नाक में दर्द और सूजन हो सकते हैं बीमारी के लक्षण, जानें क्या है इलाज और लक्षण

लाल नाक या नाक में सूजन बीमारी और इंफेक्‍शन के संकेत हो सकते हैं। इन्‍हें नजरअंदाज़ करने के बजाय आसान उपायों से ठीक क‍िया जा सकता है। 

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurUpdated at: Jan 27, 2021 17:25 IST
नाक में दर्द और सूजन हो सकते हैं बीमारी के लक्षण, जानें क्या है इलाज और लक्षण

क्‍या आपकी नाक में भी अक्‍सर दर्द और सूजन बनी रहती है? अगर हां तो आपको सतर्क रहने की जरूरत है। लोग समझते हैं क‍ि सर्दी-जुकाम में नाक लाल होती है पर कई बीमार‍ियों के चलते नाक में सूजन या नाक लाल हो सकती है। सूजन के चलते नाक से म्‍युकस न‍िकलता रहता है ज‍िससे आपको परेशानी हो सकती है। नाक में सूजन की समस्‍या बच्‍चे और बड़े दोनों को हो सकती है। अगर नाक की स्‍वैल‍िंग को समय पर ठीक नहीं क‍िया जाये तो सांस लेने में द‍िक्‍कत हो सकती है। इससे आपके शरीर को पर्याप्‍त ऑक्‍सीजन नहीं म‍िलेगी। लंबे समय तक नाक में सूजन रहने का कारण इंफेक्‍शन और दूसरी बीमार‍ियां भी हो सकती हैं। अगर होम ट्रीटमेंट से सूजन नहीं जाती है तो कुछ केस में डॉक्‍टर सर्जरी की सलाह भी देते हैं। इस बारे में ज्‍यादा जानकारी के लि‍ये हमने लखनऊ के केयर इंस्‍टिट्यूट ऑफ लाइफ साइंसेज की एमडी फ‍िजिश‍ियन डॉ सीमा यादव से बात की।   

redness in nose is a cause of infection

नाक में बीमारी के लक्षण (Symptoms of nose infection or disease)

नाक में बीमारी का पहला लक्षण है सूजन। नाक सूज जाती है या लाल हो जाती है। दूसरा लक्षण है नाक से थिक ड‍िस्‍चार्ज न‍िकलना। नाक में जमाव या रूकावट महसूस होना भी नाक में बीमारी के लक्षण हो सकते हैं। नाक में बीमारी या इंफेक्‍शन के कारण आपको सांस लेने में परेशानी हो सकती है। नाक में बीमारी के कारण आंखों के पास, गले या स‍िर के पास सूजन या दर्द भी हो सकता है। नाक में बीमारी होने पर कान में भी दर्द होता है। इसके अलावा आपके सूंघने की शक्‍त‍ि चली जाये तो समझ जाइये क‍ि आपकी नाक बीमार है। 

इसे भी पढ़ें- नाक के अंदर क्यों हो जाते हैं फुंसी या पिंपल्स? जानिए इससे छुटकारा पाने के घरेलू उपाय

नाक में सूजन से कौनसी बीमार‍ियां हो सकती हैं? (Redness in nose causes nose infection)

नाक में सूजन के चलते अंदर के ट‍िशू ब्‍लॉक हो जाते हैं। अगर क‍िसी को ऐसे लक्षण है तो उसे क्रोन‍िक साइनसाइट‍िस नाम की बीमारी हो सकती है। एलर्जी के कारण भी सूजन हो सकती है। एक्‍यूट साइनसाइट‍िस एक तरह का इंफेक्‍शन होता है। इन बीमारी में डॉक्‍टर आपको एंटीबॉयोट‍िक्‍स दे सकते हैं। नाक में इंफेक्‍शन के कारण फेफड़ों में भी इंफेक्‍शन हो सकता है। इसे रेस्‍प‍िरेट्री ट्रैक इंफेक्‍शन कहते हैं। बैक्‍टेर‍ियल इंफेक्‍शन के चलते स‍िस्‍ट‍िक फाइब्रोस‍िस हो सकता है। इसमें शरीर में बलगम बनता है।  नाक में सूजन का कारण नैसल पॉल‍िप्‍स हो सकता है। इस बीमारी में सांस लेने में द‍िक्‍कत होती है। अस्‍थमा के कारण भी नाक में सूजन हो सकती है।

इसे भी पढ़ें- आपकी नाक भी हो सकती है आपका 'हेल्थ इंडिकेटर', नाक में ये 5 बदलाव बताते हैं शरीर के रोग का पता

नाक की सूजन कम करने के घरेलू उपाय (Home remedies for nose infection)

नाक की सूजन कम करने के ल‍िये चेहरे पर गरम तौल‍िया रखें इससे सूजन कम होगी। क्‍लोरीन युक्‍त पूल में न जायें। क्‍लोरीन के पानी से परेशान बढ़ सकती है। आपको संक्रमण से दूर रहने के ल‍िये नेजल पैसेज को साफ रखना है। नाक में नमक के पानी का स्‍प्रे करें। आप चाहें तो नाक को साफ करने के ल‍िये नेजल वॉश का इस्‍तेमाल भी कर सकते हैं। नमक और पानी को म‍िलाकर घोल बनायें और उससे भाप लें। इससे सूजन कम होगी। खाने में तरल पदार्थ शाम‍िल करें। इससे एलर्जी वाले तत्‍व नाक से बाहर न‍िकल जायेंगे और म्‍युकस का फ्लो सुधरेगा। 

नाक की बीमारी या इंफेक्‍शन से कैसे बचें? (How to prevent nose infection)

नाक से जुड़ी बीमारी या इंफेक्‍शन का इलाज सही समय पर क‍िया जाये तो स्थित‍ि इतनी खराब नहीं होती। आपको छोटी-छोटी बातों का ध्‍यान रखना है। नाक में दर्द या सूजन हो तो एयरबोर्न तत्‍वों से आपको बचकर रहना होगा। तंबाकू या स‍िगरेट का धुंआ, कैम‍िकल्‍स, बारीक कण, धूल इन सबसे आपको सावधान रहना है। अपने हाथों को साफ रखें। बार-बार नाक को न छूएं। नाक में वायरल या बैक्‍टेर‍ियल इंफेक्‍शन गंदगी के कारण ही होते हैं। इंफेक्‍शन से नेजल पैसेज में सूजन होने लगती है इसलि‍ये हाईजीन का ख्‍याल रखें। 

अगर लक्षण आपको समझ नहीं आते हैं या तकलीफ बढ़ती द‍िखती है तो देर न करें तुरंत अपने डॉक्‍टर से संपर्क करें। 

Read more on Other Diseases in Hindi

Disclaimer