फाउंडेशन से पहले कंसीलर लगाना क्यों है जरूरी? जानें सौंदर्य से जुड़ी कुछ धारणाएं कितनी सही कितनी गलत

खूबसूरत दिखना हर किसी की चाह होती है। इस चाह के चलते लोग अक्सर बरसों से चली आ रही धारणाओं पर भी भरोसा कर लेते हैं। आइए जानते हैं कितनी सही है धारणाएं.

Garima Garg
Written by: Garima GargPublished at: Oct 27, 2020
फाउंडेशन से पहले कंसीलर लगाना क्यों है जरूरी? जानें सौंदर्य से जुड़ी कुछ धारणाएं कितनी सही कितनी गलत

अरे-अरे फाउंडेशन का इस्तेमाल अकेले नहीं करते... मेकअप से पहले आई्स क्यूब का इस्तेमाल करें। ऐसे वाक्य आप आए दिन सुन लेते होंगे। इस तरह के सवाल हमारे अंदर भी घूमते हैं कि जिन पर ना चाह कर भी हमें यकीन करना पड़ता है। लेकिन क्या इन सवालों के जवाब को जानना हमारा फर्ज नहीं है। आपने देखा होगा कि कई बार एक सामान्य क्रीम के माध्यम से भी चेहरे पर ग्लो आ जाता है। तो कभी एक्सपर्ट की सलाह कहती है कि दिन में डे क्रीम और रात में नाइट क्रीम लगाएं। ऐसा करने से स्कीन तरोताजा रहेगी। इन्हीं धारणाओं के चलते हम भ्रम में जीते हैं। इस विषय पर लेख के माध्यम से हम आपको बताएंगे कि सौंदर्य से जुड़े सवाल और धाराएं कितनी सही है और कितनी गलत। पढ़ते हैं आगे...

 beauty hacks

दिन में डे क्रीम और रात में नाइट क्रीम लगाना क्या सच में है जरूरी?

बता दें कि डे क्रीम या नाइट क्रीम में अलग-अलग प्रोडक्ट्स का यूज होता है। इनके अंदर ऐसे  इंग्रेडिएंट्स मौजूद होते हैं, जिससे हमारी त्वचा पूरी तरह से हाइड्रेट हो जाती है। यह हमारे रोमछिद्रों को खोलने के लिए भी कारगर है। इनके इस्तेमाल से चेहरे पर न केवल निखार आता है बल्कि हमारी स्कीन जवां नजर आती है। इसलिए इस धारणा को गलत नहीं कहा जा सकता है। 

कंसीलर का इस्तेमाल करते हैं फाउंडेशन से पहले

फाउंडेशन से पहले कंसीलर का इस्तेमाल करना बेहद जरूरी होता है। बता दें कि होठों के चारों ओर त्वचा की टोन और आंखों के नीचे इसका प्रयोग किया जाता है। इसकी वजह से दाग धब्बों को छुपाना आसान हो जाता है। इसलिए यह धारणा एक दम सही है।

इसे भी पढ़ें- शरीर पर होते हैं लाल और सफेद दो तरह के स्ट्रेच मार्क्स, कैसे करें इसका समाधान 

30 की उम्र के बाद ही फेशियल करवाएं

यह धारणा बिल्कुल गलत है। आजलकल के पोल्यूशन के कारण और धूल मिट्टी के चलते त्वचा की उम्र 20 से ही बढ़ने लगती है।  इसीलिए 25 का उम्र के बाद ही बेसिक फेशियल करवाना सही रहता है। इसके माध्यम से न केवल रक्त प्रवाह में सुधार आता है बल्कि यह त्वचा की विषाक्त पदार्थों को भी कम करता है। बता दें कि फेशियल के माध्यम से ब्लैक और वाइट हेड्स क्लीन हो जाते हैं। यह बढ़ती उम्र से लड़ने में मदद करता है और इसके इस्तेमाल से त्वचा में एक नई जान आ जाती है।

इसे भी पढ़ें- Skin Care Routine: सर्दियों में अपनी त्वचा के प्रकार से ये स्किन केयर रूटीन अपनाएं, नहीं होगी रुखेपन की समस्या

मॉयस्चराइज ऑयली स्किन के लिए सही नहीं

ऑयली स्किन वाले मॉयस्चराइज क्रीम का इस्तेमाल नहीं करते हैं। जबकि यह गलत है। यह त्वचा की खोई हुई नमी को लौटाकर बरकरार रखता है। बता दे कि इसके अंदर वाटर मॉलिक्यूल पाए जाते हैं जो त्वचा के सेल्स से मिलकर नमी बनाए रखते हैं। इसलिए आप मॉयस्चराइज का इस्तेमाल कर सकते हैं। अगर आप गर्मियों में इसका इस्तेमाल कर रहे हैं तो आप डे क्रीम और नाइट क्रीम में जेल मॉयस्चराइजर का प्रयोग करें।

कुछ जरूरी बातें-

  • किसी भी ब्यूटी ट्रीटमेंट लेने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें। 
  • किसी के कहने पर अपनी स्कीन पर कोई क्रीम का इस्तेमाल न करें। 
  • किसी दूसरे की इस्तेमाल की हुई लिपस्टिक या ब्रश का इस्तेमाल न करें। 
  • सनस्क्रीन को लेकर भी एक धारणा है कि इसका इस्तेमाल प्रोडक्ट के साथ नहीं करते हैं लेकिन बता दें कि ये एसपीएफ वाल मेकअप प्रोडक्ट के साथ इनाक इस्तेमाल किया जा सकता है। 

Read More Artciels on Skin Care in Hindi

Disclaimer