बार-बार चक्कर आने की समस्या को ना करें नजरअंदाज, हो सकती हैं ये 7 गंभीर समस्याएं

अगर आपको बार-बार चक्कर आ रहे हैं, तो इस समस्या को नजरअंदाज ना करें। आइए जानते हैं शारीरिक कमजोरी के अलावा किन कारणों से आते हैं चक्कर।

सम्‍पादकीय विभाग
Written by: सम्‍पादकीय विभागUpdated at: Oct 27, 2020 19:27 IST
बार-बार चक्कर आने की समस्या को ना करें नजरअंदाज, हो सकती हैं ये 7 गंभीर समस्याएं

चक्कर आने की कई वजह हो सकती हैं। कई बार शारीरिक कमजोरी की वजह से से चक्कर आते हैं, लेकिन अगर यह परेशानी आपको अक्सर हो रही है तो सतर्क रहने की जरूरत है। कुछ लोग चक्कर आने की समस्या को नजरअंदाज कर देते हैं, लेकिन रोजाना चक्कर आना सामान्य नहीं हो सकता है। अगर आपको रोजाना चक्कर आ रहे हैं, तो यह किसी गंभीर बीमारी के संकेत हो सकते हैं। इसलिए आपको ऐसी समस्या होने पर ध्यान देने की आवश्यकता है।

चक्कर क्यों आते हैं?

आप सोच रहे होंगे कि आखिर हमें चक्कर आते कैसे हैं, तो आपको बता दें कि जब हमारे दिमाग, कान, आंखें, पैर और रीढ़ की नसें सही तरीके से काम नहीं करती हैं, तो चक्कर आते हैं। चक्कर आने की वजह से हमारे आंखों के सामने अंधेरा सा छा जाता है, जिसके कारण हमें कई अन्य समस्याएं भी हो सकती हैं। ऐसे में हमें चक्कर आने की समस्या को हल्के में नहीं लेना चाहिए।

इसे भी पढ़ें - Dizziness And Dementia: अचानक खड़े होते हुए चक्‍कर महसूस करना हो सकता है डिमेंशिया की ओर इशारा

चक्कर आने के लक्षण?

  •  सिर घूमना
  •  गिरने जैसे अनुभव होना
  •  एक ओर झुकना
  •  सिर दर्द
  •  असुतंलित महसूस होना
  •  बोलने में कठिनाई होना
  •  दिखाई देने में परेशानी होना
  •  सुनने में परेशानी होना

माइग्रेन की शिकायत

कई बार माइग्रेन की शिकायत होने पर भी हमें चक्कर आते हैं। इसके अलावा ब्रेन या फिर कान के ट्यूमर के कारण, नर्वस सिस्टम में किसी तरह की परेशानी के कारण चक्कर जैसा अनुभव होता है। ऐसे में इस तरह के लक्षणों को नजरअंदाज ना करें, क्योंकि यह आपके लिए आगे घातक साबित हो सकता है।

कमजोर नसें

अगर आपकी नसों में किसी तरह का सूजन, चोट, दर्द या फिर परेशानी हो, तो भी चक्कर आने की शिकायत हो सकती है। ऐसे में अगर आपको किसी तरह की असहजता महसूस हो रही है, तो तुरंत अपने डॉक्टर्स से संपर्क करें।

तनाव और चिंताएं

कई बार अधिक स्ट्रेस लेने की वजह से भी चक्कर आ सकते हैं। तनाव के कारण कई बार हम काफी तेजी-तेजी से सांसे लेने लगते हैं, ऐसे में शरीर को पर्याप्त रूप से ऑक्सीजन नहीं पहुंच पाता है, जिसकी वजह से हमें चक्कर आते हैं।

सेल्स का कम होना

शरीर में खून की कमी, कमजोरी और सेल्स कम होने के कारण भी हमें बार-बार चक्कर आ सकते हैं। ऐसे में हमें हेल्दी डाइट लेना बहुत ही जरूरी होता है। अगर आपको किसी तरह की कमजोरी महसूस हो रही है, तो नारियल पानी, हरी सब्जियां, फल इत्यादि का सेवन करें।

ऑक्सीजन की कमी

हमारे दिमाग में ब्लड सर्कुलेशन के जरिए ही ऑक्सीजन पहुंचता है। मस्तिष्क को सुचारू रूप से चलाने के लिए ऑक्सीजन की जरूरत होती है। अगर किसी कारणवश: मस्तिष्क में ऑक्सीजन ना पहुंच पाए या फिर ऑक्सीजन की कमी हो, तो चक्कर या बेहोशी आने की समस्या हो सकती है। ऐसे में तुरंत डॉक्टर्स की सलाह लें।

इसे भी पढ़ें- बार-बार चक्कर आना और कमजोरी महसूस होना है लो ब्लड प्रेशर के संकेत, इन घरेलू तरीकों से पाएं राहत

कान में बैक्टीरिया होने के कारण

कान में संक्रमण की वजह से भी आपको चक्कर आ सकते हैं। इससे ना सिर्फ हमें सुनाई कम देता है, बल्कि बेहोशी जैसी संभावनाएं भी बढ़ जाती हैं। इसके साथ ही अधिक दवाइयों के सेवन से भी बेहोशी जैसे लक्षण दिखते हैं।

शरीर में पानी की कमी

कम पानी पीने वालों को भी चक्कर, सिर दर्द, आंखों में धुंधलापन जैसी शिकायतें होती हैं। खासतौर पर डायबिटीज रोगी और बुजुर्गों को इस तरह की परेशानियां अधिक होती हैं। ऐसे में कोशिश करें कि अधिक से अधिक पानी पिएं। 

Read More Articles on Other Diseases in hindi

Disclaimer