कोरोना के छठे टेस्ट की रिपोर्ट नेगिटिव आने पर कनिका की अस्पताल से छुट्टी लेकिन मुश्किलें बाकी, जानें क्यों

कनिका कपूर की कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट नेगिटिव आने के बाद उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है, लेकिन उनकी मुश्किलें अभी खत्म नहीं हुई है। 

 

Jitendra Gupta
Written by: Jitendra GuptaPublished at: Apr 06, 2020Updated at: Apr 06, 2020
कोरोना के छठे टेस्ट की रिपोर्ट नेगिटिव आने पर कनिका की अस्पताल से छुट्टी लेकिन मुश्किलें बाकी, जानें क्यों

'बेबी डॉल' और 'चिट्टियां कलाईयां' जैसे गानों से लोगों के दिलों में अपनी जगह बनाने वाली सिंगर कनिका कपूर (Kanika Kapoor) और उनके फैंस के लिए राहत की खबर आई है। बॉलीवुड की मशहूर सिंगर को हाल ही में कोरोनावायरस (Coronavirus) से ग्रस्त पाया गया था, जिसके एक के बाद एक उनके छह टेस्ट किए गए थे। लगातार चार टेस्ट पॉजिटिव आने के बाद उनका पांचवा और छठां टेस्ट नेगेटिव पाया गया। पांचवा और छठां टेस्ट नेगिटिव पाए जाने के बाद उन्हें लखनऊ के संजय गांधी पोस्ट ग्रैजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (एसजीपीजीआई)  से छुट्टी दे दी गई है। समाचार एजेंसी एएनआई ने भी कनिका को अस्पताल से डिस्चार्ज किए जाने की पुष्टि की है। 

पीजीआई के निदेशक ने की कनिका के डिस्चार्ज होने की पुष्टि

पीजीआई के निदेशक प्रोफेसर आर.के. धीमान ने पांचवे टेस्ट के बाद इस बात की जानकारी दी थी कि उनकी पांचवी रिपोर्ट नेगिटिव आई है, लेकिन एक और टेस्ट होने के बाद उन्हें घर जाने की अनुमति दी जााएगी। आपको बता दें कि कनिका के पहले चारों टेस्ट पॉजिटिव आए थे। हालांकि शनिवार को पांचवें टेस्ट की रिपोर्ट नेगिटिव आई थी। जिसके बाद उनका छठा टेस्ट किया गया और उसकी रिपोर्ट भी नेगिटिव आई है और उन्हें अस्पताल से भी छुट्टी मिल गई है। 

इसे भी पढ़ेंः Kanika kapoor Tested Corona Positive: 'बेबी डॉल' कनिका कपूर को कोरोना, इंस्टाग्राम पोस्ट कर दी जानकारी

कनिका ने पोस्ट किया शेयर

कनिका कपूर ने कोरोनावायरस के चौथे टेस्ट, जो कि पॉजिटिव आया था उसके बाद अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर एक पोस्ट शेयर किया था, जिसमें उन्होंने कहा था कि उनकी हालत पहले से बेहतर है और वह उम्मीद करती हैं कि उनका अगला कोरोनावायरस टेस्ट नेगिटिव आएग। 

कनिका में नहीं दिख रहे कोरोना के संकेत

वहीं डॉ. आर.के धीमान ने भी कहा था: "कनिका कपूर में अब कोई लक्षण नहीं दिख रहे, उनकी तबीयत पहले से स्थिर और अच्छी है। कनिका सामान्य रूप से भोजन कर रही हैं। कनिका में अब बुखार, खांसी और सर्दी के लक्षण नहीं हैं। वहीं मीडिया में फैल रही कनिका के बीमार होने की बात को नकारते हुए उन्होंने कहा कि जो सूचना फैलाई गई कि वह बहुत बीमार हैं, यह पूरी तरह से गलत है।"

इसे भी पढ़ेंः कनिका खुद को होम क्वारंटाइन कर रोक सकती थी कोविड-19 का कहर, जानें कैसे कारगर साबित हो रहा है होम क्वारंटाइन

250 से 300 लोगों से मिली थी कनिका

कनिका कपूर 9 मार्च को लंदन से मुंबई लौटी थीं, जिसके बाद वह 11 मार्च को लखनऊ आई थीं। उन्होंने 13, 14 और 15 मार्च को दो-तीन पार्टियों में शिरकत की थी। इतना ही नहीं कनिका कुल मिलाकर 250 से 300 लोगों से मिली थी। इन पार्टियों में कई राजनेता और अधिकारी भी शामिल हुए, जिनमें राज्य के कुछ मंत्री भी शामिल थे। कनिका के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद उनकी लापरवाही को लेकर यूपी में उनके खिलाफ कई एफआईआर दर्ज की गई है।

कनिका की बढ़ेगी परेशानी 

कोरोना से मुक्ति पाने के बाद कनिका की परेशानी बढ़ सकती है क्योंकि  कोरोनोवायरस (Coronavirus) से संक्रमित होने के बाद भी खुद को आइसोलेट न कर उन्होंने अधिकारियों के निर्देश के बावजूद विभिन्न सामाजिक कार्यक्रमों में भाग लिया था, जिस पर हुई एफआईआर को लेकर भी कार्रवाई होनी है। कनिका कपूर पर भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 188, 269 और 270 के तहत मामला हुआ है।

Read More Articles On Coronavirus In Hindi

Disclaimer