कहीं आपने तो यकीन नहीं कर लिया इनपर?

अब सामान्य लोगों के लिए इस बात का पता लगाना आसान नहीं है कि कौन सा व्यक्ति कोरोना वायरस से संक्रमित है और कौन नहीं है। इसीलिए एक्सपर्ट्स के अनुसार जब भी आप किसी से मिलते हैं, तो अभिवादन के तौर पर गले मिलने या हाथ मिलाने से बेहतर है कि दूर से ही नमस्ते कहें और बात करें। इससे कोरोना वायरस ही नहीं, बल्कि कई तरह की संक्रामक बीमारियो से बचा जा सकता है।

Watch Video: कोरोना वायरस से कैसे बच सकते हैं आप, वीडियो में जानें एक्सपर्ट की सलाह

Read more articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer