टीनएज के दौरान लड़कियों को ब्रेस्ट हेल्दी रखने के लिए अपनानी चाहिए ये 5 आदतें

टीनएज में ब्रेस्‍ट को हेल्‍दी रखने के ल‍िए इन 5 आदतों को अपनाएं ताक‍ि बीमारी और संक्रमण से ब्रेस्‍ट को सुरक्ष‍ित रख सकें

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Oct 05, 2021
टीनएज के दौरान लड़कियों को ब्रेस्ट हेल्दी रखने के लिए अपनानी चाहिए ये 5 आदतें

टीनएज के दौरान लड़क‍ियों के शरीर में कई बदलाव होते हैं ज‍िनमें से एक है ब्रेस्‍ट में बदलाव। इस दौरान हार्मोनल बदलाव के कारण ब्रेस्‍ट के साइज में बदलाव आता है ज‍िसके चलते इस उम्र में लड़क‍ियो को ब्रेस्‍ट को हेल्‍दी रखने की खास जरूरत होती है। साफ-सफाई का ध्‍यान न रखने के कारण ब्रेस्‍ट और उसके आसपास के ह‍िस्‍से में इंफेक्‍शन हो सकता है इसल‍िए इसे नजरअंदाज न करते हुए समय-समय पर आपको ब्रेस्‍ट का चेकअप डॉक्‍टर से करवाना चाह‍िए। ब्रेस्‍ट को हेल्‍दी रखने के ल‍िए सही इनरव‍ियर का भी ध्‍यान रखना जरूरी है और असंतुलि‍त खानपान से भी ब्रेस्‍ट की सेहत ब‍िगड़ सकती है। इस लेख में हम टीनएज के दौरान ब्रेस्‍ट को हेल्‍दी रखने के ल‍िए जरूरी आदतों पर चर्चा करेंगे। इस व‍िषय पर ज्‍यादा जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के झलकारीबाई अस्‍पताल की गाइनोकॉलोज‍िस्‍ट डॉ दीपा शर्मा से बात की।

teenage checkup

(image source:google)

1. ब्रेस्‍ट को हेल्‍दी रखने के ल‍िए सेल्‍फ-एग्‍जाम‍िन करें (Self examine your breast)

अगर आप अपने ब्रेस्‍ट में बदलाव देख रहीं हैं तो तुरंत डॉक्‍टर के पास जाएं और उनसे अपनी समस्‍या बताएं। आपको घर पर रहकर हर महीने ब्रेस्‍ट का सेल्‍फ-एग्‍जाम‍िन करना चाह‍िए, इससे आपको पता चलेगा क‍ि ब्रेस्‍ट में कोई गांठ या क‍िसी बीमारी के लक्षण तो नजर नहीं आ रहे हैं। क‍िसी भी तरह के लक्षण नजर आने पर उसका इलाज तुरंत करवाएं। इसके अलावा अपनी उम्र के मुताब‍िक जरूरी वैक्‍सीन जैसे एचपीवी लगवाएं, एचपीवी वैक्‍सीन लड़क‍ियों को आगे चलकर ब्रेस्‍ट कैंसर से बचाने में मदद करती है। आजकल कुछ टीनएजर्स का ध्‍यान ब्रेस्‍ट पीर्स‍िंग की ओर बढ़ रहा है पर इससे इंफेक्‍शन का खतरा रहता है इसल‍िए इस शौक को पूरी तरह से अवॉइड करें।

इसे भी पढ़ें- टीनेज लड़कियों को बैग में जरूर रखनी चाहिए ये 5 चीजें, कभी भी पड़ सकती है जरूरत

2. ब्रेस्‍ट को हेल्‍दी रखने के ल‍िए अनहेल्‍दी न खाएं (Avoid unhealthy food to keep breast healthy)

eat healthy

(images source:breakpoint)

टीनएज में आपके शरीर में हार्मोनल बदलाव होते हैं, इस दौरान आपको अनहेल्‍दी खाने से बचना चाह‍िए। ज्‍यादा ऑयली या जंक फूड खाएंगी तो इसका बुरा असर शरीर के साथ-साथ ब्रेस्‍ट पर भी पड़ेगा, कम उम्र में भी ब्रेस्‍ट हैवी नजर आएंगे ज‍िससे आगे चलकर आपको परेशानी हो सकती है। डॉ दीपा ने बताया क‍ि कुछ लड़क‍ियां ये जानना चाहती हैं क‍ि ब्रेस्‍ट साइज कम कैसे करें? तो इसका कोई अलग से उपाय नहीं है, आप जब वजन कम करने के तरीके अपनाएंगी तो ब्रेस्‍ट साइज खुद ही कम हो जाएगा। इसके अलावा ब‍िना पैच टेस्‍ट क‍िए ब्रेस्‍ट पर कोई भी प्रोडक्‍ट ट्राय न करें, ब्रेस्‍ट के आसपास का एर‍िया बेहद सेंस‍िटि‍व होता है। यहां कोई भी प्रोडक्‍ट लगाने से लगाने से पहले स्‍क‍िन के क‍िसी अन्‍य ह‍िस्‍से में पैच टेस्‍ट करके देख लें।

3. ब्रेस्‍ट को हेल्‍दी रखने के ल‍िए टाइट ब्रा पहनने से बचें (Avoid tight bra to keep breast healthy)

अगर आप टीनएजर हैं तो आपको टाइट ब्रा पहनने से बचना चाह‍िए। टाइट ब्रा पहनने से ब्‍लड सर्कुलेशन ब‍िगड़ सकता है। ज्‍यादा टाइट ब्रा पहनने से ज्‍यादा पसीना आता है ज‍िसके चलते इंफेक्‍शन, सूजन, जलन, रेडनेस की समस्‍या हो सकती है। वहीं कुछ लड़क‍ियां जानना चाहती हैं क‍ि क्‍या उन्‍हें रात में ब्रा पहनना चाह‍िए, इस सवाल का जवाब आपकी बॉडी टाइप पर न‍िर्भर करता है। अगर आपके ब्रेस्‍ट भारी हैं तो आपको रात को ब‍िना ब्रा पहनने सोने में परेशानी हो सकती है, अगर आप ब‍िना ब्रा के आरामदायक तरीके से सोना चाहें तो उसमें कोई समस्‍या नहीं है, आप चाहें तो स्‍पोर्ट ब्रा का व‍िकल्‍प भी चुन सकती हैं। ब्रेस्‍ट को हेल्‍दी रखने के ल‍िए आपको सही साइज की ब्रा चुननी चाह‍िए। अगर ब्रा ज्‍यादा लूज़ होगी तो भी आपको समस्‍या हो सकती है इसल‍िए अपने साइज और शेप के अनुसार ब्रा चुनें।

इसे भी पढ़ें- 21वीं सदी में किशोरों को सबसे ज्यादा बीमारियों का शिकार बना रही हैं ये 3 गलत आदतें, समय रहते बदलें

4. ब्रेस्‍ट को साफ और ड्राय रखें (Clean and dry your breast to keep it healthy)

avoid tight bra

(image source:htp.org)

अगर आपके घर में टीनएज बेटी या बहन है तो आपको उसकी साफ-सफाई का खास खयाल रखना चाह‍िए क्‍योंक‍ि इस उम्र में इंफेक्‍शन होने की आशंका ज्‍यादा होती है। जब बात ब्रेस्‍ट की हो तो च‍िंता और भी बढ़ जाती है क्‍योंक‍ि लड़क‍ियों के शरीर में ये एक सेंस‍िट‍िव ह‍िस्‍सा माना जाता है। रोजाना ब्रेस्‍ट की सफाई का ध्‍यान रखना जरूरी है। नहाते वक्‍त ब्रेस्‍ट और उसके बीच के क्षेत्र को अच्‍छी तरह से क्‍लीन करें। रोजाना साबुन और पानी से ब्रेस्‍ट की क्‍लीन करें और ड्राय होने के बाद ही कपड़े पहनें। अगर पसीना ज्‍यादा आता है तो स्‍क‍िन को ड्राय रखने के ल‍िए पाउडर का इस्‍तेमाल भी कर सकते हैं।

5. हर द‍िन इनरवियर बदलें (Change innerwear everyday to keep breast healthy)

cahnge innerwear

(image source:ptt.ngott)

टीनएज के दौरान इंफेक्‍शन होने का खतरा ज्‍यादा रहता है। इस दौरान आपको द‍िन में कम से कम एक बार इनरव‍ियर जरूर बदलना चाह‍िए। पसीना आने के कारण ब्रेस्‍ट और उसके आसपास के एर‍िया में फंगल या बैक्‍टीर‍िया इंफेक्‍शन हो सकता है ज‍िससे बचने के ल‍िए आपको क्रीम, पाउडर आद‍ि चीजों का इस्‍तेमाल करना चाह‍िए। इसके साथ ही अगर आपकी ब्रा बहुत पुरानी हो गई है तो भी आपको संक्रमण का खतरा हो सकता है इसल‍िए उसे जल्‍द से जल्‍द बदल दें। टीनएज में कुछ लड़कि‍यां स्‍मोकिंग या शराब पीने की गलत आदत फॉलो करने लगती हैं पर ब्रेस्‍ट की सेहत के ल‍िए ये आदत अच्‍छी नहीं है। तंबाकू या स‍िगरेट, शराब जैसी चीजों का सेवन करने से ब्रेस्‍ट कैंसर का खतरा बढ़ सकता है।

इन संकेतों को नजरअंदाज न करें (Do not avoid these breast signs)

ब्रेस्‍ट में कोई भी बदलाव नजर आए तो एक्‍सपर्ट की मदद लें, कुछ लड़क‍ियां अपने मन से दवा या क्रीम का इस्‍तेमाल ब्रेस्‍ट पर करती हैं ज‍िससे समस्‍या बढ़ सकती है। टीनएज में ब्रेस्‍ट में ये संकेत नजर आएं तो तुरंत डॉक्‍टर से संपर्क करें- 

  • ब्रेस्‍ट में दर्द हो तो ब‍िना देरी क‍िए च‍िकित्‍सा मदद लें। 
  • ब्रेस्‍ट में सूजन महसूस होना भी अच्‍छा संकेत नहीं है आपको चेकअप करवाना चाह‍िए।
  • ब्रेस्‍ट में गांठ या टाइटनेस  महसूस हो तो भी चेकअप करवाएं। 
  • ब्रेस्‍ट के आसपास के ह‍िस्‍से में रेडनेस हो तो डॉक्‍टर से क्रीम या दवा लें।

टीनएज के दौरान ब्रेस्‍ट का चेकअप जरूरी है, इसल‍िए अपने डॉक्‍टर से संपर्क में रहें और शरीर में हो रहे बड़े बदलावों के बारे में उन्‍हें बताएं।

(main image source:beauty trends)

Read more on Women Health in Hindi  

Disclaimer