अपेंडिक्स के दर्द से राहत पाने के लिए अपनाएं ये 9 घरेलू नुस्खे

अपेंडिक्स ग्रंथि में सूजन की वजह से अपेंडिसाइटिस की समस्या होती है, इसके दर्द को दूर करने के लिए इन कारगर घरेलू उपायों का इस्तेमाल फायदेमंद होता है।

 
Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: Jun 25, 2021Updated at: Jun 25, 2021
अपेंडिक्स के दर्द से राहत पाने के लिए अपनाएं ये 9 घरेलू नुस्खे

अपेंडिक्स (Appendix) हमारे पेट में मौजूद एक ऐसी ग्रंथि है जिसमें सूजन की समस्या होने की बीमारी को अपेंडिसाइटिस (Appendicitis) कहा जाता है। अपेंडिक्स पेट में दायीं तरफ मौजूद एक ग्रंथि होती है जो कोलन से जुड़ी हुई होती है। हालांकि अपेंडिक्स का शरीर में क्या काम है इसके बारे में कोई विस्तृत जानकारी नहीं है लेकिन यह माना जाता है कि यह हमारे पाचन में सहयोगी होती है। अपेंडिक्स में सूजन की समस्या जिसे अपेंडिसाइटिस कहते हैं, एक गंभीर समस्या होती है। अपेंडिसाइटिस को नजरअंदाज करना कभी-कभी भारी भी पड़ सकता है। अपेंडिसाइटिस की समस्या में होने वाला दर्द काफी गंभीर भी हो सकता है। शुरुआत में यह दर्द नाभि के आसपास शुरू होता है और सूजन बढ़ने के साथ ही दर्द भी बढ़ता चला जाता है। ज्यादातर मामलों में यह समस्या 10 से 30 साल के आयु वाले लोगों में देखी गयी है, हालांकि यह किसी भी उम्र में हो सकता है। अपेंडिक्स की समस्या में सर्जरी को ही सबसे अच्छा विकल्प माना गया है लेकिन अगर किसी को भी अपेंडिक्स का दर्द हो रहा है तो कुछ ऐसे घरेलू नुस्खे हैं जो इस समस्या में बेहद कारगर माने जाते हैं। आप इस दर्द से निजात पाने के लिए इन घरेलू नुस्खों को भी अपना सकते हैं।

अपेंडिक्स या अपेंडिसाइटिस के दर्द के कारण (What Causes Appendix or Appendicitis?)

appendix-pain

अपेंडिक्स की ग्रंथि में सूजन होने पर अपेंडिसाइटिस की समस्या होती है। 10 साल से 30 साल की उम्र में यह समस्या सबसे ज्यादा होती है। अपेंडिक्स के दर्द की समस्या का सबसे प्रमुख कारण इसमें संक्रमण होना माना जाता है। अपेंडिक्स में पेट का संक्रमण या मल की वजह से अपेंडिक्स के ब्लाक होने पर इसमें दर्द की समस्या शुरू होती है। अगर आपके शरीर में किसी भी प्रकार का संक्रमण है तो इसकी वजह से भी अपेंडिक्स में सूजन हो सकती है। सूजन होने की वजह से ही अपेंडिक्स में दर्द होता है।

अपेंडिसाइटिस के लक्षण (Appendicitis Symptoms)

एपेंडिसाइटिस की समस्या में सबसे पहले पेट में नाभि के आसपास दर्द शुरू होता है। आमतौर पर पेट में नाभि के आसपास होने वाले दर्द को अपेंडिक्स का पहला लक्षण माना जाता है। इसके अलावा एपेंडिसाइटिस की समस्या में होने वाले प्रमुख लक्षण इस प्रकार से हैं।

  • पेट में नाभि के आसपास दर्द
  • भूख न लगना
  • जी मिचलाना और उल्टी होना
  • बुखार
  • पेट में सूजन
  • पेट में गंभीर ऐंठन
  • कब्ज की समस्या
  • खांसी और छींक

अपेंडिक्स के दर्द में कारगर घरेलू नुस्खे (Home Remedies to Cure Appendix Pain)

अपेंडिक्स में सूजन होने की वजह से होने वाला दर्द काफी तेज और असहनीय हो सकता है। इस समस्या का समय पर इलाज न होने की वजह से मरीज को और भी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। अपेंडिक्स की समस्या में सर्जरी को सबसे कारगर इलाज माना जाता है। लेकिन कुछ घरेलू नुस्खे भी हैं जिनकी मदद से आप अपेंडिक्स के दर्द से निजात पा सकते हैं। आइए जानते हैं इन घरेलू नुस्खों के बारे में।

इसे भी पढ़ें: पेट के निचले हिस्से में तेज दर्द होना हो सकता है अपेंडिक्स का संकेत, इन तरीकों से करें पहचान

1.  अपेंडिक्स के दर्द में नींबू और शहद का इस्तेमाल (Honey and Lemon for Appendix Pain)

lemon-honey-for-appendix-pain

नींबू और शहद के इस्तेमाल से आप अपेंडिक्स के दर्द से निजात पा सकते हैं। नींबू और शहद के मिश्रण को अपेंडिक्स की समस्या में बेहद कारगर माना जाता है। इसका इस्तेमाल पुराने समय से लोगों द्वारा किया जा रहा है। अपेंडिक्स के दर्द से राहत के लिए आप समान मात्रा में नींबू का रस और शुद्ध शहद लें। इसका नियमित रूप से सेवन करने से पेट साफ होगा और अपेंडिक्स की वजह से होने वाली कब्ज में फायदा मिलेगा।

इसे भी पढ़ें: लगातार हो रहे पेट दर्द को नजरअंदाज करना हो सकती है अपेंडिक्स की समस्या, जानें इसके लक्षण और बचाव के तरीके

2. अपेंडिक्स में ग्रीन का इस्तेमाल (Green Tea for Appendix Pain)

green-tea-to-treat-appendix-pain

अपेंडिक्स के दर्द में ग्रीन टी का इस्तेमाल बेहद फायदेमंद होता है। ग्रीन टी में एंटीऑक्‍सीडेंट और एंटी-इंफ्लामेट्री गुण पाए जाते हैं जो अपेंडिक्स के दर्द से निजात दिलाने में फायदेमंद होते हैं। दर्द से छुटकारा पाने के लिए एक कप गर्म पानी में ग्रीन टी और एक चम्मच शहद मिलाएं। नियमित रूप से इसका सेवन करने से अपेंडिक्स के दर्द और इससे जुड़ी अन्य समस्या में फायदा मिलता है। दिन में दो बार एक सप्ताह के लिए इसका सेवन करने से अपेंडिक्स का दर्द खत्म हो सकता है।

इसे भी पढ़ें: क्यों होते हैं लोग अपेंडिक्स के शिकार? जानें इसके प्रभावी कारण और शुरुआती लक्षण

3. अपेंडिक्स की समस्या में मेथी के दाने का उपयोग (Fenugreek Seeds for Appendix Pain)

fenugreek-seed-for-appendix-pain

मेथी के दानों का सेवन पेट के लिए रामबाण होता है, इसके इस्तेमाल से पेट की कई समस्याओं में फायदा मिलता है। आयुर्वेद में मेथी को औषधि के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। अपेंडिक्स में मेथी के दानों का इस्तेमाल आंत में मौजूद कचरे को साफ करता है और पेट के संक्रमण में भी फायदा देता है। अपेंडिक्स के दर्द को खत्म करने के लिए रोजाना एक कप गुनगुने पानी में 2 बड़े चम्मच मेथी के दाने को उबालें। अच्छी तरह से उबलने के बाद इसे 10 मिनट के लिए धीमी आंच पर रखें। इसके बाद इसे छानकर रोजाना दिन में एक बार महीने भर पियें। इससे अपेंडिक्स से जुड़ी समस्या में फायदा मिलेगा।

4. अपेंडिक्स के दर्द में त्रिफला चूर्ण का इस्तेमाल (Triphala Churna for Appendix Pain)

triphala-for-appendix-pain

त्रिफला पेट की समस्याओं में रामबाण की तरह काम करता है। त्रिफला को पेट के लिए अमृत माना गया है। त्रिफला का चूर्ण हरड़, बहेड़ा और आंवला को मिलाकर किया जाता है। त्रिफला के चूर्ण का नियमित रूप से सेवन करने पर अपेंडिक्स के दर्द में फायदा मिलता है और इससे पेट भी साफ रहता है। रोजाना रात में सोने से पहले 1 चम्मच त्रिफला के चूर्ण का सेवन करने से अपेंडिक्स का दर्द दूर होता है।

इसे भी पढ़ें: दांतों को स्वस्थ रखने के लिए 6 घरेलू नुस्खे, जो पुराने समय से किए जा रहे हैं प्रयोग

5. अपेंडिक्स की समस्या में बादाम का तेल (Almond Oil for Appendix Pain)

almond-oil-for-appendix-pain

अपेंडिक्स की समस्या में बादाम का तेल भी बेहद प्रभावी माना जाता है। बादाम के तेल की मालिश करने से अपेंडिक्स की समस्या में फायदा मिलता है इसकी वजह से होने वाले दर्द से राहत मिलती है। बादाम के तेल को गर्म करके पेट पर मालिश करें और उसके बाद एक तौलिये को गर्म पानी में भिगोने के बाद दर्द वाली जगह पर लगायें। इससे अपेंडिक्स का दर्द दूर होता है। पेट पर रोजाना बादाम के तेल से मालिश के बाद यह प्रक्रिया अपनाएं, कुछ दिन ऐसा करने से अपेंडिक्स का दर्द दूर होगा।

इसे भी पढ़ें: देसी घी के 5 असरदार घरेलू नुस्खे, जिनको बहुत पुराने समय से लोग कर रहे हैं इस्तेमाल

6. अपेंडिक्स के दर्द में पुदीने का इस्तेमाल (Mint for Appendix Pain)

mint-to-trat-appendix-pain

अपेंडिक्स में सूजन की वजह से होने वाले अपेंडिसाइटिस की समस्या में पुदीने की पत्तियों का इस्तेमाल बहुत फायदेमंद होता है। पुदीना पेट के लिए औषधि के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। पुदीने के इस्तेमाल से आप पेट से जुड़ी कई समस्याएं दूर कर सकते हैं। अपेंडिक्स के दर्द में पुदीने की 1 चम्मच ताजा पत्तियों को पानी में उबालें। अच्छी तरह से उबल जाने के बाद इसमें थोड़ा सा शहद मिलाएं। इसे अच्छी तरह से मिलाने के बाद गुनगुना रहने पर इसका सेवन करें। रोजाना दो से तीन बार इस चाय का सेवन करने से आपको अपेंडिक्स के दर्द में फायदा मिलेगा। 

7. अपेंडिक्स के दर्द में छाछ का सेवन (Buttermilk for Appendix Pain)

buttermilk-for-appendix

छाछ का सेवन शरीर के लिए बेहद फायदेमंद होता है। गर्मियों में लोग छाछ का सेवन पेट की समस्याओं को दूर करने और शरीर को तरोताजा बनाये रखने के लिए करते हैं। छाछ का नियमित रूप से सेवन करने से पाचन संबंधी दिक्कतें दूर होती हैं और संक्रमण आदि से लड़ने के लिए प्रोबायेटिक बनाती है। अपेंडिक्स की समस्या में रोजाना 1 लीटर छाछ का सेवन करें। इससे दर्द में फायदा मिलेगा और पेट सही रहेगा।

इसे भी पढ़ें: आंखों के दर्द को दूर करने में बेहद कारगर हैं ये 5 घरेलू नुस्खे

इन घरेलू नुस्खों के अलावा नियमित रूप से पर्याप्त पानी पीना और संतुलित व पौष्टिक आहार लेना इस समस्या में फायदेमंद होता है। कई बार पेट के निचले हिस्से में दर्द दूसरी वजहों से भी हो सकता है इसलिए इसे अपेंडिक्स समझने से पहले चिकित्सक से इसकी जांच जरूर करवानी चाहिए। अपेंडिक्स के दर्द को नजरअंदाज करने से आगे चलकर गंभीर दिक्कत हो सकती है इसलिए इसका समय पर इलाज जरूर कराना चाहिए।

Read more articles on Home Remedies in Hindi

 
Disclaimer