हार्ट को हेल्दी रखने के लिए बहुत फायदेमंद है कालमेघ, जानें कैसे करें इस्तेमाल

Kalmegh Benefits For Heart in Hindi: कालमेघ या हरा चिरायता दिल के लिए बहुत फायदेमंद होता है, जानें इसके फायदे और सेवन का तरीका।

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghUpdated at: Oct 07, 2022 11:04 IST
हार्ट को हेल्दी रखने के लिए बहुत फायदेमंद है कालमेघ, जानें कैसे करें इस्तेमाल

Kalmegh Benefits For Heart in Hindi: कालमेघ या हरा चिरायता आयुर्वेद में बहुत ही शक्तिशाली औषधि माना जाता है। कालमेघ को एगड्रोग्राफिस पैनीकुलैटा - Andrographis Paniculata के नाम से भी जाना जाता है। इसमें मौजूद गुण शरीर को कई गंभीर बीमारियों से बचाने के लिए बहुत फायदेमंद माने जाते हैं। कालमेघ में एंटीप्रेटिक गुण होते हैं जो बुखार कम करने से लेकर शरीर में सूजन की समस्या में भी फायदेमंद माना जाता है। रोजाना इसका सेवन करने से बुखार दूर करने के साथ-साथ पेट से जुड़ी परेशानियों को दूर करने और शरीर को इन्फेक्शन आदि से बचाने के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है। हाल में हुए कुछ शोध इस बात की पुष्टि करते हैं कि कालमेघ का सेवन हार्ट के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है। आइए विस्तार से जानते हैं इसके बारे में।

हार्ट के लिए कालमेघ के फायदे- Kalmegh Benefits For Heart in Hindi

Kalmegh benefits in hindi

कालमेघ का औषधीय इस्तेमाल कई गंभीर बीमारियों को दूर करने में किया जाता है। कालमेघ स्वाद में बेहद कड़वा होता है और इसे आयुर्वेद में औषधि के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। कालमेघ को चिरायता के नाम से भी जानते हैं। इसमें मौजूद एंटी-डायबिटिक गुण शरीर में शुगर की समस्या में बहुत फायदेमंद होते हैं। इसके अलावा कालमेघ या चिरायता में मौजूद गुण शरीर में ब्लड फ्लो को ठीक रखने और खून को साफ करने में भी बहुत फायदेमंद माने जाते हैं। हार्ट के लिए कालमेघ के फायदे इस तरह से हैं-

  • कालमेघ या चिरायता में एंटी थ्रोम्बोटिक गुण होते हैं, जो दिल से जुड़ी बीमारियों में बहुत फायदेमंद होते हैं।
  • इसका सेवन करने से शरीर में खून का थक्का जमने से रोकने में फायदा मिलता है।
  • कालमेघ का सेवन करने से शरीर में ब्लड फ्लो ठीक रहता है।
  • इसका सेवन करने से आपके शरीर में मौजूद बैड कोलेस्ट्रॉल भी नियंत्रित होता है।

कैसे करें चिरायता या कालमेघ का सेवन?

हार्ट को हेल्दी रखने के लिए आप चिरायता या कालमेघ का कई तरीके से सेवन कर सकते हैं। इसकी पत्तियों को पानी में भिगोकर रख दें। रात भर में पानी में रखने के बाद सुबह के समय इसका पानी पीने से दिल से जुड़ी बीमारियों का जोखिम कम करने में फायदा मिलता है। इसके अलावा इसका सेवन शरीर के सम्पूर्ण स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में फायदेमंद माना जाता है।

चिरायता या कालमेघ इसके अलावा डायबिटीज, बुखार, ब्लड प्रेशर और सूजन जैसी समस्याओं में भी बहुत फायदेमंद माना जाता है। आयुर्वेद में कालमेघ का सेवन औषधि के रूप में किया जाता है। लेकिन किसी भी बीमारी या समस्या में कालमेघ का औषधीय इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए।

(Image Courtesy: Freepik.com)

 

Disclaimer