बढ़ती गर्मी आपके लिए हो सकती है नुकसानदायक, इन आसान तरीकों से करें अपना बचाव

बढ़ती गर्मी के कारण कोई भी गर्मी से होने वाली बीमारी का शिकार हो सकता है, भयंकर गर्मी से बचने के लिए इन तरीकों का करें इस्तेमाल।

Vishal Singh
विविधWritten by: Vishal SinghPublished at: May 13, 2020
बढ़ती गर्मी आपके लिए हो सकती है नुकसानदायक, इन आसान तरीकों से करें अपना बचाव

गर्मियों का मौसम एक अच्छा समय होता है जब आप बाहर जाकर प्राकृतिक चीजों के साथ समय बिता सकते हैं। लेकिन गर्मियों के मौसम में ही अक्सर कई तरह की बीमारियां अपना प्रकोप फैलाती है। गर्मियों में आमतौर पर शरीर में पानी की कमी होने के कारण डिहाइड्रेशन की समस्या होना, पेट से संबंधित समस्याएं और अन्य गर्मी की बीमारी अपना शिकार बनाती है। अगर देखा जाए तो गर्मी की बीमारी विकारों है - जैसे हीट स्ट्रोक, हीट के कारण थकावट, हीट से होने वाली ऐंठन और हीट रैश। गर्मी की बीमारी (Heat illness) इसलिए होती है क्योंकि शरीर का तापमान काफी ज्यादा हो जाता है। 

कोई भी शख्स गर्मी के मौसम में गर्मी से होने वाली बीमारी((Heat illness) का शिकार हो सकता है, चाहे वो बच्चा हो, बुजुर्ग हो या फिर किसी रोग से संबंधित मरीज ही क्यों न हो जैसे ह्दय रोगी, हाई ब्लड प्रेशर के मरीज, फेफड़ों की समस्या से पीड़ित आदि। सभी डॉक्टर्स आपको गर्मी से बचे रहने और गर्मी में पानी की कमी को पूरा करने की सलाह देते हैं, जिससे की आप ज्यादातर बीमारियों से अपना बचाव कर सकें। गर्मी के कारण होने वाली बीमारी दो प्रकार की होती है। पहली बाहरी और दूसरी गैर बाहरी। 

गर्मी की बीमारी के प्रकार क्या है? 

गर्मी की बाहरी बीमारी

बाहरी गर्मी के कारण होने वाली बीमारी अक्सर ज्यादा तापमान में लंबे समय तक काम करने या फिर रहने के कारण होती है। इस स्थिति का ज्यादातर पुलिसकर्मियों, सैन्य पुरुषों, एथलीटों और युवाओं शिकार होते हैं, क्योंकि ये ज्यादातर बाहर रहते हैं जिसके कारण इनके शरीर का तापमान ज्यादा हो जाता है। 

गर्मी की गैर बाहरी बीमारी

आमतौर पर देखा जाता है कि जो बुजुर्ग लोग स्वास्थ्य संबंधित किसी भी परेशानी जैसे: डायबिटीज(Diabetes),ह्दय रोगी और अन्य गंभीर रोगी को इस समस्या का सामना करना पड़ता है। 

लक्षण

  • गर्मी के कारण थकावट
  • काफी ज्यादा पसीना आना। 
  • गर्मी में निकलते ही सिरदर्द होना। 
  • लगातार गर्मी में चक्कर आना। 
  • मांसपेशियों में ऐंठन। 
  • बार-बार प्यास लगना। 

इसे भी पढ़ें: आयुर्वेद के अनुसार गर्म तासीर वाले हैं ये 7 आहार, गर्मियों में इनका ज्यादा सेवन हो सकता है नुकसानदायक

बचाव

हाइड्रेट रखें 

गर्मी के मौसम में अपने शरीर के मुताबिक ज्यादा पानी पीने की आदत डालनी चाहिए। शरीर में पानी की जरूरी मात्रा पूरी होने से आप किसी भी बीमारी से बचे रह सकते हैं साथ ही आपको गर्मी भी कम लगेगी। इसके अलावा अगर आप रोजाना धूप का सामना करते हैं तो आपके लिए पानी एक दवा का काम करती है। इससे आपकी त्वचा पर किसी तरह का बुरा प्रभाव नहीं पड़ता साथ ही आपका शरीर हमेशा हाइड्रेट रहता है जिसकी वजह से न तो आपको गर्मी के कारण चक्कर आएंगे न ही आपको कमजोरी महसूस होगी। 

शारीरिक तौर पर एक्टिव रहें

आपको गर्मी के मौसम में भी नियमित रूप से एक्सरसाइज (Exercise) करनी चाहिए, इससे आपको तरोताजा महसूस होगा साथ ही आपको एनर्जी भी मिलेगी। आप अपनी पसंद के किसी भी प्रकार के व्यायाम कर सकते हैं, दौड़ सकते हैं या कर सकते हैं। इसके अलावा अगर आप बुजुर्ग है और किसी भी एक्सरसाइज को करने में सक्षम नहीं हैं तो इसके लिए आप योगा या फिर चल कर अपने आपको एक्टिव रख सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें: गर्मियों में खूब खाते-पीते रहना है और पेट की समस्याओं से भी बचना है, तो आज से ही अपना लें ये 5 नियम

सूती कपड़े पहनें

भारी कपड़े और मोटे कपड़ों के कारण गर्मी ज्यादा लगती है। इसलिए आप कोशिश करें कि सूती कपड़ों का ही इस्तेमाल करें इसमें आपको कम से कम गर्मी का अहसास होगा। वहीं, इसके साथ ही सूती कपड़े आपके शरीर में आए पसीने को जल्दी दूर करने का भी काम करते हैं।

Read more articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer