क्या अंडों के छिलकों को खाया जा सकता है? जानें सेहत से जुड़े इसके 3 फायदे और कुछ नुकसान

अंडे का छिलका 40% कैल्शियम कार्बोनेट से बना होता है, जिसमें एक शेल में लगभग दो ग्राम कैल्शियम होता है। पर क्या इसे खाना सेहत के लिए सुरक्षित है।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Nov 07, 2019Updated at: Jul 19, 2021
क्या अंडों के छिलकों को खाया जा सकता है? जानें सेहत से जुड़े इसके 3 फायदे और कुछ नुकसान

अंडा खाना स्वास्थ्य के लिए लाभकारी है पर क्या आपने कभी अंडे के छिलके का बारे में सोचा है। हम सभी अक्सर अंडा उबालते हैं, उसे छिलते हैं और खा लेते हैं या फिर अंडे को तोड़कर इसका इस्तेमाल करते हैं और छिलके को कूड़ेदान में फेंक देते हैं। पर अगर हम आपसे कहें कि अंडे के छिलके के फेंकना नहीं चाहिए बल्कि खा लेना चाहिए, तो क्या आप यकीन करेंगे। नहीं न! पर आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि कैसे अंडे का छिलका हमारे लिए लाभदायक है। दरअसल अंडे के शेल यानी कि छिलके में कैल्शियम कार्बोनेट, प्रोटीन और अन्य खनिज होते हैं। एग शेल्स में लगभग 40 फीसदी कैल्शियम होता है। इसके अलावा ये एक वयस्क व्यक्ति की दैनिक कैल्शियम आवश्यकताओं को भी पूरा कर सकता है। आइए हम आपको बताते हैं अंडों के छिलकों के इस्तेमाल, फायदे और नुकसान के बारे में।

Inside_EGG SHELLS USE

कैसे करें अंडे के छिलकों का इस्तेमाल-Uses of egg shell

ध्यान रखें कि आपको अंडे के छिलकों को बड़ी मात्रा में नहीं निगलना चाहिए, क्योंकि इससे आपको नुकसान पहुंच सकता है। इसलिए आप इसे पीसने कर पाउडर बना कर ही इस्तेमाल करें। याद रखें कि इसे पीसने से लिए अंडों को पहले अच्छे से उबालें। इसके बाद उसे पानी में मिलाकर छानलें फिर इसे कैल्शियम वॉटर रूप में इस्तेमाल करें। इससे इसका बारीक कण बाहर चले जाएंगे। इसके बाद आप इस पानी को भोजन में शामिल कर सकते हैं, या इस पानी को ऐसे ही पी सकते हैं। पर इसका ज्यादा सेवन न करें नहीं तो इससे आपको नुकसान हो सकता है।

अंडे के छिलके से बने पाउडर के फायदे-Eggshell powder benefits

1. कैल्शियम सप्लीमेंट और हड्डियों का स्वास्थ्य

कैल्शियम कार्बोनेट हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए जरूरी होता है। ये अक्सर अनिवार्य रूप से सीशेल्स, कोरल रीफ्स और चूना पत्थर में पाया जाता है। और यही तत्व अंडे के छिलके में भी मिल जाता है। यह शरीर में व्यापक रूप से कैल्शियम बनाता है और हड्डियों को सुरक्षित रखता है। इसके लिए आप अंडे के छिलके को व्यापक रूप से कैल्शियम के पूरक के रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त एग शेल में मैग्नीशियम, फ्लोराइड और अन्य खनिजों का भी एक स्रोत हैं।

इसे भी पढ़ें : अंगूर के बीजों से बना तेल है सेहत के लिए फायदेमंद, शुगर, अल्जाइमर और हार्ट के मरीजों के लिए है वरदान

2. ऑस्टियोपोरोसिस के खतरे को कम करता है

हड्डियों की बीमारी है ऑस्टियोपोरोसिस, जिससे भर के लाखों लोगों को प्रभावित हैं। ये आमतौर पर कैल्शियम की कमी के कारण होता है। अंडे के छिलके के पाउडर का सेवन करने से, आप न केवल इस बीमारी के जोखिम को कम कर रहे हैं, बल्कि आपकी हड्डियों को भी मजबूत कर सकते हैं और उनके घनत्व में बढ़ोतरी कर सकते हैं। वास्तव में, यह माना जाता है कि अंडे का पाउडर शुद्ध कैल्शियम कार्बोनेट की तुलना में अधिक प्रभावी हो सकता है। इसलिए आप अंडे के छिलके को सूखा कर और पाउडर बना कर इसका सेवन कर सकता है।

3. संयुक्त स्वास्थ्य

एक बेहतर संयुक्त स्वास्थ्य के लिए और अंडे के छिलके का सेवन कर सकते हैं। इसके लिए आप  यदि आप इसके पाउडर के रूप में शेल का उपभोग करने का निर्णय लेते हैं, तो झिल्ली को न हटाएं। एक अध्ययन ने निष्कर्ष निकाला कि अंडे, पाउडर, स्पेगेटी, पिज्जा और ब्रेडेड, फ्राइड मीट में अंडे के पाउडर का इस्तेमाल होता है। कुछ विशेषज्ञ कैल्शियम की खुराक के नियमित सेवन को हतोत्साहित करते हैं और हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए उनके लाभों पर संदेह करते हैं। वे इस बात से भी चिंतित हैं कि कैल्शियम के अधिक सेवन से स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं, जैसे कि गुर्दे की पथरी, और संभावित रूप से हृदय रोग का खतरा बढ़ जाता है।

इसे भी पढ़ें : सर्दियों में सेहत के लिए अमृत के समान हैं हल्दी से बनी ये 7 ड्रिंक्‍स, जानें बनाने के तरीके और फायदे

अंडे के छिलके को इस्तेमाल करने के नुकसान-Side effects of eating egg shells

जब सही तरीके से तैयार किया जाता है, तो अंडे का पाउडर सुरक्षित माना जाता है। बस कुछ बातों का ध्यान रखना आवश्यक है। सबसे पहले, अंडे के टुकड़े के बड़े टुकड़ों को निगलने का प्रयास न करें क्योंकि वे आपके गले और अन्नप्रणाली में फंस सकते हैं। इसलिए अंडे को पाउडर में पीस लें। दूसरा, एगल्हेल्ड बैक्टीरिया से दूषित हो सकते हैं, जैसे इसमें साल्मोनेला एंटरिटिडिस नाम का बैक्टीरिया हो सकता है।

इसके लिए आप अंडो को अच्छे से उबालें और तभी इसका प्रयोग करें। हालांकि, अंडे के छिलकों में इन विषाक्त तत्वों की मात्रा अन्य प्राकृतिक कैल्शियम स्रोतों की तुलना में कम होती है। 

Read more articles on Healthy-Diet in Hindi

Disclaimer