शरीर पर भी दिखते हैं डिप्रेशन के ये लक्षण, जानें इससे छुटकारा पाने के तरीके

डिप्रेशन यानि अवसाद एक ऐसी समस्या है जिससे बहुत सारे लोग ग्रस्त हैं। अवसाद कई बार थोड़े समय के लिए ही रहता है, कभी यही अवसाद भयानक रूप ले लेता है। अवस

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Apr 03, 2018
शरीर पर भी दिखते हैं डिप्रेशन के ये लक्षण, जानें इससे छुटकारा पाने के तरीके

आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी और कामकाज को लेकर परेशान रहना एक समय पर तनाव का रूप ले लेता है। कई बार ये गंभीर स्थिति में पहुंच जाता है जिसकी वजह से कोई भी दिमागी तौर पर बीमार हो सकता है। तनाव के कारण शरीर में कई हार्मोन का स्तर बढ़ता जाता है, जिनमें एड्रीनलीन और कार्टिसोल प्रमुख हैं। लगातार तनाव के कारण डिप्रेशन किसी को भी अपना शिकार बना लेता है। डिप्रेशन एक प्रकार से मानसिक बीमारी है, लेकिन आप इसके लक्षणों की मदद से इसकी पहचान कर सकते हैं। आइए जानते हैं कि डिप्रेशन के आपके शरीर पर क्या लक्षण दिखाई देते हैं जिसकी वजह से आप आसानी से डिप्रेशन की स्थिति को पता लगा सकते हैं। 

नींद की कमी 

अक्सर तनाव में होने के बाद लोग धीरे-धीरे नींद से दूर होने लगते हैं यानी कि नींद न आने की परेशानी होने लगती है। अगर आपको लंबे समय से नींद नहीं आती है या रातों को नींद न आए तो आप समझ लें कि यह डिप्रेशन की निशानी हो सकती है। 

हमेशा उदासा रहना

अगर आपको अकसर मन में खालीपन और उदासी महसूस हो तो इसे अनदेखा न करें। इसके सा‍थ अगर खुद से नफरत हो और लगने लगे कि दुनिया में आपकी कोई अहमियत नहीं है तो समझ जाइए आप डिप्रेशन का शिकार हो चुके हैं। ऐसे में अपने आपको इस बीमारी से बाहर लाने के लिए एक्सरसाइज और योग का सहारा लेना चाहिए। इससे आपका तनाव कम होने में आपको मदद मिलेगी। 

इसे भी पढ़ें: फालतू की टेंशन और स्ट्रेस को दूर भगाएंगे ये 10 आसान तरीके, आजमाएं और पाएं दिमागी तनाव से छुटकारा

किसी काम में मन न लगना

डिप्रेशन का सबसे मुख्य लक्षण यही है कि व्यक्ति हर समय परेशान रहता है और उसका किसी काम में मन नहीं लगता है। सामान्य उदासी इसमें नहीं आती लेकिन किसी भी काम या चीज में मन न लगना, कोई रुचि न होना, किसी बात से कोई खुशी न होनी, यहां तक गम का भी अहसास न होना।

नकारत्कम ख्याल आना 

डिप्रेशन धीरे-धीरे आपके दिमाग को प्रभावित करने का काम करता है। इसके कारण व्यक्ति हर समय नकारात्मक सोचता रहता है। जब यह स्थिति चरम पर पहुंच जाती है तो व्यक्ति को अपना हर चीज खराब लगने लगती है। 

खुदकुशी का ख्याल आना 

आपने कई बार ऐसे लोगों को देखा होगा जो अपने जीवन की चीजों से परेशान आने के बाद खुदकुशी तक का फैसला करने की सोचते हैं। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि वो अपने जीवन से हार जाता है। अगर किसी को बार-बार अपना जीवन खत्‍म करने का ख्‍याल आए और लगे कि अब मेरे जीवित रहने का कोई कारण नहीं है, तो यह संकेत है कि वह गंभीर डिप्रेशन का शिकार है। 

इसे भी पढ़ें: डिप्रेशन दूर करने में मददगार हैं मोबाइल गेम!

डिप्रेशन से बचने के तरीके

  • अगर आप डिप्रेशन से बचना चाहते हैं तो आप इसके लिए एक्सरसाइज और योगा का सहारा ले सकते है। आप रोजाना नियमित रूप से एक्सरसाइज करें, एक्सरसाइज करने से आप कई हद तक डिप्रेशन जैसी समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। 
  • डिप्रेशन ज्यादा लोगों को इसलिए अपना शिकार बनाता है क्योंकि पीड़ित शख्स अपने जीवन में कुछ भी करने में असफल महसूस करता है। कई तनाव इतने गंभीर स्थिति में पहुंच जाते हैं जिसके कारण डिप्रेशन की समस्या होती है। आप अपनी परेशानियों को अपने किसी नजदीकी शख्स से बांट सकते हैं और उनसे सलाह ले सकते हैं। 
  • तनाव बढ़ते देख या फिर इन लक्षणों की मदद से आप डिप्रेशन को पहचान सकते हैं और तुरंत डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं। 

Read more articles on Mind and Body in Hindi

 
Disclaimer