मिट्टी के कुल्हड़ में चाय पीने से सेहत को मिलते हैं ये 4 फायदे

Health Benefits Of Kulhad Chai: भारत में कुल्हड़ में चाय पीने का दौर बहुत लंबे समय से चला आ रहा है। इसकी सोंधी सी खुशबू मन को खुश कर देती है।

Ashu Kumar Das
Written by: Ashu Kumar DasPublished at: Sep 12, 2022Updated at: Sep 12, 2022
मिट्टी के कुल्हड़ में चाय पीने से सेहत को मिलते हैं ये 4 फायदे

Health Benefits Of Kulhad Chai: मिट्टी के कुल्हड़ का इस्तेमाल सदियों से भारत में किया जा रहा है। आज भी देश के कई रेलवे  स्टेशन और ग्रामीण घरों में आपको मिट्टी के कुल्हड़ में ही चाय मिलेगी। मिट्टी के कुल्हड़ का चलन तब से है जब पूरी दुनिया में किसी और अन्य डिस्पोजबल प्रोडक्ट के बारे में लोगों ने सुना तक नहीं था। मिट्टी के कुल्हड़ में पाई जाने वाली सोंधी सी महक चाय, लस्सी, दही, छाछ और रबड़ी का स्वाद कई गुणा बढ़ा देती है। शाम को ऑफिस में काम खत्म करने के बाद गरम-गरम चाय जब कुल्हड़ में जाती है, तो इसकी महक मन और दिमाग को बिल्कुल तरोताजा कर देती है।

कुल्हड़ में डालकर चीजें पीने में जो मजा है वो किसी में और नहीं। पर क्या कभी आपने सोचा है कि कुल्हड़ में चाय, कॉफी और छाछ पीने से सेहत को भी फायदा पहुंच सकता हैं। जी हां कुल्हड़ में चाय पीने से इसकी गुणवत्ता कई गुणा बढ़ जाती है। इसलिए आज हम आपको कुल्हड़  (Kulhad chai benefits) की चाय पीने के फायदों के बारे में बताएंगे।

इसे भी पढ़ेंः चाय के साथ खाएं ये 5 ग्लूटेन फ्री स्नैक्स, वजन घटाने में मिलेगी मदद

कुल्हड़ में चाय पीने के फायदे

कैल्शियम का अच्छा सोर्स - Kulhad me paye jaate hai calcium

कई रिसर्च में यह बात सामने आ चुकी है कि मिट्टी में पर्याप्त मात्रा में कैल्शियम पाया जाता है, जो शरीर के लिए काफी फायदेमंद होता है। कुल्हड़ में चाय पीने से शरीर के अंदर कैल्शियम की मात्रा भी जाती है। साथ ही ये चाय के एसिडिक नेचर को कम करता है। जिन लोगों को चाय पीने के बाद गैस, पेट दर्द, बदहजमी और पेट फूलना जैसी समस्याएं होती हैं उनके लिे कुल्हड़ की चाय की चाय काफी फायदेमंद साबित होती है। 

health benefits of having chai in kulhad

पाचन के लिए अच्छी है कुल्हड़ की चाय - Kulhad tea is good for digestion

प्लास्टिक या किसी भी तरह के डिस्पोजल में चाय पीने से सेहत को कई तरह के नुकसान हो सकते हैं। प्लास्टिक और डिस्पोजल में चाय पीने से इसमें मौजूद केमिकल गर्म होने पर चाय के साथ मिक्स हो जाते हैं और शरीर में चले जाते हैं। केमिकल्स शरीर में जाने से पाचन तंत्र को काफी नुकसान पहुंचता है। वहीं, मिट्टी के कुल्हड़ में चाय पीने से पाचन तंत्र को किसी तरह का नुकसान नहीं होता है। जिन लोगों को पाचन संबंधी समस्याएं होती हैं उन्हें मिट्टी के बर्तन में खाना खाने की भी सलाह दी जाती है।

इसे भी पढ़ेंः पोषक तत्वों से भरपूर मोरधन खाने से सेहत को मिलते हैं कई फायदे

बैक्टीरिया से बचाव करता है कुल्हड़

बाजार में मिलने वाले प्लास्टिक के कप और कांच के गिलास कई बार धुलते और इस्तेमाल होते हैं। ऐसे में इनमें बैक्टीरिया काफी ज्यादा पाए जाते हैं। वहीं, कुल्हड़ का इस्तेमाल दोबारा नहीं किया जा सकता है। इसलिए इसके जरिए शरीर में किसी भी तरह के बुरे बैक्टीरिया का प्रवेश नहीं कर सकते हैं।

कुल्हड़ में पाए जाते हैं एल्काइन के गुण

कुल्हड़ पर हुई रिसर्च में ये बात सामने आई है कि इसमें पर्याप्त मात्रा में एल्कलाइन (Alkaline) गुण पाए जाते हैं। जो शरीर में एसिड बनने से होने वाली खट्टी डकार, पाचन संबंधित समस्याओं से बचाते हैं।

Disclaimer