खाना खाने के बाद हिचकियां आने के क्या कारण हो सकते हैं? जानें डॉक्टर से

वैसे तो हिचकियां आना एक आम बात है। लेकिन बहुत से लोगों को कुछ भी खाने के बाद एकदम हिचकियां शुरू हो जाती हैं, जिसकी बहुत सी वजहें हो सकती हैं।

Monika Agarwal
विविधWritten by: Monika AgarwalPublished at: Jun 12, 2022Updated at: Jun 12, 2022
खाना खाने के बाद हिचकियां आने के क्या कारण हो सकते हैं? जानें डॉक्टर से

हिचकियां आना कभी-कभी काफी परेशानी भरा हो सकता है। बहुत बार तो अगर हिचकियां शुरू हो जाती हैं तो बहुत देर तक आती ही रहती हैं जिसकी वजह से हम न कुछ ढंग से खा पाते हैं और न ही कुछ बोल पाते हैं। अगर आप भी खाना खाने के बाद अक्सर हिचकियों से परेशान रहते हैं तो इसके पीछे कई कारण हो सकते हैं। सरोज हॉस्पिटल के इंटरनल मेडिसिन विभाग के कंसलटेंट, डॉ. एसके मुंद्रा के अनुसार जब हमारे डायाफ्राम में थोड़ी ऐंठन आ जाती है तो हमारे वोकल कोर्ड्स बंद हो जाते हैं। जिसके कारण हिचकी की आवाज आनी शुरू हो जाती है। आइए जानते हैं ऐसा किन कारणों की वजह से होता है।

आप बहुत ज्यादा खाते हैं : 

जितने खाने की आपके शरीर को जरूरत है, अगर आप उससे ज्यादा खा लेते हैं तो आपको हिचकियां आनी शुरू हो सकती हैं। बहुत ज्यादा खाने से आपका पेट भर जाता है और फूल कर एकदम टाइट हो जाता है। जब पेट अपने नॉर्मल साइज से ज्यादा बड़ा होने लगता है तो डायाफ्राम सिकुड़न लगता है और इसी कारण हिचकियां आने लगती हैं। इसलिए जरूरत से थोड़ा कम खाएं।

आपने कुछ तीखा खाया है : 

अगर आप बहुत तीखे और गर्म खाने के शौकीन हैं तो भी आपको हिचकियों का सामना करना पड़ सकता है। अगर आप मिर्च मसाले वाले खाने को खाते हैं तो इनमें कैप्साइसिन नाम का कंपाउंड पाया जाता है जो डायाफ्राम को इरिटेट कर सकता है और इस वजह से आपका डायाफ्राम ऐंठने लगता है और हिचकियां शुरू हो जाती हैं। इसलिए अगर यह कारण है तो हल्का तीखा या सादा भोजन ही खाएं।

Hiccups-reasons-after-eating

इसे भी पढ़ें - बार-बार हिचकी आए तो क्या करना चाहिए? जानें हिचकी रोकने के आसान टिप्स और घरेलू उपाय

आप जल्दी जल्दी खाना खाते हैं : 

कई बार हम इतने भूखे होते हैं कि खाना दिखा नहीं और जल्दी-जल्दी से खाने लग जाते हैं। ज्यादा तेजी से खाना भी हिचकियों का कारण हो सकता है। ऐसा करने से आपके पेट में काफी सारी गैस या हवा चली जाती है जो फैलती जाती है। इसके कारण आपका पेट फूल जाता है और ऐसा होने से डायाफ्राम कांट्रैक्ट होने लगता है जिससे हिचकी आने लगती है।

आपने कार्बोनेटेड ड्रिंक पी है : 

अगर आपने बुलबुले वाली किसी ड्रिंक का सेवन किया है तो बाद में आपको हिचकियां भी परेशान कर सकती हैं। कार्बोनेटेड ड्रिंक्स Co2 के प्रेशर में बनाई जाती हैं और यह ड्रिंक बाद में आपके पेट में फैल जाती है। अगर आपका पेट इसके कारण काफी ज्यादा फूल जाता है तो फिर से आपका डायाफ्राम कांट्रैक्ट होने लगता है जिस कारण हिचकियां शुरू हो जाती हैं। इन ड्रिंक्स का सेवन करना कम कर दें।

आप बहुत ज्यादा ठंडा या गर्म खा रहे हैं : 

अगर आपने बहुत ज्यादा गर्म या ठंडा खा लिए है तो इससे आपकी एसोफैगस या फिर आपका पेट इरिटेट हो सकता है जिस कारण डायाफ्राम कांट्रैक्ट होने लगता है और आपको हिचकियां आनी शुरू हो जाती हैं। इसलिए खाने को थोड़े नॉर्मल तापमान पर ही खाएं।

इसे भी पढ़ें - इन 22 कारणों से आती है हिचकी, आयुर्वेदाचार्य से जानें रोकने के उपाय

आप शराब का सेवन कर रहे हैं 

आपका शराब का सेवन करना भी हिचकियों का कारण बन सकता है। ऐसा करने से आपकी एसोफैगस और आपका पेट इरिटेट हो सकते हैं। इससे भी आपका डायाफ्राम प्रभावित होता है और हिचकियां आनी शुरू हो जाती हैं। अगर आप कार्बोनेटेड अल्कोहल ड्रिंक्स का सेवन कर रहे हैं जैसे बीयर या फिर शेम्पेन तो आपका हिचकी आने का रिस्क डबल हो जाता है। इसलिए आपको ऐसी ड्रिंक्स का सेवन नहीं करना चाहिए।

अगर आप हिचकियों से परेशान रहते हैं तो इन कारणों को अनदेखा करने की कोशिश करें और कुछ अन्य टिप्स का भी पालन कर सकते है, जैसे किसी पेपर बैग में सांस लेना, ठंडे पानी के गरारे करना आदि।

Disclaimer