Expert

बवासीर (पाइल्स) रोगियों के लिए बहुत फायदेमंद है अंजीर, इस तरह करें इस्तेमाल

Figs Benefits For Piles In Hindi:  अंजीर का सेवन करने से बवासीर रोगियों को काफी फायदा मिल सकता है, जानें बवासीर में अंजीर कैसे खाएं।

Vineet Kumar
Written by: Vineet KumarPublished at: Jul 30, 2022Updated at: Jul 30, 2022
बवासीर (पाइल्स) रोगियों के लिए बहुत फायदेमंद है अंजीर, इस तरह करें इस्तेमाल

Figs Benefits For Piles In Hindi: अंजीर का सेवन करने गंभीर रोग दूर रहते हैं। अंजीर पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं। अंजीर में प्रोटीन, सेल्यूलोज, आयरन, विटामिन, थोड़ी, पोटैशियम, सोडियम, फास्फोरिक एसिड की अच्छी मात्रा होती है, साथ ही इसमें और गोंद भी पाया जाता है। कब्ज, अस्थमा, जुकाम, कमर दर्द और सिर दर्द जैसी समस्याओं से छुटकारा दिलाने से लेकर त्वचा और बालों को स्वस्थ रखने तक, अंजीर के स्वास्थ्य संबंधी अनेक लाभ (Figs Health Benefits In Hindi) हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं, बवासीर के रोगियों के लिए भी अंजीर बहुत फायदेमंद साबित हो सकता है? जी हां, आपने बिल्कुल सही पढ़ा!

क्लीनिकल न्यूट्रिशनिस्ट और डायटीशियन गरिमा गोयल की मानें बवासीर या पाइल्स बेहद दर्दनाक और पीड़ादायक रोग है, जिससे वर्तमान समय में काफी लोग जूझ रहे हैं। इसके कारण लोगों को काफी असहजता का सामना करना पड़ता है। बवासीर के मरीज को शौच करने, बैठने और लेटने में भी तकलीफ होती है। साथ ही बवासीर में असहनीय दर्द होता है क्योंकि मलाशय के आसपास की नसों में सूजन आ जाती है। लेकिन अंजीर का सेवन करने से पाइल्स की समस्या में बहुत फायदा मिल सकता है। आइए डायटीशियन गरिमा से जानते हैं, बवासीर या पाइल्स में कैसे फायदेमंद है अंजीर (bawaseer me anjeer khane ke fayde)

Figs Benefits for piles patients in hindi

बवासीर में अंजीर कैसे फायदेमंद है- Figs Benefits For Piles In Hindi

डायटीशियन गरिमा के अनुसार मोडर्न विज्ञान के साथ ही आयुर्वेद भी यह मानता है कि अंजीर सेवन बवासीर रोगियों के लिए बहुत फायदेमंद साबित हो सकता है। दोनों के ही अपने-अपने तर्क हैं। मोडर्न साइंस के अनुसार अंजीर में रेचक गुण (Laxative Properties) होते हैं, जिससे यह मल को पतला करने और मल त्याग में सहायता करता है।  साथ ही अंजीर में मौजूद एंटी-इन्फ्टेमेटीर गुण टिश्यू और नसों की सूजन को कम करने में बहुत प्रभावी हैं।

इसे भी पढें: घी और शक्कर मिलाकर खाने से मिलते हैं ये 5 जबरदस्त फायदे

वहीं, आयुर्वेद के अनुसार बवासीर या पाइल्स का एक बड़ा कारण खराब खानपान और गतिहीन जीवन शैली है, जो शरीर के तीन दोष (वात-पित्त-कफ) के असंतुलन का कारण बनती है। इससे पाचन खराब होता है और लगातार कब्ज की समस्या रहती है। यह आपकी मलाशय क्षेत्र की नसों में सूजन का कारण बनता है, जिससे बवासीर की समस्या हो जाती है। लेकिन अंजीर शरीर में तीनों दोष के संतुलन को बनाए रखने में मदद करता है और कब्ज से छुटकारा दिलाता है। आयुर्वेद के अनुसार अपने रेचक गुणों (Laxative Properties) के कारण अंजीर का सेवन बवासीर के प्रबंधन में बहुत सहायक है। यह मल त्याग को बढ़ावा देने और बवासीर के लक्षणों को कम करने में मदद करती है।

इसे भी पढें: रोज सुबह पेट साफ नहीं होता? रात में खाकर सोएं ये 5 चीजें, दूर होगी कब्ज

बवासीर में कैसे करें अंजीर का सेवन - How To Eat Figs In Piles In Hindi

डायटीशियन गरिमा के अनुसार बवासीर में अंजीर का सेवन बहुत आसान है। आपको सबसे पहले सूखे अंजीर के 2-4 टुकड़े लेने हैं और इन्हें रात भर के लिए पानी में भिगोकर रख देना है। सुबह खाली पेट इनका सेवन करें। आप चाहें तो इसमें शहद मिलाकर भी इसका सेवन कर सकते हैं, इससे बहुत फायदा मिलेगा। हालांकि, आपको डॉक्टर की सलाह के बिना अंजीर का सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि डॉक्टर आपको इसकी सही मात्रा और सेवन का तरीका बेहतर बता सकते हैं।

All Image Source: Freepik.com

(With Inputs: Dietitian Garima Goyal, MS, RD, CDE, Founder- Dt. Garima Diet Clinic , Ludhiana, Punjab)

Disclaimer