मॉनसून में खजूर खाना क्यों माना जाता है सेहतमंद? न्यूट्रीशनिस्ट रुजुता दिवेकर से जानें इसके फायदे

खजूर का सेवन बच्चों, बड़ों सभी के लिए फायदेमंद होता है। यह शरीर में खून की कमी से लेकर मांसपेशियों के विकास तक में सहायक होता है। 

Meena Prajapati
Written by: Meena PrajapatiPublished at: Jul 19, 2021Updated at: Jul 19, 2021
मॉनसून में खजूर खाना क्यों माना जाता है सेहतमंद? न्यूट्रीशनिस्ट रुजुता दिवेकर से जानें इसके फायदे

मानसून आते ही सर्दी, खांसी, जुकाम के साथ एलर्जी जैसी समस्याएं सामने आने लगती हैं। ऐसे में वायरल बीमारियों से बचाने में खजूर बहुत लाभकारी है। जानी मानी न्यूट्रीशनिस्ट रुजुता दिवेकर ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर मानसून में खजूर खाने के फायदों में बताया है। उनका कहना है कि खजूर दिखने में सुंदर, खाने में स्वादिष्ट और इस मौसम का फल है। खजूर में प्रोटीन, कोलेस्ट्रोल, शुगर, कैल्शियम, मैग्नीशियम आदि जैसे पोषक तत्त्व पाए जाते हैं। यह सभी पोषक तत्त्व स्वस्थ शरीर के लिए मानसून में रोगों से लड़ने के लिए जरूरी हैं। सेलिब्रिटी न्यूट्रीशनिस्ट रुजुता दिवाकर से जानते हैं कि मानसून में खजूर क्यों खाने चाहिेए।

inside1_datesbenefits

मानसून में खजूर खाने के फायदे

ऊर्जा का स्रोत

खजूर में प्राकृतिक रूप से मिठास होती है। यह हिमोग्लोबीन का अच्छा स्रोत है। साथ ही इसे खाने से शरीर को ऊर्जा भी मिलती है। रुजुता दिवेकर ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर बताया है कि खजूर खाने से शरीर में हिमोग्लोबिन का स्तर बढ़ता है। जिससे खून की कमी कम होती है। साथ ही खजूर में आयरन की मात्रा भी अधिक होती है, इस वजह से यह एनीमिया की परेशानी से भी दूर रखता है। 

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Rujuta Diwekar (@rujuta.diwekar)

अनिद्रा की समस्या करे दूर

रुजुदा दिवेकर के मुताबिक, खजूर का इस्तेमाल नींद से संबंधित डिसऑर्डर में भी किया जाता है। इसे दूध के साथ लेने से नींद भी अच्छी आती है। 

संक्रमण और एलर्जी से लड़े

बारिश के मौसम में ह्युमिडिटी बढ़ जाती है। साथ ही कभी गर्मी तो कभी सर्दी का मौसम रहता है। ऐसे में इन्फेक्शन होना और मौसम की वजह से एलर्जी होना आम है। इन परेशानियों से निपटने में भी खजूर लाभदायक है। खुजली, खांसी, जुकाम, बुखार जैसी परेशानियों से खजूर दूर रखता है। रुजुता दिवेकर के मुताबिक इस मौमस में होने वाले सबसे ज्यादा इंफेक्शन और एलर्जी से लड़ने में खजूर सहायक है। 

inside3_datesbenefits

इसे भी पढें : शिशुओं को खजूर खिलाने से होते हैं ये 7 फायदे, जानें खिलाने का तरीका

मांसपेशियों का विकास

खजूर में कार्बोहाईड्रेट की मात्रा अच्छी पाई जाती है। ऐसे में यह मांसपेशियों के विकास में बहुत सहायक है। यह मीठे-मीठे खजूर एक्सरसाइज की परफॉर्मेंस भी सुधारते हैं। इसलिए रोजाना इस मौसम में खजूर का सेवन स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है। रुजुता दिेवेकर के मुताबिक खजूर की सबसे खास बात यह है कि ये आपको अपने लोकल बाजार में ही मिल जाएंगे। इन्हें खरीदने के लिए आपको बहुत दूर नहीं जाना पड़ेगा। 

कब्ज और एसिडिटी से दिलाए राहत

शरीर में फाइबर की मात्रा कम होने की वजह से कब्ज की परेशानी होती है। इस परेशानी से निपटने के लिए खजूर लाभदायक है। खजूर में फाइबर की मात्रा प्रचूर पाई जाती है। जिस वजह से यह एसिडिटी और कब्ज से राहत दिलाते हैं। खजूर खाने से मल नर्म होता है, जिस वजह से कब्ज की परेशानी से राहत मिलती है। यही वजह है कि खजूर खाने से एसिडिटी और कब्ज से राहत मिलती है। 

inside2_datesbenefits

इसे भी पढ़ें : Ramdan 2021 : रोजा खोलते और शुरू करते वक्त खाएं खजूर से बनी ये मिठाई, दिनभर रहेंगे एनर्जेटिक

आप इन तरीकों से खा सकते हैं खजूर?

खजूर के सेवन के कई तरीके होते हैं, कुछ तरीके रुजुता दिवेकर ने भी बताए हैं, वे निम्न हैं-

  • सुबह सोकर उठकर सबसे पहले खजूर का सेवन किया जा सकता है। सुबह खजूर खाने से खजूर के सभी लाभ मिलते हैं। 
  • दोपहर का लंच करने के बाद अगर हिमोग्लोबिन लेवल कम है तब भी खजूर का सेवन किया जा सकता है। 
  • बच्चों का अगर प्यूबर्टी का समय है तब भी वे मिड मील में खजूर का सेवन कर सकते हैं। 

खजूर का सेवन बच्चों, बड़ों सभी के लिए फायदेमंद होता है। यह शरीर में खून की कमी से लेकर मांसपेशियों के विकास तक में सहायक होता है। सेलिब्रिटी न्यूट्रीशनिस्ट रुजुता दिवेकर के मुताबिक मानसून में खजूर खाने से एलर्जी, संक्रमण और कब्ज की परेशानी से दूर रहते हैं। इसलिए मानसून के मौसम में इस मीठे से फल का सेवन करना लाभदायक है।  

Read More articles on Healthy Diet in Hindi

Disclaimer