50+ उम्र में ज्यादातर महिलाएं करती हैं ये 5 गलतियां, स्वास्थ्य पर पड़ता है बुरा असर

50+ उम्र में महिलाएं सेहत से जुड़ी गलत‍ियां कर बैठती हैं ज‍िससे सेहत ब‍िगड़ सकती है, आइए जानते हैं कौनसी हैं वो गलत‍ियां जि‍न्‍हें सुधारा जा सकता है

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Jun 21, 2021Updated at: Jun 21, 2021
50+ उम्र में ज्यादातर महिलाएं करती हैं ये 5 गलतियां, स्वास्थ्य पर पड़ता है बुरा असर

50 उम्र पार करते-करते मह‍िलाएं अक्‍सर कामकाज में अपने स्‍वास्‍थ्‍य को पीछे छोड़ देती हैं ज‍िसका खाम‍ियाजा उन्‍हें आगे चलकर उठाना पड़ता है। डॉक्‍टर्स और एक्‍सपर्ट्स मह‍िलाओं को हर उम्र में खुद पर ध्‍यान देने की सलाह देते हैं, कारण है शरीर में होने वाले न‍िरंतर बदलाव। मह‍िलाओं को उम्र बढ़ने के साथ ब्रेस्‍ट की जांच, हड्ड‍ियों की जांच, कैंसर स्‍क्रीन‍िंग आद‍ि करवानी चाह‍िए। इसके साथ उन्‍हें अपनी डाइट, एक्‍सरसाइज और स्‍क‍िन का ख्‍याल भी रखना जरूरी हो जाता है। ये न समझें क‍ि उम्र बढ़ने के साथ बॉडी में बदलाव नहीं क‍िए जा सकते। अगर आपको खुद को फ‍िट रखना है तो रोजाना थोड़ा समय न‍िकालना चाह‍िए। इस लेख में हम बात करेंगे स्‍वास्‍थ्‍य से जुड़ी उन गलत‍ियों की ज‍िन्‍हें मह‍िलाएं अक्‍सर 50 पार उम्र में दोहराती हैं। अगर आप भी इन गलत‍ियों को करती हैं तो आज से ही अच्‍छी आदतों की ओर मुड़ें। इस व‍िषय पर ज्‍यादा जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ में स्‍थ‍ित किंग जॉर्ज मेड‍िकल यूनीवर्स‍िटी में प्रोफेसर, लखनऊ ओबीजी सोसाइटी की सेक्रेटरी और गाइनोकॉलोज‍िस्‍ट डॉ न‍िशा स‍िंह से बात की। 

memogram

1. 50 पार उम्र में मेमोग्राम नहीं करवाने की गलती (Older women avoids mammogram)

अगर आप भी ऐसी गलती कर रहे हैं तो इसे तुरंत सुधारें। मेमोग्राम टेस्‍ट से ब्रेस्‍ट कैंसर के पता चलता है इसल‍िए महिलाओं को समय-समय पर जांच जरूर करवानी चाह‍िए खासकर जब आप 50 पार उम्र में हों। ज‍ितना जल्‍दी बीमारी का पता चलेगा इलाज भी उतना ही जल्‍दी शुरू क‍िया जा सकेगा। आपको हर साल कम से कम एक बार मेमोग्राम करवाना चाह‍िए।

2. 50 पार उम्र में हड्डियों पर ध्‍यान न देना (Older women avoids bone health)

bone density test

50 पार होते ही उम्र बढ़ने के साथ हड्ड‍ियों में दर्द, चलने में समस्‍या आनी शुरू हो जाती है। इन समस्‍याओं से बचने के ल‍िए आपको हड्ड‍ियों का ख्‍याल रखना है। आपको हड्ड‍ियों को मजबूत रखने के ल‍िए कसरत करनी चाहिए, रोजाना दूध पीना चाह‍िए इसके साथ ही हर साल अपना बोन डेनस‍िटी टेस्‍ट भी करवाना चाह‍िए ज‍िससे आपको पता लगे क‍ि हड्ड‍ियां कहीं ज्यादा कमजोर तो नहीं है। 

इसे भी पढ़ें- 17 साल की लड़की का निकाला गया 4 साल पुराना ओवेरियन ट्यूमर, जानें ओवेरियन ट्यूमर के लक्षण, कारण और इलाज

3. 50 पार उम्र में सनस्‍क्रीन एप्‍लाई न करना (Older women avoids sunscreen)

do not avoid sunscreen

50 पार उम्र में मह‍िलाएं खुद को बूढ़ा समझकर अपने ऊपर ध्‍यान देना बंद कर देती हैं। ऐसे में अगर आप सनस्‍क्रीन एप्‍लाई करना छोड़ रही हैं तो ये एक गलती हो सकती है। आपको हर उम्र में सनस्‍क्रीन लगानी चाह‍िए। कैम‍िकल युक्‍त सनस्‍क्रीन लगाने के बजाय नैचुरल उत्‍पादों को चुनें। अपने ल‍िप्‍स, घुटनों के पीछे, गर्दन और पैरों पर भी सनस्‍क्रीन लगाएं। अगर आप घर पर ही रहती हैं तो भी स्‍क‍िन के ल‍िए यूवी रेज़ से बचाव जरूरी है इसल‍िए आप नैचुरल तरीके अपना सकती हैं जैसे एलोवेरा, हल्‍दी का उबटन लगाना आद‍ि। 

4. 50 पार उम्र में कसरत को अवॉइड करने की गलती (Older women avoids exercise)

उम्र बढ़ने के साथ मसल्‍स मांस घटने लगता है और मसल्‍स पर फैट बढ़ने लगता है, इससे मेटाबॉल‍िज्‍म रेट कम हो जाता है। जो मह‍िलाएं कसरत से दूर रहती हैं वो ज्‍यादा कैलोरीज कंज्‍यूम कर लेती है और वजन बढ़ जाता है। अगर आप 50 पार कर चुकीं हैं तो आपको अपने शरीर को हेल्‍दी रखने के ल‍िए रोजाना कसरत करना बेहद जरूरी है। आपको रोजाना एक घंटा कसरत करनी चाह‍िए। एक हफ्ते में 150 म‍िनट कसरत करने का लक्ष्‍य बनाएं।

इसे भी पढ़ें- पीरियड में ब्लड क्लॉट्स (खून के थक्के) आने के कारण और उपचार

5. 50 पार उम्र में मह‍िलाएं कैंसर स्‍क्रीन‍िंग को करती हैं नजरअंदाज (Older women avoids cancer screening)

गाइनोकॉलोज‍िस्‍ट डॉ न‍िशा स‍िंह ने बताया कि उम्र बढ़ने के साथ मह‍िलाएं कई जरूरी जांच नजरअंदाज कर देती हैं ज‍िनमें से एक है सर्व‍िकल कैंसर की जांच। 50 पार उम्र के बाद हर मह‍िला को सर्व‍िकल कैंसर की स्‍क्रीन‍िंग ल‍िए पैप स्‍मीयम टेस्‍ट, एचीपीवी डीएनए टेस्‍ट या वीआईए टेस्‍ट हर 3 से 5 साल में एक बार जरूर करवाना चाह‍िए। इसके साथ ही अगर आपको यूट्रीन ब्‍लीड‍िंग हो रही है तो अपनी गाइनोकॉलोज‍िस्‍ट से संपर्क जरूर करें। इस उम्र में मेनोपॉज के कारण भी शारीर‍िक बदलाव होते हैं इसल‍िए आपको समय पर जांच और रूटीन चेकअप करवाते रहना चाह‍िए।

आपको अपनी उम्र के मुताब‍िक सही स्‍क‍िन रूटीन, रेगुलर एक्‍सरसाइज, डाइट और रूटीन टेस्‍ट पर ध्‍यान देना है। अगर आप अपनी उम्र के मुताब‍िक खुद को एक्‍ट‍िव रहेंगी तो बड़ी बीमार‍ियों से बच सकती हैं। 

Read more on Women Health in Hindi 

Disclaimer