माता-पिता अपने बच्चों को जरूर सिखाएं ये 6 नैतिक बातें (मोरल वैल्यूज)

अगर बचपन से ही बच्चों में कुछ अच्छी बातों को डाला जाए तो उनका जीवन बेहद उज्जवल और सकारात्मक दिशा में चल सकता है। जानते हैं इनके बारे में।

Garima Garg
Written by: Garima GargUpdated at: Sep 11, 2021 08:51 IST
माता-पिता अपने बच्चों को जरूर सिखाएं ये 6 नैतिक बातें (मोरल वैल्यूज)

अच्छी परवरिश देना माता-पिता की जिम्मेदारी है। लेकिन अच्छी परवरिश के साथ-साथ उनकी जीवन में नैतिक बातों को जोड़ना भी माता-पिता का ही काम है। ऐसे में अगर बचपन से ही बच्चों को कुछ मोरल वैल्यूज के बारे में बताया जाए तो उनका भविष्य उज्जवल अच्छा हो सकता है। आज का हमारा लेख इसी विषय पर है। आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से बताएंगे कि ऐसी कौन सी मोरल वैल्यू हैं जिनके बारे में माता-पिता को बच्चों को सिखाने चाहिए। पढ़ते हैं आगे..

 

परिवार की महत्ता

बच्चों को परिवार की महत्ता के बारे में पता होना चाहिए। उन्हें पता होना चाहिए कि उनकी जीवन में बड़े बुजुर्ग कितने जरूरी हैं। ऐसे में माता पिता अपने बच्चे को समझाएं कि जब भी उसके परिवार में कोई भी दुख या सुख आए तो हमेशा उनका सपोर्ट करें और उनके साथ हमेशा रहें।

 इसे भी पढ़ें- क्या आपका बच्चा भी है शर्मीला? इन 7 तरीकों से दूर करें बच्चों का शर्मिलापन

दूसरों की मदद करें

छोटी उम्र में ही यदि बच्चों को दूसरों की मदद करना आ जाए तो यह उनके जीवन के लिए एक बेहद अच्छी सीख बन सकता है। जरूरी नहीं कि मदद केवल अपने लोगों की ही की जाए। आप किसी अनजान व्यक्ति की भी मदद कर सकते हैं। लेकिन बच्चों को साथ में यह भी सिखाएं कि किसी अंजान व्यक्ति की मदद के दौरान यह पता जरूर लगाएं कि वह अंजान व्यक्ति आपसे मदद किस भावना से मांग रहा है।

सबकी करें रिस्पेक्ट

अपनों से बड़ों की रिस्पेक्ट करना और छोटों को प्यार देना बेहद जरूरी है। अगर यह बात बच्चों को बचपन से ही बताई जाए तो आगे चलकर बच्चे इसी राह पर निकल पड़ते हैं। यह नैतिक बातों का बेहद अहम हिस्सा है। भले ही व्यक्ति उनसे छोटा हो या उनसे बड़ा सब का आदर करना जरूरी है। माता-पिता की बातें मानना बच्चों के लिए जरूरी है।

 पहले सही और गलत का फर्क जानें

बच्चों को सही और गलत का फर्क आना जरूरी है। यह फर्क केवल माता-पिता ही समझा सकते हैं। बच्चों को समझाएं कि यदि कोई इंसान सही है तो उसके हक में खड़ा होने में कोई शर्म नहीं है। वहीं अगर कोई इंसान गलत है जो चाहे वह कितना ही अमीर हो या कितना ही बड़ा आदमी क्यों ना हो उसका साथ कभी नहीं देना चाहिए।

 इसे भी पढ़ें- शिशु को सुलाते समय आपकी ये 6 गलतियां कर सकती हैं उसकी नींद खराब, शिशु की सेहत पर भी पड़ता है असर

कभी किसी का दिल ना दुखाएं

कभी-कभी बच्चे अनजाने में कुछ ऐसी बातें या कुछ ऐसी हरकतें कर देते हैं, जिससे सामने वाले का दिल दुख जाता है। ऐसे में बच्चों को बचपन से ही यह बात समझाएं कि व्यक्ति शारीरिक रूप के साथ-साथ मानसिक रूप से भी प्रभावित हो सकता है। ऐसे में अपने शब्दों का चुनाव करते वक्त इस बात का ध्यान रखें कि उन शब्दों से सामने वाले को ठेस ना पहुंचे। 

शिक्षा को दें महत्व

बच्चों को शिक्षा के महत्व के बारे में पता होना चाहिए और इस बारे में माता-पिता ही बच्चे कोई अच्छी राह दिखा सकते हैं। सबसे पहले बच्चों से जानें कि वे भविष्य में क्या करना चाहते हैं और फिर उस दिशा में बच्चे का रुझान पैदा करें। साथ ही बच्चों को रोज भेजें और 1 दिन पढ़ाई छूट जानें पर उन्हें उसके नुकसान के बारे में बताएं।

 

नोट - ऊपर बताए गए बिंदुओं से पता चलता है कि माता पिता बचपन से ही बच्चों के अंदर कुछ मोरल वैल्यूज को डालें तो उनका भविष्य बेहद ही उज्जवल और सकारात्मक दिशा में चल सकता है। ऊपर बताए गए मोरल वैल्यूज माता-पिता के बेहद काम आ सकते हैं।

इस लेख में फोटोज़ freepik से ली गई हैं। 

Read more articles on parenting in hindi

Disclaimer