World Heart Day 2021: शरीर में मैग्नीशियम की कमी से हो सकती हैं दिल से जुड़ी ये गंभीर बीमारियां, जानें बचाव

शरीर में मैग्नीशियम बहुत ही महत्वपूर्ण मिनरल माना जाता है इसकी कमी की वजह से आपको दिल से जुड़ी गंभीर बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है, जानें बचाव के उपाय।

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: Sep 22, 2021
World Heart Day 2021: शरीर में मैग्नीशियम की कमी से हो सकती हैं दिल से जुड़ी ये गंभीर बीमारियां, जानें बचाव

स्वस्थ शरीर के लिए खानपान का स्वस्थ रहना बेहद जरूरी है। शरीर में सभी पोषक तत्वों की संतुलित मात्रा के होने से शरीर के सभी अंग सही ढंग से काम कर पाते हैं। पोषक तत्वों की कमी के कारण हमारा शरीर कई तरह की बीमारियों से ग्रसित हो जाता है। शरीर में मैग्नीशियम की कमी तो वैसे बहुत कम देखी जाने वाली समस्या है लेकिन इसकी कमी होने पर शरीर में कई गंभीर बीमारियों का खतरा होता है। कई लोगों में मैग्नीशियम की कमी के कोई लक्षण भी दिखाई नहीं देते हैं। कुछ समय पहले हुई एक शोध के मुताबिक मैग्नीशियम की कमी से शरीर में कार्डियोवैस्कुलर डिजीज का खतरा बढ़ जाता है। दिल से जुड़ी बीमारियां कई कारणों से हो सकती हैं लेकिन मैग्नीशियम की कमी से भी दिल की बीमारियों का जोखिम बढ़ जाता है। शरीर में कई कारणों से मैग्नीशियम की कमी हो सकती है लेकिन भोजन द्वारा उचित मात्रा में मैग्नीशियम का सेवन न करने की वजह से यह समस्या ज्यादातर लोगों में होती है। आइये जानते हैं शरीर में मैग्नीशियम की कमी के कारण होने वाली समस्याओं और इनसे बचाव के बारे में।

शरीर में मैग्नीशियम की कमी के लक्षण (Magnesium Deficiency Symptoms)

Magnesium-Deficiency-and-Heart-Health

(image source - freepik.com)

आमतौर पर मैग्नीशियम की कमी बहुत कम लोगों में होती है लेकिन इसका सबसे ज्यादा खतरा शराब और कैफीन का अधिक सेवन करने वाले लोगों में होता है। शरीर में मैग्नीशियम की कमी होने पर ये लक्षण दिखाई देते हैं।

  • शरीर में फ्लूइड रिटेंशन
  • लगातार सिरदर्द
  • गर्दन और कमर के ऊपरी हिस्से में दर्द
  • शारीरिक और मानसिक रूप से थका हुआ महसूस करना
  • मांसपेशियों में ऐंठन और मरोड़
  • उल्टी और मतली
  • बार-बार पलकें झपकना
  • हाई ब्लड प्रेशर
  • सिर चकराना

मैग्नीशियम की कमी से दिल की सेहत पर प्रभाव (Magnesium Deficiency And Heart Disease)

Magnesium-Deficiency-and-Heart-Health

(image source - freepik.com)

मैग्नीशियम और कार्डियोवैस्कुलर डिजीज को लेकर की गयी एक स्टडी के मुताबिक शरीर में मैग्नीशियम की कमी से हार्ट डिजीज का खतरा बढ़ जाता है। इसके पीछे कोलेस्ट्रॉल या संतृप्त वसा के सेवन को लेकर बनाई गयी पुरानी धारणा को जिम्मेदार माना गया है। मैग्नीशियम शरीर में पाया जाने वाला चौथा सबसे प्रमुख खनिज होता है। शरीर में मांसपेशियों और तंत्रिका तंत्र के काम से लेकर सेल सिग्नलिंग, डीएनए संश्लेषण और बायो केमिकल रिएक्शन के लिए मैग्नीशियम की सबसे अधिक आवश्यकता होती है। स्टडी के मुताबिक शरीर में ग्लूकोज की मात्रा और ब्लड प्रेशर के लेवल को संतुलित करने के लिए भी मैग्नीशियम सबसे प्रमुख भूमिका निभाता है। जो लोग शराब या कैफीन आदि का अधिक मात्रा में सेवन करते हैं उनके शरीर में भी मैग्नीशियम की कमी का जोखिम बढ़ जाता है। 

इसे भी पढ़ें : दिल कमजोर होने का संकेत हैं ये 7 लक्षण

गोंडा स्थित जिला अस्पताल के वरिष्ठ कार्डियोलॉजिस्ट डॉ आर के यादव के मुताबिक, 'कुछ रिपोर्ट्स और शोध से यह पता चला है कि शरीर में मैग्नीशियम की कमी आपके दिल की सेहत पर भारी पड़ सकती है। मैग्नीशियम की कमी होने से आपका ब्लड प्रेशर लेवल भी बढ़ सकता है। हालांकि इस विषय को लेकर तमाम शोध अभी भी किये जा रहे हैं।' रिपोर्ट में यह कहा गया है कि शरीर में मैग्नीशियम की मात्रा कम होने से आपको हार्ट अटैक जैसी गंभीर बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है। यहां तक कि अगर किसी को हार्ट अटैक के तुरंत बाद मैग्नीशियम दे दिया जाता है तो उसे हार्ट अटैक के कारण मौत से बचाया जा सकता है। कन्जेस्टिव हार्ट फेलियर जैसी समस्या के इलाज में भी मैग्नीशियम को जरूर शामिल किया जाता है। शरीर में मैग्नीशियम की कमी होने पर दिल से जुड़ी इन बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है।

  • दिल की मांसपेशियों के कमजोर होने का खतरा।
  • दिल की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति को हार्ट अटैक और स्ट्रोक का खतरा।
  • ब्लड प्रेशर हाई होने का अधिक जोखिम।
  • दिल की धड़कन के अनियमित होने का खतरा
  • दिल से जुड़ी अन्य गंभीर बीमारियों का खतरा।

शरीर में मैग्नीशियम की कमी पूरी करने के उपाय (Magnesium Deficiency Prevention Tips)

शरीर में मैग्नीशियम की कमी कई कारणों से हो सकती है। अलग-अलग कारणों के आधार पर शरीर में मैग्नीशियम की कमी पूरा करने के लिए जीवनशैली और खानपान में अलग-अलग बदलाव करने की आवश्यकता होती है। आप खानपान को सुधार कर अपने शरीर में मैग्नीशियम की कमी को पूरा कर सकते हैं। इसके अलावा अगर आप शराब या कैफीन युक्त पदार्थों का सेवन अधिक मात्रा में करते हैं तो ये भी शरीर में मैग्नीशियम की कमी का बड़ा कारण बनता है। उम्र के हिसाब से हर व्यक्ति को रोजाना 300 से 400 मिलीग्राम मैग्नीशियम की आवश्यकता होती है। शरीर में मैग्नीशियम की कमी पूरा करने के लिए आप इन खाद्य पदार्थों को अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं।

  • गेहूं का चोकर
  • बादाम
  • पालक
  • किशमिश
  • अनाज
  • काजू
  • सोयाबीन
  • गेहूं के बीज
  • मेवे
  • दलिया
  • मूंगफली
  • पीनट बटर
  • आलू (छिलके सहित)
  • मटर
  • चावल (ब्राउन)
  • मसूर
  • वेजिटेरियन बेक्ड बीन्स
  • राजमा
  • चॉकलेट मिल्क
  • केला, दही, फल
Magnesium-Deficiency-and-Heart-Health
(image source - freepik.com)
 

ऊपर बताये गए खाद्य पदार्थों के सेवन से आपको पर्याप्त मात्रा में मैग्नीशियम मिलेगा। शरीर में मैग्नीशियम की कमी को नजरअंदाज करना आपकी सेहत पर भारी पड़ सकता है। दिल से जुड़ी बीमारियों के खतरे से बचने के लिए आपको रोजाना पर्याप्त मात्रा में मैग्नीशियम का सेवन जरूर करना चाहिए।

(main image source - freepik.com)

Read More Articles on Heart Health in Hindi

Disclaimer