बच्चे को हॉस्टल भेजने से पहले पेरेंट्स जरूर सिखाएं ये जरूरी बातें, आएंगी बड़े काम

अगर आप बच्चे को हॉस्टल भेज रहे हैं, तो उसे कुछ चीजें जरूर सिखाएं। ताकि वह हॉस्टल में आसानी से रह सके और उसे दिक्कतों का सामना न करना पड़े।

Written by: Updated at: Jan 22, 2023 15:00 IST
बच्चे को हॉस्टल भेजने से पहले पेरेंट्स जरूर सिखाएं ये जरूरी बातें, आएंगी बड़े काम

Tips for Prepare Child for Hostel Life: कई पेरेंट्स बच्चों को समय न दे पाने की वजह से या फिर बच्चों की स्किल्स को बढ़ाने के लिए उसे हॉस्टल भेज देते हैं। हालांकि, जितना मुश्किल बच्चे के लिए हॉस्टल जाना होता है, उससे कई ज्यादा मुश्किल पैरेंट्स के लिए बच्चे को हॉस्टल भेजना होता है। तो क्या आप भी बच्चे को हॉस्टल भेजने की प्लानिंग कर रहे हैं? अगर आप भी अपने बच्चे को हॉस्टल भेजने वाले हैं, तो आप कुछ चीजें बच्चों को जरूर सिखाएं, ताकि बच्चे को हॉस्टल में कोई दिक्कत न हो और वह आसानी से हॉस्टल में पढ़ाई कर सके।

डिसिप्लिन (Discipline) 

अगर आप अपने बच्चे को हॉस्टल भेज रहे हैं, तो उसे डिसिप्लिन जरूर सिखाएं। इसके लिए आप अपने बच्चे को अपना बिस्तर उठना, बेड शीट बिछाना सिखाएं। अपने कपड़ों, किताबों और स्टेशनरी के सामानों को सही जगह पर रखने की आदत सिखाएं। इससे बच्चे का सामान खोएगा नहीं, और जब उसे जरूरत होगी तो आसानी से मिल जाएगा। साथ ही बच्चे को उसका एक शेड्यूल और रूटीन को फॉलो करने की आदत डालें। इससे बच्चा बोर्डिंग स्कूल में आसानी से रह सके और उसे ज्यादा परेशानी न हो। 

इसे भी पढ़ें : अच्छी सेहत के लिए अपने बच्चों को जरूर सिखाएं ये 6 आदतें, जीवनभर मिलेगा फायदा

child hostel

आत्मनिर्भर  

अगर आप बच्चे को बांधकर रखते हैं, तो उसके लिए हॉस्टल में रहना मुश्किल हो सकता है। इसलिए आपको अपने बच्चे को इंडिपेंडेंट (आत्मनिर्भर) भी रहने देना चाहिए। इससे उसमें कॉन्फिडेंस लेवल डेवलप होगा, साथ ही वह जिम्मेदारियां लेने के लिए भी तैयार होगा। इसलिए बच्चे के लिए बार-बार रोका-टाकी न करें। उसे कुछ निर्णय खुद से लेने दें, ताकि उसे बोर्डिंग स्कूल में दिक्कत न हो। अगर आप ही बच्चे का हर निर्णय लेंगे, तो इससे उसे बाद में हर जगह पर आपकी जरूरत पड़ सकती है और बोर्डिंग स्कूल में आप बच्चे के साथ नहीं होते हैं।  

पैसों की सही प्लानिंग 

वैसे तो सभी बच्चों को मनी हैंडलिंग करना सिखाना चाहिए, लेकिन अगर आप बच्चे को बोर्डिंग स्कूल भेज रहे हैं, तो उसके लिए मनी हैंडलिंग सीखना ज्यादा जरूरी हो जाता है। क्योंकि हॉस्टल में बच्चे को पॉकेट मनी मिलती है और उसे उन्हीं पैसों के हिसाब से खर्चा करना होता है। इसके लिए आप बच्चों को पैसों की वैल्यू सिखाएं, ताकि वह फिजूल का खर्च करने से बच सके। साथ ही बच्चों को सेविंग करना भी जरूर सिखाना चाहिए। लेकिन सेविंग के चक्कर में बच्चे को उनकी जरूरतों को मारने के लिए बिल्कुल न कहें। 

नए रिश्ते बनाना सिखाएं 

सभी बच्चों को खुले विचारों का होना चाहिए। सभी के साथ मिल-जुलकर रहना चाहिए। अगर आप बच्चे को हॉस्टल भेज रहे हैं, तो उसे नए रिश्ते बनाना जरूर सिखाएं। अगर आपका बच्चा अकेले रहना पसंद करता है, तो उसे नए दोस्त बनाने के लिए प्रोत्साहित करें। बच्चों को अलग-अलग लोगों से बातचीत करने के लिए प्रोत्साहित करें। इससे आपका बच्चा हॉस्टल में दोस्तों के साथ आसानी से रह पाएगा। अगर बच्चे सहमा हुआ और अकेला रहने वाला होता है, तो उसे बोर्डिंग स्कूल में दिक्कत हो सकती है। वह अकेलापन महसूस कर सकता है। 

इसे भी पढ़ें : बच्‍चों को कैसे सिखाएं प्लेट का पूरा खाना खत्म करना? जानें आसान ट‍िप्‍स


मैनेजमेंट करना सिखाएं 

बोर्डिंग स्कूल जाने वाले बच्चों को मैनेजमेंट करना जरूर आना चाहिए। आपको अपने बच्चे को टाइम मैनेजमेंट, मनी मैनेजमेंट और दूसरी सभी चीजों को मैनेज करना आना चाहिए। अगर बच्चे को मैनेजमेंट आता होगा, तो वह आसानी से हॉस्टल लाइफ एंज्वॉय कर सकता है। अन्यथा उसे परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।  

हॉस्टल भेजने के बाद कनैक्टेड रहें  

अगर आपने बच्चे को हॉस्टल भेज दिया है, तो उसके साथ हमेशा कनैक्टेड रहें। आप चाहें कितने भी बिजी हैं, फिर भी अपने बच्चे के लिए समय जरूर निकालें। रोजाना बच्चे से 2-3 बार बात जरूर करें। बच्चे से उसके हाल-चाल पूछें। आप बच्चे के साथ वीडियो कॉल पर बात कर सकते हैं। इससे बच्चे को बिल्कुल भी दूर रहने का अहसास नहीं होगा। 

 

Disclaimer