इंजेक्शन के साइड इफेक्ट के कारण त्वचा पर हो रिएक्शन या बनने लगे मवाद, तो कभी न करें ये 5 गलतियां

इंजेक्‍शन के साइड इफेक्‍ट से बनने वाले घाव को ध्‍यान से ट्रीट करना है नहीं तो उसमें इंफेक्‍शन बढ़ सकता है, इसके ल‍िए कुछ गलत‍ियों से बचना चाह‍िए। 

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Feb 17, 2021Updated at: Feb 17, 2021
इंजेक्शन के साइड इफेक्ट के कारण त्वचा पर हो रिएक्शन या बनने लगे मवाद, तो कभी न करें ये 5 गलतियां

कई बार इंजेक्‍शन के गलत असर से त्‍वचा में सूजन, लालपन या मवाद बन जाता है। इस समस्‍या में लोग गलत तरीके आजमाते हैं ज‍िसके चलते परेशानी और बढ़ जाता है। क्‍या आपको पता है ऐसी स्‍थित‍ि में कौनसी गलत‍ियां नहीं करनी चाह‍िए? कुछ लोग गलत इंजेक्‍शन से मवाद बनने पर उस पर उस पर क्रीम या पानी लगाने की भूल कर बैठते हैं और इससे बात बि‍गड़ जाती है। आज हम आपको बताएंगे ऐसी ही 5 गलत‍ियों के बारे में जो इंजेक्‍शन के गलत असर से होने वाली सूजन या मवाद पर करते हैं। इसे कैसे ठीक किया जाए और क‍िन बातों का ध्‍यान रखें ये जानने के ल‍िए हमने लखनऊ के केयर इंस्‍टिट्यूट ऑफ लाइफ साइंसेज की एमडी फ‍िजिश‍ियन डॉ सीमा यादव से बात की। 

side effect of injection

कैसे पता चलता है क‍ि गलत तरह से इंजेक्‍शन लगा है? (Side effects of injection on skin)

अगर आपको इंजेक्‍शन लगने की जगह असहनीय दर्द हो रहा हो तो समझें क‍ि वो गलत तरह से लगाया गया है या उसके आसपास की स्‍क‍िन लाल हो या फूल गई हो। उस जगह पर स्‍क‍िन के अंदर पस या खून भर जाता है जिससे स्‍मैल भी आ सकती है और इसमें दर्द भी बढ़ता जाता है। 

ऐसी स्‍थ‍ित‍ि में क्‍या करें? (How to treat side effect of injection on skin)

haldi is antiseptic

अपना इलाज खुद न करें। डॉक्‍टर से सलाह लें अगर मेड‍िकल हेल्‍प नहीं ले सकते तो घाव पर एंटीसेप्‍ट‍िक क्रीम लगा लें। अगर स्‍क‍िन के बड़े ह‍िस्‍से में समस्‍या होती है तो डॉक्‍टर एंटीसेप्‍ट‍िक दवाएं खाने के ल‍िए देते हैं। अगर तुरंत मेड‍िकल हेल्‍प नहीं ले सकते तो घाव पर हल्‍दी लगा सकते हैं। ये एंटीसेप्‍ट‍िक होती है और अगर लगातार खून बह रहा है तो वो भी बंद हो जाएगा। इसके अलावा नीम का पेस्‍ट भी लगा सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें- घर में इंफेक्शन और बीमारियों का कारण आपका हैंडबैग तो नहीं? जानें इंफेक्शन को रोकने के 10 उपाय

गलत तरह से इंजेक्‍शन लगने पर स्‍क‍िन में हो सूजन या मवाद तो इन गलत‍ियों से बचें (Mistakes to be avoided after feeling side effect of injection on skin)

1. प्रभाव‍ित जगह पर शेव या वैक्‍स करना (Avoid shave or wax)

गलत तरह से इंजेक्‍शन लगने वाली जगह या उसके आसपास के एर‍िया में भी वैक्‍स करने की गलती ब‍िल्‍कुल भी न करें। आपको जो स्‍क‍िन ऊपर से ठीक द‍िख रही है वो अंदर से इंफेक्‍टेड हो सकती है। जब तक वो ठीक न जाए तब तक वैक्‍स या शेव अवॉइड करें। अगर आप ज्‍यादा छेड़ेंगे तो पस का एक लम्‍प भी बन सकता है ज‍िसे एब्‍सेस बोलते हैं। इसमें बहुत दर्द होता है इसल‍िए ऐसा कुछ भी करने से बचें। 

2. प्रभाव‍ित जगह पर पानी लगाना  (Avoid water)

गलत तरह से लगे से खराब हुई स्किन पर नमी से हालत और ब‍िगड़ सकती है इसल‍िए आपको इसे पानी से बचाकर रखना है। आपको इस बात का भी ध्‍यान रखना है क‍ि उस जगह को साफ करने के ल‍िए एल्‍कोहॉल का इस्‍तेमाल न करें। इससे जलन और दर्द बढ़ सकता है। 

इसे भी पढ़ें- नाक में दर्द और सूजन हो सकते हैं बीमारी के लक्षण, जानें क्या है इलाज और लक्षण

3. इफेक्‍टेड स्‍क‍िन पर नुकीली चीज लगना (Avoid sharp object)

इंजेक्‍शन से इफेक्‍टेड स्‍क‍िन को प्रोटेक्‍ट करके रखना है। कोई भी नुकीली चीज उसे और खराब कर सकती है इसल‍िए ऐसी चीजों से बचें। इससे मवाद बाहर न‍िकल सकता है और स्क‍िन के बाक‍ि ह‍िस्‍से को भी इंफेक्‍ट कर सकता है। न स‍िर्फ बाहर बल्‍क‍ि स्‍क‍िन के अंदर भी इंफेक्‍शन हो सकता है, ये इंटरनल ट‍िशू का डैमेज कर सकता है ज‍िससे सेलुल‍िट‍िस नाम का इंफेक्‍शन हो सकता है। 

4. इफेक्‍टेड स्‍क‍िन पर पट्टी बांधना (Avoid covering)

प्रभाव‍ित त्‍वचा को पट्टी से कवर करने की गलती न करें, इससे वो अंदर ही अंदर और ब‍िगड़ सकता है। आपको बस ये ध्‍यान रखना है क‍ि उस पर धूल-म‍िट्टी जमा न हो। आपको उसे जर्म्स से बचाकर रखना है। 

5. प्रभाव‍ित जगह पर क्रीम लगाना (Avoid cream)

अगर गलत इंजेक्‍शन लगने के कारण स्‍क‍िन में मवाद भर गया है तो उस पर नॉर्मल क्रीम लगाने की गलती न करें। क्रीम में खुशबू और कई तरह के कैम‍िकल होते हैं इसल‍िए इनका इस्‍तेमाल न करें। उस जगह को अच्‍छी तरह साफ करके उस पर एंटीसैप्‍ट‍िक दवा लगानी चाह‍िए। पर ये केवल एक टैम्‍पोरेरी स्‍ल्‍यूशन है। आपको जल्‍दी से जल्‍द डॉक्‍टर के पास पहुंचना चाह‍िए।

इन बातों का ध्‍यान रखकर आप गलत इंजेक्‍शन से इफेक्‍ट हुई स्‍क‍िन को जल्‍द ठीक कर पाएंगे इसमें आपको डॉक्‍टर की मदद लेनी चाह‍िए। 

Read more on Miscellaneous in Hindi 

Disclaimer