इस काम से आंखों को बुढ़ापे तक चश्‍मे की जरूरत नहीं पड़ेगी!

आमतौर पर आंखों की रोशनी कम होने की वजह अक्सर सिरदर्द होना, आंखों में पानी आना जैसे लक्षण होते हैं।

Atul Modi
Written by: Atul ModiPublished at: Jul 24, 2017Updated at: Jul 24, 2017
इस काम से आंखों को बुढ़ापे तक चश्‍मे की जरूरत नहीं पड़ेगी!

आंखें हैं तो सबकुछ है। अगर आंखें न हों तो सिर्फ अंधेरा है। आंखें हमारे शरीर के सबसे जरुरी अंगो में से एक हैं। आंखों कि रोशनी में थोड़ी सी भी कमी आने पर हमें काफी समस्या का सामना करना पड़ता है। कुछ विशेष कारणों से जैसे आनुवांशिकता और पोषण की कमी, बढ़ती उम्र और अत्यधिक तनाव होने पर आंखों को तमाम तरह की समस्‍या का सामना करना पड़ता है। जब आंखों की रोशनी कम होने लगे तो समझ जाइए कि समस्‍या गंभीर है। आमतौर पर आंखों की रोशनी कम होने की वजह अक्सर सिरदर्द होना, आंखों में पानी आना जैसे लक्षण होते हैं।

मीठी नीम का ये 1 घरेलू उपचार करेगा कमजोर आंखों का इलाज



हालांकि इसकी सही जानकारी आंखों की जांच कराने के बाद ही पता चलती है। कभी-कभी यह परेशानी कुछ गंभीर कारणों से भी हो सकती है जैसे मोतियाबिंद, आंखों की मांसपेशियों का कमजोर होना या से ग्रस्त होना आदि। सामान्य तौर पर आंखों की कम रोशनी का इलाज डॉक्टर्स ही कर सकते हैं। लेकिन फिर भी आप कुछ घरेलू उपायों को अपनाकर अपनी आंखों की को बढ़ा सकते हैं।

आंखों की रोशनी बढ़ाने के आसान तरीके


1: एक पेंसिल को हाथ में खड़ी (vertically) सीधा आंखों के सामने करें। पेंसिल बिलकुल नाम के सामने आंखों के बीच होना चाहिए। अपना ध्यान पेंसिल की नोंक पर बनायें रखें। अब धीरे-धीरे इस पेंसिल को अपनी आंखों के पास लायें और फिर दूर ले जाएं। इसे रोजाना 10 बार करें।

2: अपनी आंखों की पुतलियों को क्‍लॉकवाइज दिशा में घुमाएं। ऐसे कुछ सेकेंड के लिए करें। अब इन्हें एंटी-क्‍लॉकवाइज दिशा में घुमाएं। इसे 4 से 5 बार दोहराएं। हर बार करने के बीच में अपनी आंखों को झपकाएं।

3: अपनी आंखों की पलकों को लगातार बिना रुके 20 से 30 बार जल्दी-जल्दी झपकाएं। अब अपनी आंखों को बंद करके उन्हें आराम दें। ऐसा दिन में 2 बार करें।

4:  अपने से दो से तीन मीटर दूर रखी किसी वस्तु पर ध्यान लगायें। शुरुआत में ऐसा 5 मिनट के लिए करें और धीरे-धीरे समय बढ़ाते जाएं। ध्यान लगाने के दौरान अपनी आंखों को बिलकुल भी न झपकाएं। इस व्‍यामाम को रोजाना कुछ महीनों के लिए करें।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप
Read More Articles On Eye Care In Hindi

Disclaimer