Doctor Verified

क्या कोरोना वैक्सीन की वजह से लोगों को आ रहे हैं हार्ट अटैक? जानें क्या कहते हैं एक्सपर्ट

अचानक हार्ट संबंधी मामलों के बढ़ने के पीछे कुछ लोग कोरोना पर सवाल उठा रहे हैं तो कुछ लोग कोरोना वैक्सीन पर।

Ashu Kumar Das
Written by: Ashu Kumar DasUpdated at: Dec 08, 2022 11:15 IST
क्या कोरोना वैक्सीन की वजह से लोगों को आ रहे हैं हार्ट अटैक? जानें क्या कहते हैं एक्सपर्ट

Is corona vaccine causing increase in heart attack cases: नोएडा में एक लड़की को सड़क पर चलते हुए गिर गई। लड़की के यूं अचानक गिरने का मुख्य कारण था हार्ट अटैक। मध्यप्रदेश के जबलपुर में एक बस ड्राइवर अचानक गाड़ी पर कंट्रोल खो बैठा और बस एक धुन में चल गई। इस हादसे में 2 लोगों की मौत हो गई, जबकि कई घायल हो गए। ड्राइवर के अचानक ऐसे बेसुध होने की वजह थी हार्ट अटैक। गाजियाबाद में 35 साल के जिम ट्रेनर की हार्ट अटैक से मौत हो गई। वो कुर्सी पर बैठे हुए थे, अचानक पीछे की तरफ लुढ़के और फिर उठ नहीं सके।

बात चाहे नोएडा की हो या फिर जबलपुर पिछले दिनों हार्ट अटैक से जुड़े मामलों की संख्या में इजाफा देखा जा रहा है। कोरोना महामारी के बाद अचानक हार्ट फेलियर संबंधी बीमारियों में इजाफा होने के बाद स्वास्थ्य विशेषज्ञ और आम जनता चिंतित है। भारत में हार्ट अटैक से हो रही मौतों के पीछे कोरोना वैक्सीन है। पिछले दिनों सोशल मीडिया पर एक वीडियो भी वायरल हुआ था, जिसमें कहा जा रहा था कि जिन लोगों ने कोरोना वैक्सीन लगवाई है उनमें हार्ट अटैक का खतरा ज्यादा है। क्या वाकई भारत में बढ़ रहे हार्ट संबंधी समस्याओं के पीछे कोरोना वैक्सीन है? इस सवाल का जवाब जानने के लिए हमने दिल्ली के वैशाली स्थित मैक्स सुपर स्पेशलिटी अस्पताल में कार्डियोलॉजी डिपार्टमेंट के डायरेक्टर समीर कुब्बा से बातचीत की।

 

इसे भी पढ़ेंः पुरुष रोजाना इस तरह करें शहद और किशमिश का सेवन, सेहत बनेगी दुरुस्त

Is corona vaccine causing increase in heart attack cases

क्या कोरोना वैक्सीन की वजह से हार्ट प्रॉब्लम हो रही है?

मैक्स सुपर स्पेशलिटी अस्पताल में कार्डियोलॉजी डिपार्टमेंट के डायरेक्टर समीर कुब्बा का कहना है कि भारत में हार्ट संबंधी बीमारियों का आंकड़ा जिस तरह से बढ़ रहा है वो चिंताजनक है। डॉक्टर ने बताया कि देश में बढ़ रहे हार्ट प्रॉब्लम का मुख्य कारण कोरोना वैक्सीन है इसके पर्याप्त सबूत मौजूद नहीं है। उन्होंने बताया कि

पश्चिमी देशों के मुकाबले भारतीय में हार्ट प्रॉब्लम का खतरा ज्यादा रहता है। 50 प्रतिशत से ज्यादा हार्ट अटैक, हार्ट फेल्योर के मामले कोविड से पहले 50 साल से ज्यादा उम्र के लोगों में देखने को मिलते थे, लेकिन कोरोना के बाद युवाओं में भी हार्ट संबंधी समस्याएं देखने को मिल रहा है। डॉक्टर का कहना है कि हार्ट अटैक के मामलों में 25 फीसदी लोगों की मौत 2 से 3 घंटे के अंदर हो जाती है। ये दर कोरोना से पहले भी यही थी।

इसे भी पढ़ेंः ओट्स और नट्स के लड्डू होते हैं सुपर हेल्दी, जानें 5 फायदे और रेसिपी

क्यों बढ़ रहे हैं हार्ट अटैक के मामले?

डॉक्टर का कहना है कि बदलती लाइफ स्टाइल, तनाव, सही भोजन नहीं खाना, एक्सरसाइज न करना और फिजिकल एक्टिविटी कम होने की वजह से छोटी उम्र के लोगों में दिल का दौरा पड़ने का मुख्य कारण है। इसके अलावा इन दिनों जंक फूड, सोडा और कोल्ड ड्रिंक का सेवन करने की वजह भी लोगों में हार्ट संबंधी समस्याएं बढ़ रही हैं।

Is corona vaccine causing increase in heart attack cases

हार्ट प्रॉब्लम से बचने के लिए क्या करें?

डॉक्टर का कहना है कि हार्ट संबंधी बीमारियों से बचाव करने के लिए लोगों को अपने खाने में बैड कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम करना चाहिए। रक्त धमनियां सही तरीके से काम कर सकें इसके लिए तेल, घी और मसालों का प्रयोग भी कम करें। वजन को नियंत्रित रखें। जहां तक संभव हो प्रतिदिन सुबह 10 से 15 मिनट एक्सरसाइज करें। 

Disclaimer