कान में दर्द, इंफेक्शन और फुंसियों को ठीक करेंगे ये 5 आसान घरेलू नुस्खे

कई बार सर्दी, जुकाम से या कान में पानी चला जाने से ये दर्द होता है और कई बार मैल जमा होने, इंफेक्शन या कान में कीड़ा चला जाने से भी ये दर्द होता है।

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Feb 02, 2018
कान में दर्द, इंफेक्शन और फुंसियों को ठीक करेंगे ये 5 आसान घरेलू नुस्खे

कान का दर्द अक्सर बच्चों और बड़ों को परेशान करता है। कान में दर्द की वजह से छोटे बच्चों को सबसे ज्यादा परेशानी होती है। इसके कई कारण हो सकते हैं। कई बार सर्दी, जुकाम से या कान में पानी चला जाने से ये दर्द होता है और कई बार मैल जमा होने, इंफेक्शन या कान में कीड़ा चला जाने से भी ये दर्द होता है। कान में दर्द की वजह से कई बार कम सुनाई देना या कान में खुजली की समस्या हो जाती है। लेकिन कान के इस दर्द और खुजली को कुछ आसान घरेलू उपायों द्वारा आसानी से ठीक किया जा सकता है।

तुलसी के पत्ते

कान के दर्द में तुलसी के पत्ते बड़े कारगर होते हैं क्योंकि इनमें एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-फंगल गुण होते हैं। इसके लिए तुलसी की पत्तियों को पीसकर उसके रस की दो-तीन बूंद कान में डालें। तुलसी के इस रस से कान का इंफेक्शन ठीक होता है और दर्द दूर होता है। कान के अंदरूनी जख्मों को भी ये रस ठीक करता है।

इसे भी पढ़ें:- त्वचा पर हो कैसा भी निशान, 1 हफ्ते में गायब कर देंगी ये 5 चीजें

लहसुन

लहसुन में भी एंटीसेप्टिक गुण होते हैं और ये दर्द को भी दूर करता है। इसके लिए लहसुन की दो कलियों को अच्छी तरह से पीस लें। अब इसमें एक चुटकी नमक मिलाकर ऊनी कपड़े से बनायी गयी पुल्टीस को दर्द वाले हिस्से के ऊपर रखें इससे दर्द में आराम मिलेगा। इसके अलावा लहसुन की तीन-चार कलियों को सरसों के तेल में भूनकर अस तेल को कान में डालें। इससे भी आपको लाभ मिलेगा।

जैतून का तेल

जैतून का तेल भी कान के दर्द में बेहद फायदेमंद होता है। जैतून के तेल में दर्द निवारक गुण होते हैं और इसमें त्वचा के लिए कई पोषक तत्व भी होते हैं। कान के दर्द के लिए जैतून के तेल को हल्का सा गुनगुना कर लें और कान में डालें। इससे कान का दर्द थोड़ी देर में ठीक हो जाएगा। आप चाहें तो रुई के फाहे को इस तेल में भिगाकर कान के अंदर भी रख सकते हैं।

इसे भी पढ़ें:- खून की खराबी से होती है थकान, पिंपल और वजन की समस्या, ये हैं 5 आसान उपाय

मूली के पत्ते

 

मूली के पत्ते भी कान के दर्द को आसानी से ठीक कर देते हैं। इसके लिए मूली के पत्तों को पीसकर उसका रस निकाल लें। अब इस रस को तिल के तेल में देर तक पकाएं। जब रस भाप बनकर उड़ जाए तब इस तेल को कपड़े से छानकर शीशी में भर लें। अब जब भी कान में दर्द हो इस तेल को हल्का सा गर्म करें औऱ दो-तीन बूंद कान में डालें। इससे कान दर्द तुरंत ठीक होगा। ये तेल एक साल तक खराब नहीं होता है।

प्याज

प्याज में भी दर्द निवारक गुण होते हैं। अगर आप रोज प्याज खाते हैं तो आपकी इम्यूनिटी भी ठीक रहती है। कान के दर्द के लिए प्याज की गांठ को गर्म राख में सेंक लें और फिर उसका रस निकालकर कान में डालें। इससे कान के दर्द में तुरंत आराम मिलता है।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Home Remedies in Hindi

Disclaimer