इस दिवाली डायबिटीज रोगी ऐसे खाएं जमकर मिठाई, नहीं बढ़ेगा शुगर!

दिवाली खुशियों और हर्षोल्लास का त्यौहार है। इस दिन सब खुशी से झूमने के साथ ही एक दूसरे को मिठाई बांटते हैं। 

Rashmi Upadhyay
डायबिटीज़Written by: Rashmi UpadhyayPublished at: Oct 16, 2018Updated at: Nov 01, 2018
इस दिवाली डायबिटीज रोगी ऐसे खाएं जमकर मिठाई, नहीं बढ़ेगा शुगर!

दिवाली खुशियों और हर्षोल्लास का त्यौहार है। इस दिन सब खुशी से झूमने के साथ ही एक दूसरे को मिठाई बांटते हैं। दिवाली आते ही घर में साफ-सफाई, रंग-पुताई होने के साथ ही घर चमकने लगते हैं। इस त्यौहार में लोग माता लक्ष्मी और गणेश भगवान को अपने घर बुलाने के लिए पूजा अर्चना के साथ ही किसी भी चीज में कोई कसर नहीं छोड़ते हैं। लेकिन इस त्यौहार के मौके पर कई लोग इतने मशगूल हो जाते हैं कि अपने स्वास्थ्य को दरकिनार कर देते हैं। जबकि हमेशा स्वास्थ्य को प्राथमिकता देनी चाहिए। डायबिटीज के रोगियों को खासकर इस त्यौहार में अपना ख्याल रखने की सलाह दी जाती है। क्योंकि मिठाई खाने के चलते डायबिटीज बहुत तेजी से बढ़ता है। आज हम डायबिटीज के मरीजों को इस त्यौहार के लिए कुछ स्पेशल टिप्स दे रहे हैं।

इसे भी पढ़ें : डायबिटीज के रोगी जरूर फॉलो करें खानपान संबंधी ये 5 बातें

 

  • डायबिटीज के मरीज त्यौहार के मौके पर एक एक बैलेंस डाइट को फॉलो करें। ताकि समस्या बढ़े ना। साथ ही मिठाई से दूर रहें। आप चाहे तो फल खा सकते हैं। 
  • मधुमेह रोगियों को दिवाली में खानपान पर नियंत्रण के अलावा लगातार शुगर लेवल जांच कराते रहना चाहिए और अपने ब्लड शुगर लेवल का चार्ट बना कर रखना चाहिए।
  • डायबिटीज के रोगियों को दिवाली के मौके पर ऐसी चीजें खानी चाहिए जिसमें न तो बहुत ज्यादा चिकनाई हो और न ही बहुत ज्यादा मिठास हो। यानि कि मधुमेह रोगियों को स्मॉल फ्रीक्वेंट मील लेना चाहिए।
  • जौ का आटा, बाजरे का आटा और रागी के आटे में काफी फाइबर होता है। जो मधुमेह के मरीजों के लिए परफेक्ट है। मधुमेह रोगियों के लिए यह बहुत फायदेमंद होता है।
  • अगर आपको कुछ चटपटा खाने का मन है तो आप ओट्स का दलिया सब्जियों के साथ बनाकर खा सकते हैं। इससे आपको ना सिर्फ प्रोटीन मिलेगा बल्कि आपको भारी मात्रा में फाइबर भी मिलेगा। 
  • पानी की मात्रा अधिक बढ़ा दें। यानि कि इन दिनों दिन में कम से कम 10 से 12 ग्लास पानी पीएं। खाने में सलाद को भी प्राथमिकता दें। 
  • मधुमेह रोगियों के लिए बाजार में कई शक्कर रहित मिठाइयां मिलती हैं। इसके अलावा आप कम वसा वाली मिठाइयां चुनें जैसे गुलाब जामुन की बजाय रसगुल्ला खाएं। अन्य इसी तरह की मिठाइयां हैं संदेश और पेड़ा।
  • नमकीन और तीखे में मठरी, शक्करपाली, चकली, कचौरियां आदि बनाएं जिनमें आप आटे के साथ बाजरा, रागी, सोयाबीन का आटा मिला सकते हैं। इन नमकीनों में आप हरी पत्तियों की सब्जियां जैसे मेथी, पालक, धनिया आदि मिला सकते हैं।
  • ड्राई फ्रूट्स से अपने दोस्तों और रिश्तेदारों की मेहमाननवाजी करें, इनमें चिकनाई भी नहीं होती और ज्यादा दिनों तक इनका इस्तेमाल भी कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें : स्वास्थ्यवर्धक है भिंडी, इन 2 बड़ी बीमारियों का करती है सफाया

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Diabetes

 
Disclaimer